Skip to content Skip to navigation

न्‍यूज विंग साप्‍ताहिक समाचार पत्र का 35वां अंक बूक स्‍टॉल पर

रांची: न्‍यूज विंग साप्‍ताहिक का 35वां अंक बुक स्‍टॉल पर पहुंच चुका है। इस अंक की मुख्‍य रिपोर्ट है, झारखंड के खूंटी में नक्‍सलियों की फिर से दस्‍तक। पुलिस महकमा ने अभी पिछले दिनों यहां दस उग्रवादियों/नक्‍सलियों को आत्‍मसमर्पण करवाया था।

न्‍यूज विंग साप्‍ताहिक समाचार पत्र का 25वां अंक बूक स्‍टॉल पर

न्‍यूज विंग साप्‍ताहिक समाचार पत्र का 25वां अंक बुक स्‍टॉल पर पहुंच चुका है। इस अंक की कवर स्‍टोरी है: महुआ माजी के उपन्‍यास 'मैं बोरिशाइल्‍ला' पर सवाल?' वरिष्‍ठ साहित्‍यकार डा श्रवणकुमार गोस्‍वामी ने पाखी पत्रिका में एक लेख लिखकर इस उपन्‍यास पर सवाल उठाया है कि इसका मूल लेखक कौन है?

न्‍यूज विंग साप्‍ताहिक समाचार पत्र का 23वां अंक बूक स्‍टॉल पर

रांची: न्‍यूज विंग साप्‍ताहिक समाचार पत्र का 23 वां अंक बुक स्‍टॉल पर पहुंच चुका है। यह अंक खास तौर पर संताल परगना के 'पैनम कोल कंपनी' विवाद पर केंद्रीत है। बाबूलाल मरांडी ने पैनम के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। कांग्रेस भी साथ में। मरांडी का आरोप है भाजपा पैनम को सह दे रही है। मरांडी का आरोप है कि प

न्‍यूज विंग साप्‍ताहिक समाचार पत्र का 22वां अंक बुक स्‍टॉल पर

रांची: न्‍यूज‍ विंग साप्‍ताहिक समाचार पत्र का 22वां अंक बुक स्‍टॉल पर पहुंच चुका है। इस अंक के कवर पेज पर हैं कमल मंडल। कमल मंडल वही जिन्‍होंने सर पर मैला उठाने वाली प्रक्रिया के विरोध में रांची में जबरदस्‍त आंदोलन छेड़ा था। बाद में उच्‍च न्‍यायालय के हस्‍तक्षेप पर सरकार को बाध्‍य होकर उन असहाय प

न्‍यूज विंग साप्‍ताहिक समाचार पत्र का 21वां अंक बूक स्‍टॉल पर

रांची: न्‍यूज विंग साप्‍ताहिक समाचार पत्र का 21वां अंक बुक स्‍टॉल पर पहुंच चुका है। अंक का मुख्‍य आकर्षण है झारखंड के पूर्व मुख्‍य सचिव डा ए के सिंह का इंटरव्‍यू। सेवानिवृत मुख्‍य सचिव सिंह झारखंड की बदहाली के लिए लचर प्रशासनिक व्‍यवस्‍था को कारण मानते हैं। मंत्री से लेकर निचले स्‍तर तक के अधिकार

न्‍यूज विंग साप्‍ताहिक समाचार पत्र का 20वां अंक बूक स्‍टॉल पर

रांची: न्‍यूज विंग का 20वां अंक बूक स्‍टॉल पर पहुंच चुका है। अंक का कवर स्‍टोरी है, झारखंड सरकार को लेकर सहयोगी दलों में तकरार। 28 28 महीनों पर शिबु सोरेन द्वारा सत्‍ता मांगे जाने के सवाल पर भाजपा परेशान। मुख्‍यमंत्री की चुप्‍पी पर झारखंड विकास मोर्चा के सुप्रीमों बाबूलाल मरांडी ने कहा : शिबु अगर

न्‍यूज विंग साप्‍ताहिक समाचार पत्र का 19वां अंक बूक स्‍टॉल पर

रांची: न्‍यूज विंग साप्‍ताहिक समाचारपत्र का 19वां अंक बुक स्‍टॉल पर पहुंच चुका है। अंक के प्रमुख शीर्षक हैं:
1. बंधु का अगला टारगेट ?.. - मांडर विधायक बंधु तिर्की एक दबंग विधायक के रूप में पहचाने जाते हैं। मामला आदिवासियों के हित का हो तो किसी भी हद तक जाते देखे गए। कई बार जमीन विववाद मामलों में भूखंडों पर पहुंच सरना झंडा गाड़ना, चहारदीवारी ढ़हा देना, निर्माण कार्य रूकवा देना जैसी घटनाओं पर उनके खिलाफ दर्जनों मामले लंबित हैं। लेकिन, अब बंधु ने पैंतरा बदला है। पिछले सप्‍ताह वह स्‍थानीय एसएआर (शिड्युल्‍ड एरिया रेगुलेशन) कोर्ट पर धमक दी। वहां के प्रभारी अफसर अनुप शरण के चैंबर में घुसकर अंदर से दरवाजा बंद कर लिया। जमकर डांट फटकार सुनायी। कहा जा रहा है कि उन्‍होंने अफसर को कान पकड़कर उठक बैठक तक करवायी। पूरी घटना पर न्‍यूज विंग ने सीधा बंधु तिर्की से बात की। क्‍यों करते हैं यह सब? आगे क्‍या योजना है.. आदि।

न्‍यूज विंग साप्‍ताहिक समाचार पत्र का 18वां अंक बूक स्‍टॉल पर

रांची: न्‍यूज विंग, साप्‍ताहिक समाचार पत्र, का 18 अंक बुकस्‍टॉल पर पहुंच गया है। इस अंक में खास रिपोर्ट है 'स्‍वरोजगार के दरवाजे'। न्‍यूज विंग ने घोषणा की है कि हर हफ्ते झारखंड के बेरोजगारों के लिए स्‍वनियोजन पर एक खास खंड प्रस्‍तुत करेगा, जिसमें तमाम अप्रसारित सरकारी योजनाओं का जिक्र होगा जिससे

न्‍यूज विंग साप्‍ताहिक समाचार पत्र का 16वां अंक बूक स्‍टॉल पर

रांची: झारखंड में विस्‍‍थापन और पुनर्वास एक बड़ी समस्‍या रही है। राज्‍य सरकार ने नई पुनर्वास नीति की घोषणा की है। लेकिन, क्‍या वह नीति वास्‍तव में लाभार्थियों के पुनर्वास में सहयोगी होगी?

न्‍यूज विंग साप्‍ताहिक समाचार पत्र का 15वां अंक बूक स्‍टॉल पर

रांची: न्‍यूज विंग का 15 वां अंक बूक स्‍टॉल पर पहुंच चुका है। इस अंक की कवर स्‍टोरी है: कौन मंत्री उकसा रहा है पारा शिक्षकों को, बता रहे हैं शिक्षा मंत्री बैधनाथ राम..

Pages

loading...