Skip to content Skip to navigation

जंग की बात करने वालों को बंदूक देकर मोर्चे पर भेज दें : सलमान

मुंबई: फिल्म अभिनेता सलमान खान ने कहा है कि जो लोग जंग की हिमायत करते हैं, उनके हाथों में बंदूक थमा कर उन्हें सीमा पर तैनात कर देना चाहिए। उन्होंने कहा कि देशों के बीच युद्ध खुद ही खत्म हो जाएगा, अगर इसका ऐलान करने वालों को बंदूक थमाकर मोर्चे पर भेज दिया जाए।

सलमान ने कहा कि युद्ध समस्या का समाधान नहीं है। कोई भी मसला बातचीत से ही सुलझ सकता है।

सलमान की नई फिल्म 'ट्यूबलाइट' की पृष्ठभूमि में युद्ध है। वह आजकल इस फिल्म का प्रचार कर रहे हैं।

इस फिल्म की कहानी 1962 में हुए भारत-चीन युद्ध के आस-पास गढ़ी गई है।

सलमान ने मंगलवार को संवाददाताओं से कहा, "जो लोग किन्हीं दो देशों के बीच युद्ध चाहते हैं, उन्हें बंदूक थमाकर सबसे पहले लड़ने के लिए कहना चाहिए। ऐसा होते ही यह 'जंग' एक दिन में खत्म हो जाएगी। उनके हाथ और पैर कांपने लगेंगे..जंग थम जाएगी और वे सीधे वार्ता की मेज पर बातचीत के लिए पहुंच जाएंगे।"

कबीर खान निर्देशित फिल्म के बारे में सलमान ने बताया, "हमने फिल्म में भारत-चीन युद्ध की पृष्ठभूमि का इस्तेमाल किया है। हमने सिर्फ इस बिंदु को छुआ है कि जंग जल्द खत्म होनी चाहिए ताकि हमारे सैनिक अपने घर और उनके सैनिक अपने घर जा सकें। जब भी जंग होती है, दोनों तरफ के फौजी मरते हैं। कितने ही परिवार बिना बाप बिना बेटे के हो जाते हैं।"

फिल्म में सैनिक की भूमिका निभा रहे उनके भाई सोहैल ने कहा, "अगर आप किसी से भी पूछें कि युद्ध सही है या गलत तो कोई भी इसे सही नहीं ठहराएगा। जो भी संघर्ष है, टेबल पर हल होना चाहिए। युद्ध नकारात्मक है। कोई भी इसका समर्थन नहीं करेगा लेकिन यह हो रहा है और कोई नहीं जानता क्यों हो रहा है।"

Top Story
Share
loading...