Skip to content Skip to navigation

मौद्रिक नीति घोषणा के बाद सेंसेक्स में 47 अंकों की गिरावट

मुंबई: आरबीआई द्वारा चालू वित्त वर्ष की पहली मौद्रिक नीति की घोषणा के बाद गुरुवार को देश के शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुए। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 46.90 अंकों की गिरावट के साथ 29,927.34 पर और निफ्टी 3.20 अंकों की गिरावट के साथ 9,261.95 पर बंद हुआ। बम्बई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 27.35 अंकों की गिरावट के साथ 29946.89 पर खुला और 46.90 अंकों या 0.16 फीसदी की गिरावट के साथ 29,927.34 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 29954.25 के ऊपरी और 29817.59 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के 30 में 13 शेयरों में तेजी, जबकि 17 में गिरावट दर्ज की गई। सर्वाधिक तेजी वाले शेयरों में प्रमुख रहे - टाटा स्टील (1.68 फीसदी), रिलायंस (1.66 फीसदी), बजाज ऑटो (1.46 फीसदी), पावर ग्रिड (1.26 फीसदी) और गेल (1.44 फीसदी)।

वहीं, आईटीसी (1.65 फीसदी), आईसीआईसीआई बैंक (1.40 फीसदी), स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (1.35 फीसदी), कोल इंडिया (1.16 फीसदी) और डॉ. रेड्डी (0.91 फीसदी) में सर्वाधिक गिरावट दर्ज की गई।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 19.35 अंकों की गिरावट के साथ 9,245.80 खुला और 3.20 अंकों या 0.03 फीसदी की गिरावट के साथ 9,261.95 पर बंद हुआ।

बीएसई के 19 सेक्टरों में से 9 सेक्टरों में तेजी रही। सर्वाधिक तेजी वाले सेक्टरों में प्रमुख रहे : रियल्टी (2.00 फीसदी), ऊर्जा (0.93 फीसदी), तेल एवं गैस (0.92 फीसदी), बिजली (0.65 फीसदी) और उपभोक्ता सेवाएं (0.48 फीसदी)।

वहीं, तेज खपत उपभोक्ता वस्तुएं (0.79 फीसदी), उपभोक्ता टिकाऊ वस्तुएं (0.64 फीसदी), स्वास्थ्य सेवाएं (0.63 फीसदी), दूरसंचार (0.59 फीसदी), बैंकिंग (0.21 फीसदी) और पूंजीगत वस्तुएं (0.21 फीसदी) में सर्वाधिक गिरावट रही

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में मिला-जुला रुख रहा। बीएसई का मिडकैप सूचकांक 20.99 अंकों की मजबूती के साथ 14276.54 पर और स्मॉलकैप 33.71 अंकों की गिरावट के साथ 14750.97 पर बंद हुआ।

बीएसई में कारोबार का रुझान सकारात्मक रहा। बीएसई के कुल 1,469 शेयरों में तेजी रही और 1,413 शेयरों में गिरावट दर्ज की गई, जबकि 137 शेयरों के भाव में कोई परिवर्तन नहीं हुआ।

Top Story
Share
loading...