Skip to content Skip to navigation

MP में व्यापम परीक्षाओं की विश्वसनीयता घटी है : सीएजी

भोपाल: भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (सीएजी) की रिपोर्ट में व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापम) की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए गए हैं और यह भी कहा गया है कि व्यापम की परीक्षाओं की विश्वसनीयता में गंभीर रूप से कमी आई है। मध्यप्रदेश विधानसभा में शुक्रवार को राज्य के वित्तमंत्री जयंत मलैया ने सीएजी के प्रतिवेदन (2016) को सदन के पटल पर रखा। इन प्रतिवेदनों में व्यापम की साख पर सवाल उठाए गए हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि व्यापम द्वारा जो परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं, उनकी विश्वसनीयता में गंभीर रूप से कमी आई है।

इतना ही नहीं, कहा गया है कि दो अधिकारियों डॉ. योगेश उपरीत (2003, कांग्रेस के कार्यकाल) और पंकज त्रिवेदी (2011, भाजपा के कार्यकाल) की नियुक्तियां मंत्रियों के आदेश पर हुई थी। ये दोनों अधिकारी विभिन्न मामलों में गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

सीएजी की रिपोर्ट में यह बात भी सामने आई है कि राज्य सरकार ने व्यापम का ऑडिट महालेखाकार से कराने में कभी भी दिलचस्पी नहीं ली है। सरकार (1983) ने सीएजी से ऑडिट यह कहते हुए नहीं कराया कि उनका कार्यालय व्यस्त रहता है, जबकि महालेखाकार के कार्यालय से कोई राय नहीं ली गई थी। सरकार ने स्थानीय स्तर पर ही ऑडिट करा लिया।

मुंबई: अभिनेत्री ऋचा चड्ढा की पहली पंजाबी फिल्म 'खून आली चिट्ठी' 25 अप्रैल को रिलीज होने की उम्मी...

मुंबई: राकेश ओम प्रकाश मेहरा की फिल्म 'मिज्र्या' से अपने करियर की शुरुआत करने वाली अभिनेत्री सैया...

अभिनेत्री श्रद्धा कपूर यू तो हर बार एक अलग किरदार में नज़र आती है और ऐसा ही एक अलग किरदार श्रद्धा...

दुबई: अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने गुरुवार को अपने नए वित्तीय मॉडल की घोषणा कर दी, जि...

Comment Box