ममता के खिलाफ वाम दलों ने किया प्रर्दशन, कहा, लोकतंत्र की हत्या कर रही पश्चिम बंगाल सरकार

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 05/16/2018 - 20:43

Ranchi : पश्चिम बंगाल में नगर निकाय चुनाव के दौरान वामपंथी कार्यकताओं की निर्मम हत्या से वामदलों में खासा आक्रोश देखा जा रहा है. ममता सरकार के खिलाफ विरोध जताते हुए सभी वामदलों ने रांची के अल्बर्ट एक्का चौक पर जमकर नारेबाजी की. वक्ताओं ने कहा कि ममता सरकार राजनीतिक कार्यकताओं की सजिश के तहत हत्या करा रही है. सता में बने रहने के लिए ममता सरकार हर तरह का अमनवीय  कुकर्म कर रही है. देश में जो राजनीतिक हालात पैदा हो गए हैं, वहां सत्ता में बने रहने के लिए असंवैधनिक गतिविधियां भी चलाई जा रही हैं. जिसका वाम दल मिलकर मुकबला करेंगे.

इसे भी पढ़ें- मोदी सरकार के तीन साल पर किया गया नितिन गडकरी का दावा फेल, चौथी वर्षगांठ में भी रांची-टाटा हाईवे अधूरा  

वामदल एकजुट होकर करेंगे आंदोलन

ममता सरकार के विरोध में वाम तमाम वाम दल अब एकजुट होने लगे हैं. इस विरोध मार्च के दौरान सभी वामदल मौजूद रहे. वहीं सीपीआई नेता गोपीकांत बक्शी ने कहा कि पश्चिम बंगाल में वामपंथियों को चुनाव से पहले और चुनाव के बाद लगातार प्रताड़ित किया जा रहा है. जिन्होंने नॉमिनेशन किया था, उन्हें भी नॉमिनेशन वापस लेने की धमकी दी गई थी. वहीं वामपंथी कार्यकर्ताओं की निर्मम हत्या से साफ जाहिर हो रहा है कि पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार हत्यारी है. वही सुवेन्दु सेन ने कहा है कि पश्चिम बंगाल में निकाय चुनाव के दौरान लोकतंत्र की हत्या की जा रही है. राजनीतिक रूप से विरोधियों के प्रति मौत का तांडव रचा जा रहा है.यह तानाशाही की चरम सीमा है. विरोध मार्च में मौजूद खगेन्द्र ठाकुर ने कहा कि पश्चिम बंगाल में गुंडागर्दी हो रही है. जो परिस्थिति बनी हुई है उसके खिलाफ एकजुट होकर यह विरोध मार्च किया गया है. सभी वाम दलों ने ममता सरकार के खिलाफ एकीकृत होकर आंदोलन चलाने पर सहमति जतायी है.

इसे भी पढ़ें- मलय व अन्नराज जलाशय योजना का सीएम ने किया ऑनलाइन शिलान्यास, कार्यक्रम में ग्रामीणों को रसोई गैस देने के बहाने बुलाया  

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na