offbeat

भगत सिंह को पाकिस्तान का सर्वोच्च वीरता पदक ‘निशान-ए-हैदर’ देने की मांग

Submitted by NEWSWING on Fri, 01/19/2018 - 13:15

Lahore: स्वतंत्रता सेनानियों को निर्दोष साबित करने के लिए काम कर रहे पाकिस्तान के एक संगठन नेभगत सिंह को देश का सर्वोच्च वीरता पदक निशान ए हैदरदिये जाने की मांग की है.

मिस्र की चार हजार वर्ष पुरानी ममियों के रहस्य से उठा पर्दा

Submitted by NEWSWING on Wed, 01/17/2018 - 16:59

London: अगली पीढ़ी की डीएनए सीक्वेंसिंग की मदद से दो भाइयों की प्रसिद्ध ममी के बारे में शोधकर्ताओं ने पता लगाया है कि उनके पिता अलग-अलग व्यक्ति थे और वे दोनों सौतेले भाई थे. ये ममी 1800 ईसा पूर्व की हैं.

बचपन में हुए शोषण और दुर्व्यवहार के किशारोवस्था में हो सकते हैं हानिकारक नतीजे, सामाजिक रिश्तों पर पड़ सकता है असर

Submitted by NEWSWING on Wed, 01/17/2018 - 16:29

Washington : जिन बच्चों को जिंदगी की शुरुआत में ही शोषण का सामना करना पड़ता है और जिनकी अनदेखी की जाती है उन्हें किशोरावस्था में सामाजिक रिश्तों और अकादमिक क्षेत्र में दिक्कतों का सामना करने की अधिक आशंका होती है. शोधकर्ताओं ने पाया कि पांच साल से कम की आयु में बच्चों से ठीक तरह से व्यवहार न होने का उन पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है जिसका असर बाद में करीब तीन दशकों तक भी देखा जा सकता है.

झारखंड का एक मात्र जिला जहां सब्जियों के दाम बिकता है काजू

Submitted by NEWSWING on Sun, 01/14/2018 - 17:54

Jamtara : जब बात ड्राई फ्रूट्स की हो तो जेहन में सबसे पहले काजू का नाम आता है. साथ ही इसकी कीमत भी दिमाग में घूमने लगती है.

क्या आपके बॉस का भी बदलता है बार-बार मूड, तो हो जाइये सावधान

Submitted by NEWSWING on Thu, 01/04/2018 - 18:06

London : क्या आप अपने बॉस के हर पल बदलते मूड से परेशान हैं? क्या आपका बॉस पल-पल में अपना मूड बदल लेता है. क्या आपका बॉस कभी नाराज होता है और कभी जरूरत से ज्यादा खुश तो इसपर आप हैरान हो जाते होंगे. लेकिन घबराइये नहीं क्योंकि अब इस पर एक नया अध्ययन आया है.

युवाओं में बढ़ी परफेक्शनिज्म की प्रवृत्ति, इस इच्छा का मानसिक स्वास्थ्य पर पड़ता है नाकारात्मक असर

Submitted by NEWSWING on Wed, 01/03/2018 - 14:15

London : शरीर, दिमाग और करियर सभी में दक्षता की इच्छा यानी परफेक्शनिज्म का भाव कॉलेज जाने वाले आज के दौर के छात्रों में उल्लेखनीय ढंग से बढ़ा है. पिछली पीढ़ियों से तुलना करने पर यह बात सामने आई है. लेकिन परफेक्ट होने की इच्छा का उनके मानसिक स्वास्थ्य पर नकारात्मक असर पड़ता है. एक शोध में यह बात सामने आयी है. ब्रिटेन में यूनिवर्सिटी ऑफ बाथ के थॉमस कुर्रान के मुताबिक परफेक्शनिज्म के संबंध में सामूहिक रूप से पीढ़ियों के अंतर का पता लगाने वाला यह अपनी किस्म का पहला शोध है.

अतुल गेरा, जिनके लिए ‘रक्तदान महादान’ सिर्फ एक वाक्य नहीं बल्कि जीने का मकसद है

Submitted by NEWSWING on Mon, 01/01/2018 - 20:14

Kumar Gaurav

Ranchi: वैसे तो किसी भी इंसान की कोई तुलना नहीं होनी चाहिए. हर इंसान किसी न किसी तरह सबों से भिन्न होता है. पर कई ऐसे लोग भी होते हैं जो अतुलनीय होते हैं. ऐसे ही एक नेकदिल इंसान हैं अतुल गेरा. रांची में स्वास्थ्य परेशानियों से जूझ रहे मरीजों के लिए ये एक मसीहा हैं. न जानें कितनी जानें इनके जुनून के वजह से बच गयी हैं.

loading...
Loading...