टूट रहा है पूर्वी अफ्रीका, बदल जायेगा दुनिया का नक्शा,  नया महासागर लेगा जन्म !

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 04/02/2018 - 15:43

New Delhi :  दुनिया का नक्शा बदलने वाला है. लेकिन आपको चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है. क्योंकि इसमें लाखों वर्ष लगेंगे. हालांकि इसकी नींव पड़ चुकी है. वैज्ञानिकों का मानना है कि पूर्वी अफ्रीका टूट रहा है. कारण यह कि इस  महाद्वीप के पूर्वी हिस्से में विशालकाय 5000 किमी लंबी टेक्टॉनिक प्लेट बाउंड्री है, जो ईस्ट अफ्रीकन रिफ्ट सिस्टम की सतह की तरह है. यह अफ्रीकन प्लेट सोमालियन और नुबियन टेक्टॉनिक प्लेटों में बंटी हुई है. दोनों प्लेटें एक-दूसरे को दूर धकेल रही हैं.

चीन का हेवनली पैलेस द तियांगोंग-1 दक्षिण प्रशांत महासागर में गिरा और बिखर गया

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 04/02/2018 - 15:32

NewDelhi: आखिरकार चीनी स्पेस स्टेशन द तियांगोंग-1 यानी हेवनली पैलेस धरती पर आ गिरा. यह दक्षिण प्रशांत महासागर क्षेत्र में धरती के वायुमंडल में पहुंचा और बिखर गया. यह रिपोर्ट चीन और अमेरिकी अंतरिक्ष विज्ञानियों ने दी है. बता दें कि खगोलविज्ञानी जोनाथन मैकडॉवल ने ट्वीट किया कि द तियांगोंग-1 ने ग्रीनविच मानक समय के अनुसार सुबह आठ बजकर 16 मिनट पर धरती के वायुमंडल में प्रवेश किया. खबरों के अनुसार चीन के हेवनली पैलेस कहे जानेवाले स्पेस स्टेशन द तियांगोंग-1 के साथ धरती का संपर्क टूट गया था.

रविवार को धरती पर उल्कापात की तरह गिरेगा आठ हजार किलो वजनी चीन का हेवनली पैलेस

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 03/31/2018 - 16:22

New Delhi :  रविवार एक अप्रैल को अंतरिक्ष में भटक रहा आठ हजार किलो वजनी चीन का स्पेस स्टेशन तियांगोंग-1 , जिसे  हेवनली पैलेस कहा गया है,  धरती पर गिरेगा.  हालांकि अंतरिक्ष विज्ञानियों का कहना है कि यह किसी के ऊपर नहीं गिरने वाला. किसी को कोई नुकसान भी नहीं होगा.  इस संबंध में चीन के उच्चाधिकारियों का मानना है कि स्पेस लैब का वापस धरती पर आना शानदार शो की तरह होगा.  चायना मैंड स्पेस इंजीनियरिंग ऑफिस के अनुसार, स्पेस क्राफ्ट उस तरह धरती पर नहीं गिरते, जैसा फिल्मों में दिखाया जाता है और फिर बड़ा नुकसान होता है. कहा कि स्पेस क्राफ्ट धरती पर उल्कापात की तरह गिरते हैं.

 इसरो की अंतरिक्ष में एक और छलांग, GSAT-6A कम्युनिकेशन सेटेलाइट अंतरिक्ष में लांच

Publisher NEWSWING DatePublished Thu, 03/29/2018 - 18:13

 Shriharikota : इसरो ने गुरुवार को अंतरिक्ष की दुनिया में एक नया कदम रख दिया. चैन्‍नई के श्रीहरिकोटा के अंतरिक्ष प्रक्षेपण केंद्र से संचार सैटलाइट को सफलतापूर्वक अंतरिक्ष में लांच कर इसे कक्षा में स्थापित कर दिया गया.

जल्द आने वाला है गंध पहचानने वाला एक स्मार्टफोन ऐप

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 03/27/2018 - 17:02

Jerusalem : इस्राइल की एक कंपनी एक नया स्मार्टफोन ऐप और एक सेंसर विकसित कर रही है जो कि गंध की पहचान और विश्लेषण कर सकता है तथा यह इस तरह से लोगों को उनके अनुकूल उत्पाद का चयन करने में मदद करेगा.

