Skip to content Skip to navigation

मजदूर दिवस: लातेहार के मजदूर मुख्यमंत्री को एक रूपया लौटा रहे हैं!

रांची/लातेहार: मजदूर दिवस के अवसर पर लातेहार में मजदूरों ने नरेगा मजदूरों के खिलाफ वर्तमान राज्‍य सरकार के नजरियेे की जोरदार भर्त्‍सना करते हुए सांकेतिक प्रदर्शन किया। मुख्‍यमंत्री के नाम पत्र जारी करते हुए मजदूरों ने वह एक रूपये सरकार को लौटाने की घोषणा की जो पिछले दिनों की उनकी मजदूरी में बढोतरी के नाम पर घोषणा की गई थी। पिछले वर्ष 2016 में इसी दिन मनरेगा में मामूली रूप से मजदूरी दर झारखण्ड राज्य में मात्र 5 रूपये बढ़ाये जाने से आक्रोशित मजदूरों ने विरोध स्वरूप देश के प्रधानमंत्री को 5-5 रूपये वापिस किये थे। इस वर्ष सरकार ने नरेगा में नरेगा मजदूरी सिर्फ 1 रूपये ही बढ़ार्इ है। मजदूरों का मानना है कि यह देश के करोड़ों मनरेगा मजदूरों के साथ एक धोखा है। एक तरफ राज्य के विधायकों के वेतन मद में 1.00 लाख से अधिक है और इसमें लगातार बढ़ोतरी की जा रही है, ऊपर से लग्जरी गाड़ी, शानदार बंगले व अन्य सुविधाएँ। वहीं हम मेहनतकश मजदूरों को सिर्फ 01 रूपये की बढ़ोतरी क्यों? मनरेगा में अत्यंत कम मजदूरी एवं मजदूरी भुगतान नहीं होने से मजदूरों की रूचि नरेगा के प्रति नकारात्मक होने लगी है।
मजदूरों का कहना है कि 'हम इतनी कम बढ़ी हुर्इ मजदूरी को लेकर बहुत चिंतित हैं। हमें लगता है कि सरकार के पास पैसे की कमी हो रही है, वरना नरेगा की मजदूरी कम से कम राज्य की न्यूनतम मजदूरी तक तो जरूर बढ़ती, (विदित हो कि झारखण्ड में अभी न्यूनतम मजदूरी 224 रूपये है) इससे कम मजदूरी देना पूरी तरह अन्याय और अवैधानिक है। कम से कम राज्य सरकार तो राज्य मद से न्युनतम मजदूरी का भुगतान कर ही सकती थी।'
मजदूर प्रतिनिधियों का कहना है कि 'हमें ऐसा लगता है कि हमसे ज्यादा राज्य सरकार को ही इस 01 रूपये की जरूरत है, आखिर सरकार के खर्च भी तो इतने सारे हैं। कम्पनियों को टैक्स व अन्य प्रकार की छूट देने और सस्ते दाम पर जमीन व अन्य संसाधन देने में भी तो सरकार का पैसा जाता होगा?
यह सब सोचते हुए हम नरेगा श्रमिकों ने व्यापक पैमाने पर सामूहिक निर्णय लिया है कि हम राज्य में बढ़ी हुर्इ नरेगा मजदूरी दर अर्थात् 1 (एक) रूपये सरकार को वापिस कर रहे हैं। आशा है कि हम सब मजदूरों द्वारा लौटाए गये पैसे से आप अपने कम्पनी मालिक दोस्तों व कर्मचारियों को और खुश कर पाएंगे। शुक्रिया। 'लातेहार में आयोजित इस प्रदर्शन के दौरान अर्थशास्‍त्री डॉ ज्‍यां द्रेज सहित कई सामाजिक कार्यकर्ता मौजूद थे।

नरेगा मजदूरों का लातेहार में प्रदर्शन की झलकियां : एक ऐल्‍बम
Slide

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में आरएवी फैशंस फैशन के नए ट्रेंड के साथ फैशन और लाइफस्टाइल एग्जीविश...

New Delhi: While many wait for the monsoon season to arrive, mucky roads and gloomy weather have...

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान ने संगीतकार प्रीतम चक्रवर्ती को गिटार भेंट किया और उन्हें आगामी...

मुंबई: राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारतीय महिला पहलवान गीता फोगाट का कहना है कि व...