Skip to content Skip to navigation

Lifestyle

Articles on Lifestyle, Societies

सही एसेसरी के बिना अधूरा है आपका लुक

नई दिल्ली: कई बार अच्छे कपड़े पहनने पर भी आपका लुक सही एसेसरी के बिना अधूरा रहता है. यहां तक कि अगर आपने साधारण परिधान पहने हैं, तो भी एसेसरी आपको आकर्षक लुक देते हैं. आजकल कैंडी कलर की जूलरी और चोकर के आकार की जूलरी काफी चलन में हैं.

फिट रहने के लिए मानसून में करें डांस वर्कआउट

नई दिल्ली: फिटनेस कोई आदत नहीं, बल्कि जीवनशैली है. इसके लिए प्रतिबद्धता और समर्पण की जरूरत होती है. इसलिए मानसून में भी फिटनेस के प्रति अपने जुनून को कम न होने दें. विशेषज्ञों का कहना है कि घर के अंदर ही हल्का वर्कआउट कर आप खुद को फिट रख सकते हैं.

आपकी कार में हो सकते हैं हानिकानक प्रदूषक

न्यूयार्क, 23 जुलाई : अगर आप यह सोचते हैं कि किसी भारी प्रदूषित सड़क पर अगर आप अपनी कार के अंदर हैं तो सुरक्षित हैं तो यह आपकी भूल है.

तीज के मौके पर यूं दिखें दूसरों से अलग

नई दिल्ली, 13 जुलाई : महिलाओं की ख्वाहिश हमेशा ही सुंदर दिखने की होती है. अगर कोई खास दिन या त्योहार हो, तब तो इस मौके पर खूबसूरत दिखने के लिए वे कोई कसर नहीं छोड़तीं.

तीज के मौके पर यूं दिखें दूसरों से अलग

नई दिल्ली, 13 जुलाई : महिलाओं की ख्वाहिश हमेशा ही सुंदर दिखने की होती है. अगर कोई खास दिन या त्योहार हो, तब तो इस मौके पर खूबसूरत दिखने के लिए वे कोई कसर नहीं छोड़तीं.

95 फीसदी भारतीयों में मसूड़ों की बीमारी

नई दिल्ली: भारत में दांतों की समस्याओं को गंभीरता से नहीं लिया जाता है। हाल ही में किए गए एक अध्ययन से संकेत मिलता है कि लगभग 95 प्रतिशत भारतीयों में मसूड़ों की बीमारी है, 50 प्रतिशत लोग टूथब्रश का उपयोग नहीं करते और 15 वर्ष से कम उम्र के 70 प्रतिशत बच्चों के दांत खराब हो चुके हैं। इंडियन मेडिकल

दिल्ली वालों को लंदन, मुंबईकरों को बाली पसंद

नई दिल्ली, 19 जुलाई : भारतीय कहां घूमना पसंद करते हैं और कहां लंबी छुट्टियों का लुत्फ उठाना पसंद करते हैं, इस बारे में एयरबीएनबी ने देश (भारत) के यात्रा रुझान के बारे में जानकारी दी है।

मानसून में आभूषणों का यूं रखें ख्याल

नई दिल्ली: मानसून के मौसम में नमी और सीलन के चलते आभूषणों के काले पड़ जाने या खराब होने की संभावना ज्यादा रहती है। बारिश के इस मौसम में जड़ाऊ सोने के आभूषण गंदे हो सकते हैं या उन पर धूल जम सकती है। आभूषणों के साथ सिलिका पैकेट रख कर इन्हें नमी से बचाया जा सकता है। मानसून में आभूषणों को सुरक्षित रख

शाकाहार खिलाने से एयर इंडिया को 10 करोड़ रुपये बचने की उम्मीद

नई दिल्ली: एयर इंडिया की घरेलू उड़ानों के इकोनॉमी क्लास में अब सिर्फ शाकाहारी व्यंजन परोसे जाएंगे। विमानन कंपनी ने सोमवार को कहा कि इस कदम से उसे सालाना 10 करोड़ रुपये के बचत की उम्मीद है। कंपनी के एक वरिष्ठ यात्री के मुताबिक, यह कदम कंपनी द्वारा 90 मिनट की कम के उड़ान में मांसाहारी भोजन नहीं परो

सैनेटरी नैपकिन पर जीएसटी, आखिर इरादा क्या है?