इसे भी पढ़ें: जब 1968 में लद्दाख, सिक्किम, भूटान और नेपाल में छह बार उड़न तश्तरी आकाश में मंडरायी

जब 1968 में लद्दाख, सिक्किम, भूटान और नेपाल में छह बार उड़न तश्तरी आकाश में मंडरायी

Publisher NEWSWING DatePublished Thu, 03/22/2018 - 15:46

Nw desk :  अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने पृथ्वी जैसे सात नये ग्रह ढूंढने का दावा किया हैइन ग्रह में से तीन पर जीवन की संभावनाओं से इनकार नहीं किया जा सकता है. नासा ने ट्वी़ट कर इस बारे में जानकारी दी है. इससे पहले कई बार यूएफओ (Unidentified flying object) मिलने के दावे किये जा चुके हैं.

क्या सूर्य से निकलने वाली उर्जा धरती का विनाश करेगी? नासा कर रहा है शोध 

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 03/20/2018 - 15:33

 Nw desk :  अमेरिकी का नेशनल एयरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्‍़ट्रेशन (नासा) सूर्य को लेकर एक ऐसे शोध में जुट गया हैजो धरती के भविष्य की जानकारी देगा.

नासा की खोज : अंतरिक्ष में एक साल रहे, तो शक्ल-सूरत बदल जायेगी 

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 03/17/2018 - 17:55

Nw desk : अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने दावा किया है कि अंतरिक्ष में अगर आप एक साल रहेंगे, तो आपकी शक्ल-सूरत के साथ-साथ जीन में भी बदलाव होगा. नासा ने यह बात दो जुड़वां भाइयों पर रिसर्च करने के बाद कही है.

देश में 5जी,  आईओटी के क्षेत्र में सिरमौर बनना है,  तो बुनियादी तंत्र विकसित करना होगा : दूरसंचार सचिव

Publisher NEWSWING DatePublished Fri, 03/16/2018 - 17:31

 New delhi  :  इंटरनेट ऑफ थिंग्स( आईओटी) एवं 5 जी जैसी नयी तकनीक के क्षेत्र में सिरमौर बनने की भारत की आंकाक्षाओं की पूर्ति बुनियादी तंत्र विकसित करने और औद्योगिक वातावरण तैयार करने की क्षमता पर निर्भर करेगी.

अप्रैल में धरती पर गिरने वाला है चीन का 8000 किलो वजनी स्पेस स्टेशन,  जद में भारत भी आयेगा

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 03/13/2018 - 17:40

Beijing :  धरती पर अप्रैल माह में एक खतरा आनेवाला है. बताया गया है कि चीन के 8000 किलो  धातु से बने एक स्पेस स्टेशन ने काम करना बंद कर दिया है और अप्रैल में अपनी ऑर्बिट यानी परिक्रमापथ से निकलकर धरती पर आ गिरेगा. इस स्पेस स्टेशन के नीचे दबकर धरती के कई हिस्से तबाह हो सकते हैं.

7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

हजारीबाग डीसी तबादला मामला : देखें कैसे बीजेपी के जिला अध्यक्ष कर रहे हैं कन्फर्म  

न्यूज विंग की खबर का असर :  फर्जी  शिक्षक नियुक्ति मामले में तत्कालीन डीएसई दोषी करार 

बिजली बिल के डिजिटल पेमेंट से मिलता है कैशबैक, JBVNL नहीं शुरू कर पायी है डिजिटल पेमेंट की व्यवस्था

स्वीकार है भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की खुली बहस वाली चुनौती : योगेंद्र प्रताप

लाठी के बल पर जनता की भावनाओं से खेल रही सरकार, पांच को विपक्ष का झारखंड बंद : हेमंत सोरेन   

सुप्रीम कोर्ट का आदेश : नहीं घटायी जायेंगी एमजीएम कॉलेज जमशेदपुर की मेडिकल सीट

मैट्रिक व इंटर में ही हो गये 2 लाख से ज्यादा बच्चे फेल, अभी तो आर्ट्स का रिजल्ट आना बाकी  

बीजेपी के किस एमपी को मिलेगा टिकट, किसका होगा पत्ता साफ? RSS बनायेगा भाजपा सांसदों का रिपोर्ट कार्ड

आतंकियों की आयी शामतः सीजफायर खत्म, ऑपरेशन ऑलआउट में दो आतंकी ढेर- सर्च ऑपरेशन जारी

दिल्ली: अनशन पर बैठे मंत्री सत्येंद्र जैन की बिगड़ी तबियत, आधी रात को अस्पताल में भर्ती

भूमि अधिग्रहण पर आजसू का झामुमो पर बड़ा हमला, मांगा पांच सवालों का जवाब