Skip to content Skip to navigation

संसद का इस्तेमाल आत्म-प्रचार के लिए नहीं किया जा सकता : कांग्रेस

नई दिल्ली: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने शुक्रवार को कहा कि वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के क्रियान्वयन का समारोह आयोजित करने का कोई कारण नहीं बनता, क्योंकि देश नई कर व्यवस्था के लिए तैयार नहीं है और उन्होंने संसद में आधी रात को होने वाले समारोह को सरकार द्वारा आत्म-प्रचार करार दिया। शर्मा ने कहा, "सरकार द्वारा कार्यक्रम आयोजित करने का कोई कारण नहीं बनता। उन्हें यह समझना होगा कि क्या हर कोई वास्तव में इसके लिए तैयार है? यह एक गंभीर मुद्दा है, अतीत में कई मौकों पर सुधार हुए हैं, लेकिन इस तरह आधी रात में समारोह नहीं मनाया गया। संसद का इस्तेमाल प्रचार के लिए नहीं किया जा सकता।"

कांग्रेस पार्टी के कार्यालय के बाहर संवाददाताओं से शर्मा ने कहा कि अतीत में कई महत्वपूर्ण अवसर आए हैं, लेकिन इस तरह आधी रात में संसद में कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया गया।

शर्मा ने कहा, "सन् 1974 में भारत परमाणु शक्ति बना..सन् 1991 मे आर्थिक सुधार हुए, लेकिन इस तरह का कोई जश्न नहीं मनाया गया। संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार के कार्यकाल में शिक्षा व अन्य क्षेत्रों में कई सुधार हुए, लेकिन इस तरह का जश्न कभी नहीं मनाया गया।" उन्होंने कहा कि जीएसटी केवल एक कर है और इस तरह के जश्न की कोई जरूरत नहीं है।

कांग्रेस जीसएटी के लागू होने को लेकर संसद में आधी रात में होने वाले कार्यक्रम का बहिष्कार कर रही है।

Top Story

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में आरएवी फैशंस फैशन के नए ट्रेंड के साथ फैशन और लाइफस्टाइल एग्जीविश...

New Delhi: While many wait for the monsoon season to arrive, mucky roads and gloomy weather have...

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान ने संगीतकार प्रीतम चक्रवर्ती को गिटार भेंट किया और उन्हें आगामी...

मुंबई: राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारतीय महिला पहलवान गीता फोगाट का कहना है कि व...