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के व्यापारियों द्वारा विरोध के बावजूद इसे ऐतिहासिक बताकर लागू कर दिया, लेकिन विरोध अभी थमा नहीं है। महिलाएं भी जीएसटी को लेकर एक अलग तरह की लड़ाई लड़ रही हैं। उनकी लड़ाई मगर अधिकार और स्वच्छता से जुड़ी है।

'कुछ शारीरिक लक्षणों के प्रति पुरुष बरतें एहतियात'

नई दिल्ली: काम और जिंदगी के बीच संतुलन बनाए रखने की व्यस्तता के युग में महिलाओं की तुलना में पुरुषों को अपने स्वास्थ्य और फिटनेस को लेकर कम सजग देखा गया है। प्रीवेंटिव हेल्थकेयर स्पेशलिस्ट, इंडस हेल्थ प्लस के अमोल नायकवाडी ने कहा, "पुरुष सामाजिक संकोच के कारण कई बार डॉक्टर को दिखाने से बचते हैं।

कंगारू जैसी देखभाल नवजात मृत्यु दर घटाने में मददगार

नई दिल्ली: भारतीय महिलाएं अगर अपने नवजात शिशुओं की कंगारू के बच्चे की तरह देखभाल करें तो नवजात मृत्यु दर के आंकड़ों को कम किया जा सकता है। भारत में हर साल चार सप्ताह से भी कम उम्र के 7,50,000 नवजातों की मौत हो जाती है, जो किसी देश के आंकड़े से सबसे ज्यादा है।

मासिक धर्म शर्म की बात नहीं : ज्योति सेठी

नई दिल्ली: आर्थिक रूप से गरीब महिलाओं के बीच मासिक धर्म और सैनिटरी नैपकिन की जागरूकता फैलाने के इदगिर्द घूमती फिल्म 'फुल्लू' की अभिनेत्री ज्योति सेठी का कहना है कि मासिक धर्म कोई शर्म की बात नहीं है और समाज में इसे लेकर जागरूकता होनी जरूरी है। अभिषेक सक्सेना निर्देशित फिल्म 'फुल्लू' शुक्रवार को र

सावधानी, समझदारी से करें ऑनलाइन शॉपिंग

बदलते समय में हमारी खरीदारी करने का तरीका भी बदल गया है। प्रौद्योगिकी ने इसे इतना आसान कर दिया कि सब्जी से लेकर एयरकंडीशनर तक हम घर बैठे कम्प्यूटर पर बस एक क्लिक कर खरीद सकते हैं। इससे न सिर्फ हमारा समय बच रहा है, बल्कि बेकार की परेशानियों से भी निजात मिल गई है।

देश में महामारी का रूप ले रही थायरॉइड की बीमारी

सुधांशु चौहान (08:38)
नई दिल्ली, 7 जून (आईएएनएस)| भारत में थायरॉइड के मरीजों की संख्या किस कदर बढ़ रही है, इसका खुलासा हाल ही में डायग्नोस्टिक चेन एसआरएल द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट में हुआ है। रिपोर्ट के मुताबिक 32 फीसदी भारतीय थायरॉइड से जुड़ी विभिन्न प्रकार की बीमारियों की शिकार है।

आइडिया ने सर्वाधिक 4जी अपलोड स्पीड हासिल की : ट्राई

नई दिल्ली: पूरे भारत में ब्रॉडबैंड की पहुंच के साथ आइडिया सेलुलर ने मई महीने में सर्वाधिक अपलोड स्पीड हासिल की है। यह जानकारी ट्राई के माईस्पीड एप द्वारा दी गई। ट्राई के आंकड़ों के अनुसार, मई में आइडिया सेलुलर औसत अपलोड 4जी स्पीड में चार्ट में सबसे ऊपर रहा तथा इसकी अपलोड स्पीड 8.45 एमवीपीएस रही।

स्वास्थ्य, स्वच्छता के लिए हानिकारक हैं डिस्पोजेबल सैनिटरी नैपकिन

नई दिल्ली: जब भी कोई महिला डिस्पोजेबल सैनिटरी नैपकिन खरीदती है तो उसके दिमाग में लंबे समय तक चलने वाला, आरामदायक, दाग मुक्त और सस्ता होने की बात रहती है।

'परीक्षा में विफलता को सकारात्मक रूप में लें विद्यार्थी'

नई दिल्ली: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 12वीं की परीक्षा में इस बार कुल 82 प्रतिशत विद्यार्थी पास हुए हैं, यानी 18 प्रतिशत विद्यार्थी फेल। पास विद्यार्थियों में कुछ के अंक अच्छे और कुछ के बुरे भी हैं। लेकिन सबसे बुरी हालत उन 18 प्रतिशत की है, जो अगली कक्षा में जाने की चौकठ नहीं लां

ग्रेस मार्क्‍स प्रणाली विद्यार्थियों के नहीं, निजी विद्यालयों के हित में : विशेषज्ञ

नई दिल्ली: दिल्ली उच्च न्यायालय के आदेश के बाद केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के 12वीं कक्षा के नतीजे रविवार को मूल्यांकन की ग्रेस मार्क्‍स पद्धति के तहत घोषित किए जा रहे हैं। लेकिन ज्यादा संभावना है कि अब अगले सत्र से प्रश्न-पत्र मूल्यांकन प्रणाली से ग्रेस मार्क्‍स गायब हो जाएंगे। सरका

पर्वतारोहण अवसाद घटाने में मददगार

न्यूयॉर्क: मसल बनाने और करतब करने के अलावा बगैर रस्सी के सहारे पहाड़ों पर या दीवारों पर चढ़ने से अवसाद के लक्षणों को दूर करने में मदद किल सकती है। अमेरिका में यूनिवर्सिटी ऑफ एरिजोना में साइकोलॉजी की छात्र और इस अध्यय की एक अध्ययनकर्ता ईवा-मारिया स्टेलजर ने बताया, "पहाड़ों पर चढ़ना कई तरह से एक सक

