Skip to content Skip to navigation

स्वास्थ्य मंत्री के आवास पर कौन सी बीमारी का इलाज कर रहे हैं चार डॉक्टरः लालू यादव

News Wing

Patna, 12 August: तेजप्रताप यादव जब बिहार के स्वास्थ्य मंत्री थे तो उनपर सुशील मोदी ने गंभीर आरोप लगाए थे. आरोप था अपने पद का गलत इस्तेमाल करने का. सुशील मोदी ने बकायदा प्रेस कॉन्फ्रेंस बुला कर यह आरोप लगाया था कि तेजप्रताप अपने पिता की मामूली सी बीमारी के इलाज के लिए आईजीआईएमएस से चार डॉक्टरों को अपने सरकारी आवास पर बहाल कर रखा है. जबकि सूबे में आम जनता के लिए डॉक्टरों की घोर कमी है. अब वही आरोप राजेडी प्रमुख लालू यादव बिहार के नए स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे पर लगा रहे हैं.

क्यों नए-नए नियम बना रहे हैं मंत्री मंगल पांडेः लालू

लालू ने आरोप लगाया है कि आखिर मंगल पांडे को कौन सी बीमारी है कि उन्होंने अपने घर में चार सरकारी डॉक्टरों को बहाल कर रखा है. लालू यादव का कहना है कि मंगल पांडे के मंत्री बनने के बाद नए-नए नियम बन रहे हैं. लालू ने आरोप लगाया कि 1 अगस्त को 4 डॉक्टरों की नियुक्ति मंगल पांडे के सरकारी आवास के लिए की गयी है. उन्होंने कहा कि जब तेजप्रताप स्वास्थ्य मंत्री थे तो पीएमसीएच और तमाम अस्पतालों में 24 घंटे डॉक्टर तैनात रहते थे. लेकिन मंगल पांडे के मंत्री बनते ही नए-नए नियम बनने शुरू हो गए. 

बचाव में उतरे विनोद नारायण झा

लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण मंत्री विनोद नारायण झा मंगल पांडे के बचाव में उतरे हैं. उनका कहना है कि स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे के यहां जो डॉक्टरों की तैनाती की गयी है वो मंगल पांडे के लिए नहीं बल्कि उनके यहां आने वाले कार्यकर्ताओं के लिए है. श्री झा का कहना है कि मंगल पांडे के यहां बड़ी संख्या में कार्यकर्ता आते हैं. ऐसे कई लोग आते हैं जिनकी तबियत खराब रहती है.  उनके लिए ही डॉक्टरों की तैनाती की गयी है. 

 

Top Story
Share

UTTAR PRADESH

News WingGajipur, 21 October : उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में मोटरसाइकिल पर आए हमलावरों ने राष्ट्रीय स्...
News Wing Uttar Pradesh, 20 October: धनारी थानाक्षेत्र में पुलिस के साथ मुठभेड़ में एक इनामी बदमाश औ...
Website Designed Developed & Maintained by   © NEWSWING | Contact Us