Skip to content Skip to navigation

मप्र : पुलिस गोलीबारी में मारे गए किसानों के परिजनों से मिले शिवराज

भोपाल/मंदसौर/नीमच: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बुधवार से मंदसौर के दो दिवसीय प्रवास पर हैं। उन्होंने इस दौरान पुलिस गोलीबारी में मारे गए छह किसानों के परिजनों से मुलाकात की। शिवराज ने सभी से वादा किया कि सरकार उनके साथ है और दोषियों को दंडित किया जाएगा। मुख्यमंत्री चौहान राजकीय विमान से भोपाल से मंदसौर पहुंचे और उसके बाद वह वहां से बडवन गए, जहां उन्होंने घनश्याम धाकड़ के परिजनों से मुलाकात की। धाकड़ की किसान आंदोलन के दौरान पुलिस पिटाई से मौत हुई थी। धाकड़ के परिजनों में पुलिस को लेकर खासा नाराजगी है। चौहान ने परिजनों को भरोसा दिलाया है कि वे उनकी हर संभव मदद करेंगे।

मुख्यमंत्री चौहान ने इसके बाद ग्राम चिल्लौद पिपल्या के मृतक किसान कन्हैयालाल पाटीदार के घर पहुंचे और उन्हें भावभीनी श्रद्घांजलि दी। उन्होंने मृतक की पत्नी सुमित्रा बाई को आश्वस्त किया कि बेटी पूजा को सरकारी नौकरी दिलाई जाएगी। उन्होंने बेटे जितेन्द्र को भी ढांढस बंधाया।

मुख्यमंत्री ने मृतक के पिता धुरीलाल पाटीदार से कहा कि उनकी हर समस्या का समाधान किया जाएगा, मामले की न्यायिक जांच कराई जाएगी तथा दोषियों को दंडित किया जाएगा।

पाटीदार ने मुख्यमंत्री को बताया कि कुछ पुलिस वाले गांववालों को धमकाते हैं। मुख्यमंत्री ने उन्हें आश्वस्त किया कि किसानों को पूरी सुरक्षा मिलेगी, और यदि कोई उन्हें परेशान करेगा या धमकाएगा, तो उसके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

मुख्यमंत्री यहां से लोध ग्राम पहुंचे और मृत किसान सत्यनारायण के पिता मांगीलाल से भेंट की। मांगीलाल ने मुख्यमंत्री को बताया कि उसकी जमीन गिरवी है, तो शिवराज ने कहा कि जमीन छुड़वा दी जाएगी।

इसके बाद चौहान नीमच जिले के ग्राम नयाखेड़ा पहुंचे, जहां मृतक किसान चैनसुख पाटीदार को श्रद्घांजलि अर्पित कर उनके पिता गणपतलाल पाटीदार को सांत्वना दी। उन्होंने कहा कि सरकार उनके साथ है। "सरकार हर संभव मदद करेगी। कोई समस्या हो तो सीधे मुझसे बात कर सकते हैं। कभी भी सीएम हाउस आ-जा सकते हैं।"

मुख्यमंत्री चौहान यहां से पिपल्या मंडी पहुंचे, जहां कतिपय तत्वों द्वारा छह जून को उपद्रव कर जलाई गई दुकानों और मकानों के पीड़ितों से उन्होंने मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने पीड़ितों से कहा कि "सरकार हर घड़ी पीड़ितों के साथ है। सभी को समुचित मुआवजा दिलवाया जाएगा।" चौहान ने यहां सबसे पहले अनिल जैन की जली हुई कॉस्मेटिक्स की दुकान का मुआयना किया।

पिपल्यामंडी में मुख्यमंत्री ने पत्रकार कमलेश जैन के परिजनों से भी मुलाकात की। जैन की पिछले दिनों गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस मौके पर लोकसभा सांसद सुधीर गुप्ता, मल्हारगढ़ के विधायक जगदीश देवड़ा, देवीलाल धाकड़, जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक के अध्यक्ष मदनलाल राठौर एवं अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Top Story
Share

More Stories from the Section

UTTAR PRADESH

News WingLucknow, 16 October : समाजवादी पार्टी :सपाः अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज अपनी 55 सदस्यीय राष्ट...
News Wing Ayodhya, 14 October: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या में दीवाली मनाने अपने कैबि...
Website Designed Developed & Maintained by   © NEWSWING | Contact Us