National

#UddhavThackeray बोले, #Saffron मेरा पसंदीदा रंग, किसी लॉन्ड्री में धुलाई से नहीं जानेवाला

Mumbai :  महाराष्ट्र में कांग्रेस और राकांपा के साथ गठजोड़ कर मुख्यमंत्री बने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को कहा कि भगवा उनका पसंदीदा रंग है और यह किसी भी लॉन्ड्री में धुलाई से जायेगा नहीं. जान लें कि शिवसेना के कांग्रेस और राकांपा से हाथ मिलाने के बाद भाजपा उस पर निशाना साध रही है और हिंदुत्व को लेकर उसकी प्रतिबद्धता पर सवाल उठा रही है.

Jharkhand Rai

यहां मंत्रालय में मुख्यमंत्री के तौर पर कार्यभार संभालने के बाद संवाददाताओं से बाचतीत के दौरान एक सवाल के जवाब में ठाकरे ने रहस्यमय तरीके से कहा कि यह (भगवा) उनका पसंदीदा रंग है जो किसी भी लॉन्ड्री में धुलाई से जायेगा नहीं. मुख्यमंत्री से यह सवाल उनके द्वारा पहने गये भगवा रंग के कुर्ते के बारे में किया गया था.

मीडियाकर्मियों से बातचीत में ठाकरे ने यह भी कहा कि वह अनपेक्षित रूप से मुख्यमंत्री बने लेकिन वह इस जिम्मेदारी से भागना नहीं चाहते थे. उन्होंने अपने पूर्ववर्ती मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के उस बयान को लेकर उन पर तंज किया जिसमें भाजपा नेता ने कहा था, मैं फिर से आऊंगा (मुख्यमंत्री के तौर पर).  लेकिन मैंने यह घोषणा नहीं की थी कि मैं मुख्यमंत्री बनूंगा.

इसे भी पढ़े : #EconomicSlowdown : अर्थव्यवस्था की सेहत और खराब, जुलाई-सितंबर तिमाही में GDP ग्रोथ रेट गिरा, 4.5 प्रतिशत पर आया

Samford

वह पहले मुख्यमंत्री हैं जिसका जन्म मुंबई में हुआ

इस दौरान उद्धव ठाकरे के साथ उनके बेटे और विधायक आदित्य ठाकरे भी मौजूद थे. उद्धव ने कहा कि वह प्रदेश के ऐसे पहले मुख्यमंत्री हैं जिसका जन्म मुंबई में हुआ.  उन्होंने कहा कि वह शहर का विकास सुनिश्चित करने के लिए योजनाओं पर काम कर रहे हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार करदाताओं की एक-एक पैसे के लिए जवाबदेह होगी.

ठाकरे ने पत्रकारों के उस सवाल का भी सीधा जवाब नहीं दिया, जिसके तहत उनसे पूछा गया था कि क्या वह दक्षिण मुंबई स्थित मुख्यमंत्री के आधिकारिक निवास वर्षा में रहने जायेंगे.  दरअसल, अभी वह उपनगरीय बांद्रा स्थित अपने आवास मातोश्री में रह रहे हैं.  उन्होंने कहा कि लोगों से मिलने और उनकी समस्याओं के समाधान के लिए जो कुछ भी करना होगा,  वह करेंगे.

इसे भी पढ़े : #EconomicSlowdown : गिरती अर्थव्यवस्था पर मनमोहन सिंह बोले, किसानों, युवाओं, गरीबों पर विनाशकारी असर पड़ेगा

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: