today's top nw news

चुने हुए प्रतिनिधियों को काम करने का अधिकार भी मिले : आजसू

Publisher NEWSWING DatePublished Fri, 04/20/2018 - 19:35
Ranchi : नगर निकाय चुनाव के नतीजे आने के बाद आजसू ने त्‍वरित प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त कर सभी जीते हुए प्रत्याशियों को बधाई एवं शुभकामनायें दी हैं. आजसू के केंद्रीय प्रवक्‍ता डॉ देवशरण भगत ने बयान जारी कर कहा है कि राज्य में पहली बार दलगत रूप से नगर निकाय चुनाव संपन्न हुआ नगर निकाय क्षेत्र में विकास को गति मिलेगा. चुने हुए जनप्रतिनिधियों को जनता की अकांक्षाओं के अनुरूप कार्य करने के लिए अधिकार भी मिलना चाहिए. साथ ही आजसू प्रवक्‍ता ने सभी उम्मीदवारों को धन्यवाद दिया है. उन्होंने कहा है कि जीत और हार कार्य करने के लिए प्रेरित करता है. हम हमेशा जनता के मुद्दों के साथ उनके बीच रहकर सेवा और संघर्ष करें.

ग्राम सड़क योजना : जिन कंपनियों के खिलाफ की गई थी CBI जांच की अनुशंसा, उन्‍हीं को विभाग ने दिया फिर से काम

Publisher NEWSWING DatePublished Thu, 04/19/2018 - 21:02
Ranchi: झारखंड सरकार के ग्रामीण कार्य विभाग के द्वारा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अधूरे निर्माण के लिए जिन एजेंसियों के खिलाफ सीबीआई जांच की अनुशंसा की थी, अब उन्‍ही कंपनियों पर फिर से भरोसा करते हुए अधूरी सड़क को पूरा कराये जाने की तैयारी की जा रही है. साथ ही उन जवाबदेह एजेंसियों के खिलाफ न तो कोई कानूनी कार्रवाई की जा रही है और ना ही जुर्माना लगाया जा रहा है. फरवरी 2018 में ग्रामीण विकास विभाग ने अधूरी सड़कों के लिए जिम्‍मेवार मानते हुए केंद्र सरकार के उपक्रम नेशनल प्रोजेक्ट्स कंस्ट्रक्शन कॉरपोरेशन (एनपीसीसी), हिन्दुस्तान स्टील कंसट्रक्शन लि. (एचएससीएल) एवं इरकॉन व अन्य के विरुद्ध सीबीआई जांच की अनुशंसा की थी. ग्रामीण विकास विभाग की अनुशंसा को सही मानते हुए तत्‍कालीन मुख्‍य सचिव राजबाला वर्मा ने फाइल को सीएम के पास भेज दिया था. इस मामले पर जानकारी देते हुए ग्रामीण विकास विभाग के सचिव अविनाश कुमार ने बताया कि संबंधित कंपनियों के कार्यकलाप की समीक्षा की गई है और वित्‍त सचिव के स्‍तर पर भी इसकी समीक्षा की गई है. इस समीक्षा के बाद मई 2018 से उन अधूरी सड़क परियोजनाओं पर फिर से काम शुरू हो जायेगा.

नगड़ी पीडीएस में डीबीटी : मंत्री ने कहा नियमों में एकरूपता ना होने से योजना सफल नहीं, केंद्र सरकार को जानकारियों से कराएंगे अवगत

Publisher NEWSWING DatePublished Thu, 04/19/2018 - 18:37
Ranchi: बुधवार को हेमंत सोरेन के नगड़ी दौरे के कुछ देर के बाद ही यह अफवाह उड़ी कि खाद्यान्न वितरण मामले में डीबीटी फेल होने की वजह से डीबीटी व्यवस्था राज्य सरकार वापस ले लेगी. जबकि ऐसा करना राज्य सरकार के बस में है ही नहीं. केंद्र सरकार की पायलट प्रोजेक्ट पीडीएस में डीबीटी देश के करीब-करीब हर राज्य में शुरू की गयी. केंद्र की तरफ से जब यह निर्देश झारखंड को मिला तो राज्य के दो प्रखंडों का चयन सरकार की तरफ से किया गया. इनमें गोला और ओरमांझी प्रखंड शामिल थे. लेकिन जल्दबाजी में और रांची से पास होने के कारण नगड़ी प्रखंड को चुना गया. मामले को लेकर अर्थशास्त्री ज्यां द्रेज ने भी आपत्ति दर्ज करायी थी. जिसके बाद उन्होंने विभाग को एक रिपोर्ट सौंपी. रिपोर्ट को विभाग ने केंद्र सरकार को भेज दिया.

