ST में शामिल करने की मांग को लेकर 23 व 29 अप्रैल को कुरमियों का बड़ा आंदोलन, सामने आया यह मतभेद

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 04/17/2018 - 18:45

Ranchi: आदिवासी सूची में शामिल होने के मकसद से दो अलग-अलग कुरमी संगठन दो अलग-अलग आंदोलन करने जा रहे हैं. आंदोलन के पीछे एक मकसद होते हुए भी दोनों संगठन में मतभेद दिख रहा है. पहला आंदोलन 23 अप्रैल को कुरमी विकास मोर्चा के झारखंड बंद का हैवहीं ठीक सात दिन बाद झारखंड कुरमी संघर्ष मोर्चा 29 अप्रैल को रांची के मोरहाबादी मैदान में 'कुरमी महाजुटानआयोजित करने जा रहा है. झारखंड कुरमी संघर्ष मोर्चा 23 अप्रैल के बंद से खुद को अलग रखा है.

इसे भी देखें- डॉ. ममता राय की मौत से हटेगा रहस्य का पर्दा : मामले की सीबीआई जांच के लिए केरल सरकार से अनुरोध करेगी झारखंड सरकार

23 अप्रैल को झारखंड बंद की तैयारी में जुटा कुरमी विकास मोर्चा

23 अप्रैल को झारखंड बंद को सफल बनाने के लिए कुरमी विकास मोर्चा शिद्दत से जुटा हुआ है. इसके लिए कुरमी विकास मोर्चा की कोर कमिटी पिछले कई दिनों से झारखंड के सभी जिलों के कुरमी बहुल इलाकों में कैंपेनिंग कर रही है. इस बारे में कुरमी विकास मोर्चा के मीडिया प्रभारी ने बताया कि 18 अप्रैल को संगठन की एक महत्‍वपूर्ण बैठक रांची में बुलाई गई है. इस बैठक में अध्‍यक्ष शीतल ओहदार के नेतृत्‍व में झारखंड बंद को सफल बनाने के लिए रणनीति तय की जायेगी.

इसे भी देखें- 30 साल पहले हुआ था जालिम नरसंहार, पीड़ितों की आंखों में आज भी नौकरी और मुआवजे का इंतजार

23 अप्रैल के बंद से झारखंड कुरमी संघर्ष मोर्चा को इत्तेफाक नहीं

इस बीच झारखंड कुरमी संघर्ष मोर्चा के प्रवक्‍ता राजाराम महतो ने कहा कि हम भी कुरमी को एसटी की सूची में शामिल करने की लड़ाई लड़ रहे हैं. इसके लिए हम 29 अप्रैल को 'कुरमी महाजुटानका आयोजन कर रहे हैं. इसमें झारखंड के सभी कुरमी विधायकसांसदपूर्व विधायकपूर्व सांसद और राजनीतिक नेता मौजूद रहेंगे. राजाराम महतो ने स्‍पष्‍ट तौर पर बताया कि कुरमी विकास मोर्चा के झारखंड बंद से हमारा कोई नाता नहीं है. कुल मिलाकर कहें तो दोनों कुरमी संगठनों का मकसद एक है, लेकिन आपसी मतभेद की वजह से इनकी राहें जुदा हो गई हैं. और आज एक-दूसरे से मतलब नहीं होने की बातें कर रहे हैं. 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

City List of Jharkhand
loading...
Loading...