Skip to content Skip to navigation

कतर से जुड़े आतंकवादियों के नामों की सूची जारी

रियाद: सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई), बहरीन और मिस्र ने मंगलवार को नौ संगठनों और नौ व्यक्तियों की एक नई सूची प्रस्तुत की, जिसे लेकर दावा किया गया है कि वे कतर द्वारा समर्थित और कथित रूप से आतंकवादी गतिविधियों में लिप्त हैं. समाचार एजेंसी एफे की रिपोर्ट के अनुसार, इन नामों का खुलासा 21 जुलाई को कतर के अमीर बिन हमद अल थानी के भाषण के जवाब में आया है, जिसमें उन्होंने कतर के दो मूल्यों -'गैर-हस्तक्षेप और बाहर से तय किए गए आदेशों की अस्वीकृति' का बखान किया था.

यह घोषणा तुर्की राष्ट्रपति रिसेप तईप एर्दोगन द्वारा रियाद, कुवैत और दोहा को यात्रा के अंत के बाद हुई है, जो 5 जून से शुरू हुए कतर संकट की मध्यस्थता करने के प्रयास के लिए यहां आए थे. सऊदी अरब की अगुवाई में संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन और मिस्र ने कतर के साथ पांच जून को अपने कूटनीतिक संबंध तोड़ दिए थे.

बयान के अनुसार, उपर्युक्त संस्थाओं और व्यक्तियों की आतंकवादी गतिविधियों का कतर के अधिकारियों के साथ प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष संबंध हैं. इस बयान में कतर से विशेष रूप से सूची में शामिल आतंकवाद व कट्टरवाद से संबंधित व्यक्तियों और संस्थाओं के खिलाफ जरूरी कदम उठाने और कानूनी कार्रवाई का आग्रह किया गया. बयान में चेतावनी दी गई कि यह चार देशों अपने मौजूदा उपायों को जारी रखेंगे और अगर कतर उनकी मांगों को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध नहीं होता है तो भविष्य में जरूरत पड़ने पर वह अधिक उपाय भी अपना सकते हैं.

चारों मध्यपूर्व देशों द्वारा प्रस्तुत इस सूची में तीन कतर और एक यूएई के व्यक्ति का नाम शामिल है, जिस पर कथित तौर पर अल-कायदा से संबंधित अल-नुसरा फ्रंट और अन्य आतंकवादी संगठनों की मदद के लिए पैसा जुटाने का आरोप है.

Top Story
Share
loading...