Skip to content Skip to navigation

Opinion

Article by our Columnists

बीसवीं सदी में राजीव गांधी ने देखा था 21वीं सदी के भारत का सपना (जयंती पर विशेष)

फ़िरदौस ख़ान

Share

जश्न-ए-आज़ादी या एक दिन की छुट्टी

News Wing अल्पना झा: 15 अगस्त 1947 भारतीयों के लिए एक बहुत ही खास दिन है क्योंकि इसी दिन वर्षों की गुलामी के बाद ब्रिटिश शासन से भारत को आजादी मिली थी. हजारों लोगों की कुर्बानियों और शहादत का प्रतीक है यह दिन.

Share

क्यों हम बेटियों को बचाएं

डॉ नीलम महेंद्र

यह कैसी व्यवस्था है जहां अपने अधिकारों की बात करना एक "हिम्मत का काम" कहा जाता है. हम एक ऐसा देश क्यों नहीं बना सकते जहां हमारी बेटियां भी बेटों की तरह आजादी से जी पाएं ?

Share

जीवंत आदिवासी समाज की उपेक्षा क्यों ?

गणि राजेंद्र विजय-- लंबे समय से गुजरात में अादिवासियोंं के हितों को लेकर काम कर रहें हैं. अंतर्राष्ट्रीय अादिवासी दिवस पर देश में अादिवासियोंं की सामाजिक, अार्थिक अौर शैक्षणिक हालात बता रहे हैं. 

Share

फ्लाइ अोवर निर्माण से नहीं होगा बहुत फायदा

झारखंड सरकार शहर को जाम मुक्त करने के उद्देश्य से हरमू रोड समेत कुछ और स्थानों पर फ्लाइ ओवर्स का निर्माण कराने जा रही है. जैसे ही इन फ्लाइ ओवर्स के बनने की खबर आई, अख़बारों में भी इससे जुड़ी खबरें और जनता के सुझाव आने शुरू हो गये.

Share

नवाज शरीफ : कहीं ‘अदालती’ तख्ता पलट तो नहीं !

श्रीनिवास :-राजनीति में और सत्ताधारियों के भ्रष्टाचार से हम इतना चिढ़े रहते हैं कि उनमे से किसी को कैसे भी प्रताड़ित किया जाये, हम खुश हो जाते हैं. इसी तरह.

Share

"चोटी" के पीछे "चोर" या पुरुषवादी "चाल" ?

नीतू कुमारी, पत्रकार:- उत्तर प्रदेश के आगरा में 65 साल की एक दलित महिला मान देवी की सरेआम पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। मामला ज़मीन-ज़ायदाद के विवाद या पारिवारिक झगड़े का नहीं था. मामला जातिगत लड़ाई या वर्ग-संघर्ष का भी नहीं था.

Share

किसानों की आत्महत्या : अब यह झारखंड का भी सच है

श्रीनिवास

कल तक किसानों द्वारा की जा रही आत्महत्या हमारे (झारखंड-बिहार के लोगों) के लिए दूर की खबर होत

Share

ऐसे निपट सकते हैं न्यूक्लियस मॉल के सामने के जाम से

रांची के नए नगर आयुक्त ने तीन दिन में अपने नगर प्रबंधक से रिपोर्ट मांगी हैं कि 'न्यूक्लियस मॉल के सामने जाम क्यों लगता है'. रिफॉर्म रांची के राजेश दास यहां कुछ सुझाव दे रहें हैं. रांची की ट्रैफिक व्यवस्था पर वह लंबे समय से काम कर रहे हैं.

Share

जीरो टॉलरेंस वाले नीतीश बाबू की बेदाग छवि !

सोशल मीडिया पर नीतिश कुमार की छवि को लेकर कई तरह के सवाल उठ रहे हैं. आरोप लग रहे हैं. आरोप गंभीर हैं. नीतीश की बेदाग छवि बनाने के लिए सोशल मीडिया पर मेन स्ट्रीम मीडिया को भी जिम्मेदार बताया जा रहा है. हम यहां सोशल मीडिया पर वायरल कुछ तथ्यों को रख रहे हैं.

Share

आपको यह सब नहीं दिखता नीतीश जी?

नरोत्तम मिश्रा कोर्ट में आरोप साबित हो गए हैं. विधायकी चली गई है. बहुत बदनामी हो रही है. लेकिन मंत्री पद पर जमे हुए हैं.

सुषमा स्वराज ने ललित मोदी सहायता की. उनकी बेटी ललित मोदी की वकील हैं. सुषमा ने इस भगोड़े के लिए सिफारिशी चट्ठिी लिखी थी.

Share

हिंदू राष्ट्रवाद से जुड़ा है डोकलाम सीमा विवाद

अर्णब एन. सेनगुप्ता
जम्मू एवं कश्मीर तथा पूर्वोत्तर में भूटान के डोकलाम से लगी चीन की सीमा से आ रही तकरार की खबरें केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार की नीतियों और कार्रवाई का नतीजा हो भी सकती हैं, और नहीं भी.

Share

Pages

Subscribe to RSS - Opinion

News Wing
Mumbai, 19 August: बॉलीवुड अभिनेत्री प्रीति जिंटा ने डिजाइनर जोड़ी शेन और फाल्गुन...

News Wing
New Delhi, 20 August: अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने साधारण शक्ल-सूरत होने के बाव...

News Wing
Ranchi, 18 August: अगर आप बरसात के मौसम को खूब पसंद करती हैं, लेकिन इस मौसम में प...