Sports

एशियाई युवा मुक्केबाजी: भारतीय महिलाओं को पांच स्वर्ण, पुरुषों को दो रजत

Ulaanbaatar (Mongolia) :  फाइनल में जगह बनाने वाली भारत की पांचों महिला मुक्केबाजों ने रविवार को यहां एशियाई युवा मुक्केबाजी चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता जबकि पुरुषों ने दो रजत पदक हासिल किये. नाओरेम चानू (51 किग्रा), विंका (64 किग्रा), सनामाचा चानू (75 किग्रा), पूनम (54 किग्रा) और सुषमा (81 किग्रा) ने स्वर्ण पदक जीते.

पुरुष वर्ग में सेलाय साय (49 किग्रा) और अंकित नरवाल (60 किग्रा) को फाइनल में हार के साथ रजत पदक से संतोष करना पड़ा.

इसे भी पढ़ेंः #AyodhyaCase सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ अयोध्या मामले पर पुनर्विचार याचिका दायर करेगा जमीयत

भारत ने प्रतियोगिता में कुल 12 पदक जीते. अरुणधति चौधरी (69 किग्रा), कोमलप्रीत कौर (81 किग्रा से अधिक), जास्मिन (57 किग्रा), सतेंदर सिंह (91 किग्रा) और अमन (91 किग्रा से अधिक) ने कांस्य पदक जीते.

भारत के लिए दिन की शुरुआत सेलाय ने की जिन्हें फाइनल में कजाखस्तान के बाजरबे उलु मुखामेदसेफी के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा. नरवाल भी इसके बाद जापान के रेइतो सुतसुमे से हार गये.

इसे  भी पढ़ेंः #JharkhandElection : भ्रष्टाचार के आरोपी भानूप्रताप को टिकट क्यों? जावड़ेकर का जवाब- सरकार की बात करें, उम्मीदवारों की नहीं

पूनम ने चीन की वेइकी काइ को हराकर भारत के स्वर्ण पदकों का खाता खोला जबकि सुषमा ने कजाखस्तान की बाकितझानकिजी को हराकर सोने का तमगा अपने नाम किया.

नाओरेम चानू ने फाइनल में कजाखस्तान की अनेल बर्किया को हराया. विंका ने चीन की हेनी नुआताइली को हराकर चौथा स्वर्ण पदक भारत की झोली में डाला जबकि सनामाचा चानू ने उज्बेकिस्तान की नवबखोर खामिदोवा को हराकर देश के लिए पांचवां स्वर्ण पदक जीता.

इसे भी पढ़ेंः #jharkhandElection: कांके, बोकारो में कांग्रेस उम्मीदवार पर मंथन, बदले जा सकते हैं प्रत्याशी!

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: