Skip to content Skip to navigation

न्यूज विंग के जागरूक पाठक अपनी समस्या, अपने आस-पास हो रही अनियमितता की तस्वीर या कोई अन्य खबर फोटो के साथ वाहट्सएप नंबर - 8709221039 पर भेजे. हम उसे यहां प्रकाशित करेंगे.

आदिवासियों के उत्थान के लिए 1200 करोड़ की योजना चल रही है: मुख्यमंत्री

लातेहार: मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि कहा कि हमारी सरकार कभी भी गरीबों की जमीन छिनना नहीं चाहती है बल्कि उनको उनका हक दिलाने के लिए नियम बनाए गये हैं। लेकिन विपक्षी की मंशा है कि इसका गलत प्रचार कर सीधे साधे आदिवासियों को गुमराह कर उन्हें झोपड़ी में ही जिदंगी गुजारने दे और राजनीतिक रोटी सेक कर वोट बैंक तैयार करें लेकिन हमारी सरकार कभी भी विपक्षी पाटियों की मंशा को पूरा नहीं होने देगी। वे सोमवार को लातेहार में आयोजित अनुसूचित जनजाति प्रतिनिधियों के प्रमंडलीय सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।
श्री दास ने कहा कि हमारी सरकार व मेरी जिदंगी का उदेश्य है कि योजनाओं को धरातल पर उतार कर गरीबों की बेरंग हो रही जिदंगी में खुशहाली लार्इ जाये। उन्होंने स्पष्ट कहा कि योजनाओं का लाभ अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए आम जनता की भागदारी जरूरी है। उन्होंने कहा कि सरकार आदिवासी समाज के लोगों के सर्वांगीण विकास को ध्यान में रखकर योजना बना रही है ताकि आदिवासी समाज गरीबी कीे जिदंगी से मुक्त हो सके।
उन्होंने कहा कि झारखंड राज्य अमीर राज्य है लेकिन इसकी गोद में गरीबी पल रही है। सरकार का उदेश्य सबका साथ-सबका विकास है । लेकिन यह सपना तभी संभव हो सकेगा जब यहां के लोग शिक्षित होगें । उन्होंने कहा कि प्रतिभाशाली होने के बावजूद भी युवक युवतियां पढ़ार्इ नहीं कर पाती है अत: सरकार ने बजट के माध्यम से गरीब बच्चों के पढ़ार्इ के लिए पचास करोड़ रूपये की योजना बनार्इ ताकि ॠण लेकर गरीब बच्चे अपनी पढ़ार्इ पूरी कर समाज को नयी दिशा दे सके। उन्होंने कहा कि सरकार जानती है कि शिक्षा से ही गरीबी को दूर किया जा सकता है। साथ ही आम आदमी में जागरूकता लार्इ जा सकती है। उन्होंने बताया कि प्रत्येक विद्यालय हेतु शिक्षक की नियुक्ति की जायेगी तथा प्रत्येक प्रमंडल में मेडिकल व इंजीनियरिग कॉलेज का निर्माण कराया जाएगा साथ ही मुख्यमंत्री सहायता योजना से भी गरीबों के बच्चों को पढ़ार्इ पूरी होगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री उद्यमी बोर्ड का गठन कर महिलाओं को विकास से जोड़ने का कार्य किया जा रहा है। साथ ही उद्यमी सखी का भी गठन भी शुरू किया जा रहा है वहीं आदिवासियों के उत्थान के लिए 1200 करोड़ की योजना चल रही है। जिसमें आठ सौ करोड़ रूपये सरकार वर्ल्ड बैंक से ॠण लिया है। उन्होंने बताया कि आदिवासी महिलाओं के उत्थान के लिए मुर्गी पालन के लिए चार लाख रूपये सरकार के माध्यम से दिया जाएगा। जिसमें एक लाख शेड निर्माण के लिए तथा तीन लाख का चूंजा खरीददारी के लिए दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पहले एनजीओ के माध्यम से कल्याण विभाग की योजनाएं संचालित हो रही थी। लेकिन अब लाभ्ाूक समिति ही खरीददारी करेंगी। इसे अगले बैठक में पारित कर दिया जाएगा।
श्री दास ने कहा कि जब से केन्द्र व राज्य में सरकार बनी हैं शहीदों को पूरा सम्मान दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि रांची में वीर सपूत नीलांबर-पीतांबर पार्क का निर्माण किया गया हैं। वही अन्य शहीदों के नाम से उनके पंचायत उनके जिले में प्रतिमा स्थापित की जा रही है। साथ गांव को गोद लेकर गांव का सम्पूर्ण विकास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि 2020 तक राज्य के प्रत्येक घर में बिजली,पानी,शिक्षा,स्वास्थ्य सभी मुलभ्ाूत सुविधाओं को पहुंचाना है। लेकिन यह तभी संभव होगा जब आम जनता की भी पूरी भागदारी सुनिश्‍चित होगी। साथ ही इस कार्य में कार्यकर्ता को भी पूरी र्इमानदारी से सरकारी योजनाओं का लाभ अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए कड़ी का काम करना होगा। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार पूरी तरह से भ्रष्ट शासन से राज्य को मुक्त कर देगी और एक स्वच्छ व सुंदर राज्य का निर्माण करेगी।
श्री दास ने कहा कि वर्ष 2022 तक तीस लाख घर का निर्माण करवा कर बेघर को घर देना है। जिसके लिए कार्य चल रहे है। उन्होंने बताया कि पूरे राज्य में बिजली की सुविधा मुहैया कराया जाएगा। लेकिन 247 गांव जहां बिजली नहीं पहुंच सकती वैसे गांवों में सोलर उर्जा के तहत लाइट पहुंचाकर उनके जिदंगी में प्रकाश फैलाया जाएगा। उन्होंने विकास के लिए ग्रामीण जनता को आगे आने की अपील की। उन्होंने कहा कि ग्रामीण अपनी मानसिकता में परिवर्तन लाकर अपने जिला व राज्य को विकास के पथ पर ले चले।
मुख्यमंत्री रघ्ाुवर दास ने कहा कि सरकार द्वारा विकास योजनाओं में ग्रामीणों से लिए जाने वाले जमीन के मुआवजा का भ्ाुगतान प्रशासन 90 दिनों के अंदर करें। इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दास्त नहीं की जायेगी। उन्होंने कहा कि सरकार विकास एवं कल्याणकारी कार्यों में किसी भी प्रकार की शिथिलता बर्दास्त नहीं करेगी। मौके पर मनिका विधायक हरिकृष्ण सिंह, सिमडेगा विधायक विमला प्रधान, मांडर विधायक गंगोत्री कुजूर सहित कर्इ लोग उपस्थित थे।

Share
loading...