चाइल्ड रेप केस में मौत की सजा का हो प्रावधान : मेनका गांधी 

Publisher NEWSWING DatePublished Fri, 04/13/2018 - 18:18

Chandauli :  महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने देश में लगातार बढ़ रहे दुष़्कर्म के मामलों पर चिंता जताई है. उ़न्होंने शुक्रवार को कहा कि उनका महिला एवं बाल विकास मंत्रालय कैबिनेट में इस बात जोर देगा कि  पीओसीएसओ (पॉस्को), यौन उत्पीड़न कानून में बदलाव लाकर बच्चों के दुष्कर्म मामले में मौत की सजा का प्रावधान हो. मेनका ने कठुआ व उन्नाव की घटना को लेकर देश भर में फैल रहे गु़स्से के संदर्भ में इस निर्णय की बात कही. उन्होंने कठुआ (जम्मू कश्मीर) में आठ वर्षीय नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म व हत्या तथा उन्नाव की घटना पर दुख जताया. 
 

इसे भी पढ़ें - उन्नाव गैंगरेप केस: जिस विधायक सेंगर के खिलाफ यूपी पुलिस को गिरफ्तारी के साक्ष्य नहीं मिले, वह CBI की गिरफ्त में

आप लोग चाहते हैं कि दो मिनट में कार्रवाई हो जाये 
मेनका गांधी ने पत्रकारों के सवालों की बौछार पर कहा कि आप लोग चाहते हैं कि दो मिनट में कार्रवाई हो जाये. साथ ही कहा कि इस मामले में राज्य सरकार कार्रवाई करेगी. उन्होंने कहा कि कानून में बदलाव कर 12 वर्ष से कम उम्र के नाबालिग के बलात्कारियों को फांसी की सजा देने का प्रावधान करने पर विचार कर रहे हैं. बता दें कि कठुआ जिले की मुसलिम बकरवाल समुदाय की आठ वर्षीय नाबालिग का अपहरण 10 जनवरी को हो गया था. उसे एक सप्ताह तक जिले के एक गांव में बंधक बना कर बेहोशी हालत में रखा गया था. 
 

इसे भी पढ़ें - वाह रे रांची पुलिस, पहले तो ढूंढा नहीं, हत्या के बाद अखबारों में विज्ञापन निकाल कर खोज रहे हैं अफसाना को

अपहरणकर्ताओं ने बार-बार उसके साथ दुष्कर्म किया   
अपहरणकर्ताओं ने बार-बार उसके साथ दुष्कर्म किया. बाद में उसकी मौत हो गयी. आरोपियों में पुलिस अधिकारी व रिटायर सरकारी अधिकारी शामिल बताये गये हैं. इस मामले में अब तक आठ लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. इस मामले में जम्मू कश्मीर की सीएम मेहबूबा मुफ्ती ने गुरुवार को घोषणा की कि उनकी सरकार नया कानून लाकर नाबालिग के साथ दुष्कर्म करनेवालों को मौत की सजा अनिवार्य करेगी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Top Story
loading...
Loading...