शिक्षा सचिव ने कहा- संख्या बल के आधार पर सरकार को डराएं नहीं पारा शिक्षक, संघ ने कहा- मांग पूरा करने पर ध्यान दें शिक्षा सचिव, धमकाएं नहीं

Publisher NEWSWING DatePublished Thu, 04/19/2018 - 18:25
Ranchi : राज्य भर के पारा शिक्षक पांचों प्रमंडल से चलकर रांची पहुंचने वाले हैं, इसके लिए पदयात्रा पर हैं. पदयात्रा के तीसरे दिन आज कोडरमा से चलकर निकली टीम अपनी यात्रा ईचाक से आगे बढ़ायी, वहीं दक्षिणी छोटानागपुर प्रमंडल से निकली पारा शिक्षकों की टोली आज सिसई से आगे बढ़ी. अन्य तीन प्रमंडलों के पारा शिक्षक भी अपनी मांग को लेकर तत्परता के साथ मांगें मनवाने आगे बढ़ रहे हैं. विदित हो कि पारा शिक्षक योजनाबद्ध तरीके से आंदोलन को आगे बढ़ा रहे हैं. 23 अप्रैल से रांची में वे मुख्यमंत्री आवास का अनिश्चितकालीन घेराव करेंगे.

एससी-एसटी एक्ट : झारखंड सरकार दायर करेगी पुनर्विचार याचिका

Publisher NEWSWING DatePublished Thu, 04/19/2018 - 18:00
Ranchi : एससी-एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर झारखण्ड सरकार पुनर्विचार याचिका दायर करेगी. इसके लिए मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर करने का आदेश दिया है. तर्क दिया गया है कि झारखण्ड अनुसूचित जनजाति/अनुसूचित जाति बहुल्य प्रदेश है. तथा यहां एससी-एसटी एक्ट प्रावधानों के अन्तर्गत वादों में निहितार्थ झूठ नहीं मिलते हैं. इसको ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री रघुवर दास ने गृह विभाग को निर्देश दिया है कि राज्य सरकार अपना पक्ष रखने के लिए सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर करे. सुप्रीम कोर्ट द्वारा क्रिमिनल वार 416/2018 डॉ. सुभाष काशीनाथ महाजन बनाम महाराष्ट्र राज्य सरकार एवं अन्य में 20 मार्च 2018 को पारित न्याय निर्णय की कंडिका 83 में एससी-एसटी एक्ट पर कई दिशा-निर्देश जारी किये गए हैं.

निधि खरे ने कहा- मातृ-शिशु मृत्यु दर को शून्य करेगी सरकार, रेफर होते ही बड़े अस्पतालों को मरीजों के बारे मिलेगी सूचना

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 04/18/2018 - 20:59
Ranchi : स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की प्रधान सचिव निधि खरे ने कहा है कि झारखंड में कोई भी प्रसूता इलाज के अभाव में दम नहीं तोड़ेगी. नवजात बच्चों की मृत्युदर को भी शून्य किया जाएगा. प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से सदर अस्पताल और मेडिकल कॉलेज अस्पताल में रेफर होने वाली गर्भवती महिलाओं को जरुरत के हिसाब से फौरन चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी. जिससे इनका उपचार समय पर होगा. मरीजों को बड़े अस्पताल रेफर करने के फौरन बाद कॉल सेंटर को पूरी जानकारी दी जाएगी. जिससे इनका इलाज बगैर देरी के शुरू करने में आसानी होगी.

जैसे-जैसे डिजिटल हो रहे लोग, वैसे-वैसे हाईटेक हो रहे साईबर अपराधी, खाते से हो जा रही निकासी, खाताधारक को पता भी नहीं

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 04/18/2018 - 19:25
Ranchi : एक ओर सरकार लोगों को डिजिटल बनाने की बात कर रही है, वहीं दूसरी तरफ साईबर अपराधी राज्य में चेक का क्लोन बनाकर लोगों के खाते से रुपए की निकासी कर ले रहे हैं. अपराधी इतने शातिर हैं कि हाईटेक तकनीक से दूसरों के अकाउंट से पैसे निकाल ले रहे हैं और अकाउंट होल्डर को खबर भी नहीं लगती. आये दिन ग्राहकों के अकाउंट से धोखाधड़ी से रुपये निकल जाते हैं. कुछ दिन पहले ही अरगोड़ा थाना क्षेत्र स्थित हरमू हाउसिंग कॉलोनी की रहने वाली महिला कांति सिंह की कंपनी के नाम पर हरमू एसबीआई शाखा से 14,90,118 रुपये की निकासी कर ली गई. मामले को लेकर अरगोड़ा थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी गई है.

कोडरमा: बीफ परोसे जाने के शक में हिंसक हुई भीड़, बस्ती पर हमला-21 गाड़ियों को फूंका

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 04/18/2018 - 11:14
Koderma: कोडरमा में शादी समारोह में बीफ परोसे जाने के शक में भीड़ हिंसक हो गयी. और जिस घर में बीफ परोसे जाने को लेकर सूचना मिली थी, वहां हमला कर दिया. इस दौरान बेकाबू हुई भीड़ घर के मुखिया की जान लेने पर अमादा दिखी. आक्रोशितों लोगों ने पूरे बस्ती को निशाना बनाया और कई घरों में तोड़फोड़ और आगजनी की गयी. इस दौरान करीब 21 गाड़ियों में आग लगाने की खबर है.

राय यूनिवर्सिटी झारखंड अपने छात्रों के भविष्य के साथ कर रही खिलवाड़, लेटरल एडमिशन का नहीं है प्रावधान, जानने के बावजूद कराया जा रहा नामांकन

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 04/17/2018 - 22:02
Ranchi : राय यूनिवर्सिटी झारखंड पूरी तरह से शिक्षा का व्यवसायीकरण कर रहा है. व्यवसाय के नाम पर छात्रों के करियर के साथ खिलवाड़ कर रहा है. विवि नियम के विरुद्ध जाकर छात्रों को लेटरल इंट्री के माध्यम से नामांकन अपने विवि में करा रहा है. प्रावधान पर ध्यान दें तो राय यूनिवर्सिटी झारखंड अपने विवि में किसी भी कोर्स के लिए लेटरल इंट्री के तहत नामांकन नहीं करा सकता. पूर्व के छात्रों को विवि द्वारा जारी डिग्री से अन्य कॉलेज में नामांकन नहीं मिल पाया था. इसको देखते हुए पूर्व में भी उच्च शिक्षा एवं तकनीकी विभाग ने आदेश  जारी करते हुए इस कॉलेज के छात्रों के अन्य कॉलेजों में हुए नामांकन को निरस्त करने को कहा था. इसके बावजूद विवि छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहा है.

कठुआ और उन्नाव गैंगरेप के बाद भाजपा के प्रति लोगों में आक्रोश, मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में बीजेपी नेताओं के बैन का बैनर टंगा

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 04/17/2018 - 17:05
Varanashi : कठुआ और उन्नाव गैंगरेप के मामले के बाद जनता में भारी आक्रोश है. लोगों का आक्रोश अब बैनर-पोस्टर के माध्यम से बाहर निकल रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में कुछ दिन पहले एक बैनर देखा गया जिसमें लिखा था कि इस मुहल्ले में बच्चियां और महिलाएं रहती है. यहां भाजपा नेता और कार्यकर्ताओं का आना मना है. बीजेपी नेताओं और कार्यकर्ताओं पर बैन से जुड़े बैनर की सूचना पर पुलिस हरकत में आयी और सभी जगहों से बैनर और पोस्टर को हटवाया गया. पुलिस मामले की जांच कर रही है.
loading...
Loading...