Skip to content Skip to navigation

Interview

Interviews of Different Personalities

'मैं अब भी मोदी की पत्नी हूं' - यशोदाबेन

जिस शख्स को वह अपना 'पति' कहती हैं, वह भाजपा की ओर से पीएम पद के दावेदार हैं और इस साल ‌राजनीति का प्रमुख चेहरा बनकर उभरे हैं. लेकिन 62 वर्षीय रिटायर्ड स्कूल टीचर जशोदाबेन राजनीति की उठापटक से कोसों दूर सन्नाटे में जिंदगी बसर कर रही हैं.

पार्टी ने कहा तो तैयार है पीएम पद की उम्मीदवारी के लिए: राहुल गांधी

नई दिल्ली: राहुल गांधी ने परोक्ष रूप से कह दिया है कि यदि उन्हें कांग्रेस पार्टी प्रधानमंत्री पद की जिम्मेदारी देती है, तो वह इसका निर्वहन करने के लिए तैयार हैं। इसी के साथ उन्होंने यह भी साफ कर दिया कि उनकी बहन प्रियंका वाड्रा के चुनावी राजनीति में उतरने की कोई संभावना नहीं है।

अब देश को चाहिए नई चुनाव प्रणाली, जनता ही चुने पीएम सीएमः बाबूलाल मरांडी

झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी मानते हैं कि जनता हमेशा बेहतर विकल्प के इंतजार में रही है। अच्छे लोग उसकी समस्याओं के लिए सड़क पर आयें तो जनता साथ देती है। गांधी, जेपी, वीपी से लेकर अब ‘आप’ का उदय इसी बात को फिर से प्रमाणित कर रहा है। भाजपा से अलग होकर झारखंड में झाविमो (झारखंड विकास मोर्चा) बनानेव

योगेंद्र यादव होंगे हरियाणा के मुख्यमंत्री उम्मीदवार : कुमार विश्वास

नई दिल्ली: दिल्ली में सरकार बनाने के बाद आम आदमी पार्टी (आप) की नजर अब हरियाणा विधानसभा चुनाव पर है, जहां पार्टी अपने विचारक योगेंद्र यादव को मुख्यमंत्री का उम्मीदवार बनाएगी। पार्टी नेता कुमार विश्वास ने यह जानकारी दी। विश्वास खुद लोकसभा चुनाव में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ अमेठी में

क्षेत्रीय दलों से मुक्ति पाइये!

(इंटरव्यू : झारखंड भाजपा अध्यक्ष डा रवीन्द्र राय)

- अलग अलग दलों से जुटे असंतुष्टों का जमावड़ा बाबुलाल की पार्टी झाविमो,

- नाकामियां छिपाने का (स्थापना) ‘पखवारा’,

- हक डीसी, बीडीओ का, मंत्री मुख्यमंत्री बांट रहे परिसंपत्तियां!

बाहरी भाषाओं का अतिक्रमण अब बर्दास्त नहीं!

" जहां इनका (भोजुपुरी और मगही) उदगम स्थल है, बिहार, जो कभी उत्तरी बिहार कहा जाता था.. आजतक वहीं इनको सरकारी स्तर पर कोई मान्यता नहीं मिली.. वहां इस आधार पर अभी तक कोई नियुक्ति नहीं हुई, न ऐसा कोई पाठ्यक्रम है वहां.. तो फिर झारखंड में किस सोच के तहत इसे टेट में शामिल कर लिया गया?! "

झारखंड मेरे लिए एक लैबोरेट्री, अवसर मिला तो देश को देंगे मॉडेल

झाविमो (झारखंड विकास मोर्चा) आनेवाले चुनावों के लिए कमर कस चुकी है। अपने दम खम पर चुनाव लड़ने की मंशा है। पार्टी सुप्रीमो बाबुलाल मरांडी दो टूक कहते हैं, हम गैरभाजपा और गैरकांग्रेस के हिमायती हैं। इन दोनों दलों से न राज्य का भला होगा और न देश का। वैसे, मरांडी अपनी पूरी राजनीति प्रदेश में केंद्रीत कर रहे हैं। वह कहते हैं, झारखंड मेरे लिए जनसमस्याओं के समाधान की एक लैबोरेट्री है। मैं खुद को इसका एक साइन्टिस्ट मानता हूं।

'मैं झारखंड को कुछ देने आया हूं, लेने नहीं।'

झारखंड में ‘नथवाणी’ अब कोई नया नाम नहीं है। राज्यसभा सांसद बनने के बाद, पांच वर्षों में आपने अपने नाम को स्थापित कर दिया है। आपके बारे में कई तरह की बातें आती रहती हैं। हम सबकुछ आपकी जुबान से सुनना चाहते हैं और वही लोगों को बताना भी चाहते हैं.. आज आप सबसे बड़ा उद्यम घराना, अंबानी ग्रूप से जुड़े हैं। क्या आपका पारिवारिक इतिहास भी धनाढ़्य घराने का रहा है?

यह सब राजनीतिकों की ओर से 'डिवाईड एंड रूल' है केवल! - कार्डिनल टोप्‍पो

यह कुछ राजनीतिकों का खेल है.. डिवाईड एंड रूल.. आखिर चुनाव जो सामने है!

Pages

Subscribe to RSS - Interview

मुंबई: मैक्सिम पत्रिका द्वारा किए गए सर्वेक्षण में दीपिका पादुकोण मैक्सिम हॉट 100 में पहले पायदान...

New Delhi: While many wait for the monsoon season to arrive, mucky roads and gloomy weather have...

अनीस बज्मी की मुबारकन अपनी रिलीज के करीब पहुंच रही हैं, और उत्साह को मंथन करने के लिए मुबारकन का...

डर्बी (इंग्लैंड): क्या आप जानते हैं कि महिलाओं के विश्व कप टूर्नामेंट का आयोजन पुरुषों के विश्व क...

loading...