Skip to content Skip to navigation

मसाज से कम करें अपना वजन

NEWSWING NEW DELHI, 7 AUGUST: प्रसव के बाद अधिकांश महिलाओं को वजन बढ़ने जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है, जो उनके लिए चिंता का कारण बन जाता है. लेकिन मालिश से इसे नियंत्रित किया जा सकता है, जो मांसपेशियों को आराम देता है और दर्द से राहत देता है. 'द हिमालया ड्रग कंपनी' की सुभाषिनी एन. एस (नैचुरल प्रोडक्ट इनोवेशंस, रिसर्च एंड डेवलपमेंट) और गाइनेकोलॉजिस्ट हेमा दिवाकर ने बच्चे के जन्म के बाद मसाज के कई फायदे बताए हैं.

- मसाज ढीली पड़ी त्वची में कसाव लाने में मददगार होता है.

- मसाज प्रसव बाद महिलाओं के शरीर के दर्द को दूर करता है और मांसपेशियों को पोषण प्रदान कर शरीर को स्वस्थ रखता है.

- मसाज शरीर में रक्त संचार के प्रवाह को सही बनाए रखता है और दूध बनने और तनाव दूर करने में सहायक साबित होता है.

- तिल और अरंडी का तेल विशेष रूप से प्रभावी होता है. तिल का तेल त्वचा में कसाव लाने और कोमल बनाने के लिए जाना जाता है.

- सुगंधित तेल जैसे लैंवेंडर तेल से मसाज करने से मन को सुकून मिलता है और आराम महसूस होता है.

- मसाज के अलावा पानी भी खूब पीएं, यह शरीर व त्वचा को नमी प्रदान करता है, पानी पीने से कैलोरी कम करने में मदद मिलती है और यह पेट के आसपास की ढीली त्वचा में कसाव लाने में भी सहायक होता है.

Share
loading...