ज्यादा उम्र में मां बनना गलत नहीं

नई दिल्ली: अधिक उम्र में मां बनने पर महिलाओं को कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ता है, लेकिन चिकित्सकों का कहना है कि 40 या इससे अधिक उम्र में मां बनना गलत विचार नहीं है।

विवाह पूर्व कुंडली मिलाएं, थैलेसीमिया से बचें

नई दिल्ली: थैलेसीमिया एक गंभीर बीमारी है और इससे केवल दो तरीके से रोका जा सकता है। शादी से पहले वर-वधु के रक्त की जांच हो, और यदि जांच में दोनों के रक्त में माइनर थैलेसीमिया पाया जाए तो बच्चे को मेजर थैलेसीमिया होने की पूरी संभावना बन जाती है। ऐसी स्थिति में मां के 10 सप्ताह तक गर्भवती होने पर पल

बच्चों को मोटापे से बचाता है समय पर सोना

न्यूयॉर्क: छोटी उम्र से ही नियमित दिनचर्या का पालन करने के बहुत से फायदे हैं। एक नए शोध में सामने आया है कि नियमित रूप से समय पर सोने, खाना समय पर खाने और एक निश्चित समय पर मनोरंजन हो जाने से प्री-स्कूली बच्चों का स्वास्थ्य बेहतर होता है। उनमें मोटापे की संभावना भी कम रहती है। अमेरिका के ओहियो स्

सेहत के लिए जीवनशैली बदलना चाहते हैं दिल्लीवासी

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में 99 प्रतिशत महिलाओं और 89 प्रतिशत पुरुषों की प्राथमिकता सेहत है और उन्हें लगता है कि स्वस्थ रहने के लिए जीवनशैली में बदलाव लाना चाहिए। मगर विरोधाभास यह है कि भारत की कुल आबादी के करीब 28 प्रतिशत लोगों को चिकित्सा की जरूरत है, फिर भी वे समय पर चिकित्सक से नहीं मिलते

स्तन कैंसर के सकारात्मक पहलू -जिजीविषा, आध्यात्म

कोलकाता: मन में स्तन कैंसर का ख्याल आते ही निराशा और नकारात्मकता का बोध होता है, भले ही इसकी दोहरी सर्जरी करा चुकीं हॉलीवुड सेलेब्रिटी एंजेलिना जोली का उदाहरण सामने हो या कुछ और। लेकिन कुछ रोगियों में स्तन कैंसर भी आश्चर्यजनक रूप से सकारात्मकता का संचार करता है।

पांच साल से बिस्तर पर थी, घुटना प्रत्यारोपण से चल पड़ी महिला

नई दिल्ली: जेपी हॉस्पिटल के ऑथोर्पेडिक्स और जॉइंट रिप्लेसमेंट विभाग के चिकित्सकों की टीम ने एक ऐसी महिला का सफल इलाज किया जो पिछले करीब पांच साल से बिस्तर पर ही लेटी रहती थी। अब घुटना प्रत्यारोपण के बाद महिला अपने पैरों पर चलने लगी है। 75 वर्षीय महिला उत्तरप्रदेश के मुजफ्फरनगर की रहने वाली है। जे

तेंदुलकर ने हैदराबादियों को बताई हेलमेट की अहमियत

हैदराबाद: भारत के दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर सड़क सुरक्षा के प्रति अपना समर्थन जताते आए हैं। ऐसे में उन्हें यहां के निवासियों को हेलमेट पहनने की अहमियत बताते देखा गया। एक मोटरबाइक पर सवार दो युवाओं ने सचिन को हैदराबाद में उनकी कार में बैठे देखा।

शिल्पा शेट्टी हैं पारुल चौधरी की फिट्नेस रोल मॉडल

मुंबई: टीवी धारावाहिक 'पिया अलबेला' की अभिनेत्री पारुल चौधरी, योग की बड़ी प्रशंसक और बॉलीवुड अभिनेत्री एवं फिट्नेस गुरु शिल्पा शेट्टी को अपना रोल मॉडल मानती हैं। पारुल ने एक बयान में कहा, "मैं 2003 से योग करती आ रही हूं। दरअसल इसकी शुरुआत नए वर्ष में एक संकल्प के तौर पर की थी, लेकिन मैंने पाया कि

Pages

Subscribe to RSS - Lifestyle

बेंगलुरू, 26 जुलाई: बैंगलौर फैशन वीक का 17वां संस्करण 3-6 अगस्त के बीच आयोजित किया जाएगा. एक बया...

New Delhi: While many wait for the monsoon season to arrive, mucky roads and gloomy weather have...

जयपुर: अभिनेता अक्षय कुमार की भूमिका वाली फिल्म 'टॉयलेट : एक प्रेमकथा' के निर्माताओं को यहां एक स...

मेड्रिड: दिग्गज स्पेनिश क्लब रियल मेड्रिड के सुपरस्टार क्रिस्टियानो रोनाल्डो का कहना है कि फुटबाल...