रामगढ़ : राजू हत्याकांड में शामिल तीन अपराधी गिरफ्तार, पिस्टल और बाइक बरामद

Publisher ADMIN DatePublished Sat, 12/16/2017 - 17:42
ram

Ramgarh : जिला के भुरकुंडा थाना क्षेत्र के सयाल में बीते नौ दिसंबर को स्याल में हुई राजू चौधरी की हत्या में शामिल छह में तीन अपराधियों को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार अपराधियों ने मामले में चौकाने वाला खुलासा किया है. उन्होंने पुलिस को बताया कि राजू की हत्या किसी और ने नहीं पांडेय गिरोह के ही मुख्य सूटर ने की थी. गिरफ्तार अपराधियों के पास से एक पिस्टल, गोली और एक बाइक बरामद किया गया है.

इसे भी पढ़ें- रामगढ़ के मांडू में 8 वर्षीय बच्ची के साथ दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

छह लोगों ने मिल कर की थी राजू की हत्या

यह जानकारी शनिवार को जिला के एसपी किशोर कौशल ने पुलिस कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में दी. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि बीते शनिवार की रात अपराधियों ने सयाल मार्केट में राजू चौधरी नाम के व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी थी. इस हत्याकांड में छह लोग शामिल थे. जिनमें से पुलिस ने 3 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार लोगों के पास से पिस्तौल और कारतूस भी बरामद किया गया है. वहीं हत्या में उपयोग की गई एक बाइक को भी बरामद किया गया है. राजू चौधरी को गोली मारने के दौरान मुख्य आरोपी प्रदीप पासवान को भी हाथ में गोली लगी थी. पुलिस अधीक्षक द्वारा गठित टीम ने शुक्रवार की देर रात को हत्या में शामिल तीन अपराधियों को धर दबोचा. पुलिस ने हत्या में शामिल मुख्य अभियुक्त प्रदीप पासवान, रॉकी सिंह एवं भोला पासवान को गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार अपराधियों के पुराने आपराधिक रिकॉर्ड भी है.

इसे भी पढ़ेंः सीएम के प्रेस सलाहकार अजय कुमार पर कार्रवाई, मोमेंटम झारखंड के बाद हुए एमओयू को लेकर लाया गया कार्यस्थगन प्रस्ताव

इसे भी पढ़ेंः सीएम ने कहा विपक्ष को मिर्ची लग रही है क्या, तो हेमंत ने कहा आप अधिकारियों के जाल में फंस चुके हैं, बाहर निकलें

पांडेय गिरोह में राजू का कद बढ़ने से परेशान था प्रदीप

इधर बताया जाता है राजू चौधरी से प्रदीप पासवान काफी परेशान था. राजू चौधरी कम समय में पांडेय गिरोह में खास बन गया था. राजू के लगातार बढ़ते कद से प्रदीप परेशान रहने लगा था. जिसके बाद प्रदीप ने बड़ा कदम उठाते हुए अपने साथियों के साथ मिलकर राजू की हत्या कर दी.

कांफ्रेंस में ये थे शामिल

पुलिस कार्यालय में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुख्यालय डीएसपी वीरेंद्र कुमार चौधरी, पतरातू क्षेत्र के सर्किल इंस्पेक्टर कमलेश पासवान, भुरकुंडा थाना प्रभारी विष्णुदेव चौधरी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ेंः बकोरिया कांड का सच-01ः सीआईडी ने न तथ्यों की जांच की, न मृतकों के परिजन व घटना के समय पदस्थापित पुलिस अफसरों का बयान दर्ज किया

इसे भी पढ़ेंः बकोरिया कांड का सच-02ः-चौकीदार ने तौलिया में लगाया खून, डीएसपी कार्यालय में हुई हथियार की मरम्मती !

इसे भी पढ़ेंः बकोरिया कांड का सच-03- चालक एजाज की पहचान पॉकेट में मिले ड्राइविंग लाइसेंस से हुई थी, लाइसेंस की बरामदगी दिखाई ईंट-भट्ठे से

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

City List of Jharkhand
loading...
Loading...