Skip to content Skip to navigation

मोदी के दावों के विपरीत देश की अर्थव्यवस्था मंद : कांग्रेस

नई दिल्ली: कांग्रेस ने शनिवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दावों के विपरीत देश की अर्थव्यवस्था रुकी हुई है और देश में निवेश नहीं आ रहा। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के आंकड़ों का हवाला देते हुए कांग्रेस नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने कहा कि 2016-17 में बैंकों की साख में पांच फीसदी की वृद्धि हुई जो बीते 60 वर्षो में सबसे कम रहा, वहीं देश में बिजली उत्पादन में प्लांट लोड फैक्टर 60 फीसदी रहा, जो बीते 15 वर्षो में सबसे कम है।

जयराम रमेश ने कहा, "बैंकों की साख में पिछले 60 वर्षो में सबसे कम वृद्धि दर्ज की गई, प्लांट लोड फैक्टर पिछले 15 वर्षो में सबसे कम रहा, बीते वर्षो के दौरान संगठित क्षेत्रों में रोजगार सृजन भी सबसे कम रहा। मोदी सरकार के शुरुआत दो वर्षो के दौरान संगठित क्षेत्र में सिर्फ 4.4 लाख नौकारियां सृजित हुईं, जबकि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार के दूसरे कार्यकाल के शुरुआती दो वर्षो में 21 लाख लोगों को नौकरी मिली थी।"

उन्होंने कहा, "यह आंकड़े, जो सरकार ने ही जारी किए हैं, प्रधानमंत्री द्वारा बार-बार किए जाने वाले आर्थिक विकास के दावों को झूठा साबित करते हैं। मोदी यह दावा कर सकते हैं कि सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की विकास दर सात फीसदी रही, लेकिन अन्य आंकड़े दिखाते हैं कि देश की अर्थव्यवस्था रुकी हुई है।"

जयराम रमेश ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था को सबसे बड़ा खतरा निवेश में आई कमी से है और देश की आर्थिक समस्याओं का न तो मोदी और न ही उनके वित्त मंत्री अरुण जेटली के पास कोई जवाब है।

Top Story
Share
loading...