Skip to content Skip to navigation

रविवार 19 मार्च 2017

रविवार 19 मार्च 2017: सँवत - 2073 शक -1938 ,हिजरी - 1438 , बँगाब्द - 1423, सँक्राति - मीन / चैत्र - 19 , जमादिउसानी -5 ,शिशिर - ऋतु , सुर्य - उत्तरायण ।

चैत्र , कृष्ण - पक्ष ,

तिथि- सप्तमी - रात -05 : 44 तक,

नक्षत्र - ज्येष्ठा - सोमवार सुबह - 6 : 50 तक ,

योग - सिद्धि ,

पर्व -त्योहार- शीतला सप्तमी

. राहुकाल - शाम 16 :06 से 17 :38 तक

दिशाशूल - पश्चिम जाना हो तो घी खाकर जाइए । -

राशिफल -मेष - माता को कष्ट। लोग धोखा दे सकते है। मन अशांत। धन दवा डॉक्टर पर खर्च। अशुभ स्थान को गमन। मन की बात सुने लाभ होगा।

वृषभ - धन की प्राप्ति झूठ न बोले। स्त्री के सलाह लेकर कार्य करें। नया वस्त्र अशुभ। संतान की चिंता। पौधे न लगवाएं। लाल चमकीला रंग अशुभ। पेन या पेन्सिल मुदत बांटे।

मिथुन - लेबर की समस्या। कार्यों में बाधा। ससुराल का सहयोग या उनसे मिल्न। नेत्र या दन्त पीड़ा हो सकती है। मन उदास। दही कातिलके करें लाभ होगा।

कर्क - कार्य बनेगे लेकिन धीरे धीरे। धन मिलेगा। स्त्री से अनबन। कमर दर्द। विदेशी उपहार न लें। केसर तिलक मान बढ़ाएगा।

सिंह - धन की प्राप्ति होगी और खर्च भी होगा। पिता को आर्थिक लाभ। मांस शराब का सेवन बहुत अशुभ। काम पर जाने से पहले मीठा पान खाये लाभ होगा।

कन्या - मन दोस्तों के साथ हास परिहास में लगे। आज राजसुख का योग है। मजदुर से झगड़ा न करें। सास बहु की नोंकझोंक। मोबाइल न खरीदें। प्यास ज्यादा लगे।

तुला - धन मिले घर बैठे। ईर्ष्या दोस्तों से दूर करेगी। कोई अपना ही नुक्सान देगा। नींद अच्छी आएगी। दुश्मन बढ़ेंगे। सरकारी जुरमाना लग सकता है। गले की तकलीफ।

वृश्चिक - जूठा न खाएं न खिलाएं। बढ़िया भोजन मिले। घर मेहमान आ सकते है। नीला रंग अशुभ। भाई या ताऊ को कष्ट। जुकाम से बचें।

धनु - धन व्यर्थ खर्च दिया धन नहीं मिलेगा। अंडा या अंडे से बानी वास्तु न खाये अन्यथा दवा खानी पद सकती है। किसी दावत का निमंत्रण मिल सकता है। किसी की गारन्टी न लें।

मकर - माता को कष्ट। जोश के साथ होश बनाये रखें। कुत्ते से सावधान।अपने सामान का ध्यान रखें। धन मिलने में संशय।

कुम्भ - दवा डॉक्टर से सम्बन्ध बने। आर्थिक नुक्सान हो सकता है। न कर्ज लें न दें। लिया हुवा उतरेगा नहीं दिया, हुवा मिलेगा नहीं। सफाई कर्मचारी को चाय नाशता कराएं लाभ होगा।

मीन - धन मिलेगा यात्रा न करें अन्यथा नुक्सान। भविष्य को लेकर चिंता। ससुराल से अनबन। धार्मिक वस्तु उपहार में न लें।

##############

Role: author
पंडित रामदेव जी का परिचय: वर्तमान में रांची में निवास कर रहे पंडित रामदेव एक जाने माने ज्‍योतिषविद् हैं। सनातन संस्कृति के कर्णधार ,वैदिक और अध्यात्मिक व्यास परम्परा के प्राणधार,हमरी वैदिक चेतना के प्रहरी प्रतीक युवा सँत ,ज्योतिष,तंत्र , अध्यात्म के विद्यार्थी पँड़ित रामदेव पाण्डेय जी को पैतृक परम्परा से दादा पँ मुनीश्वर पाण्डेय जी के द्वारा ज्योतिष और कर्मकांड की शिक्षा मिली वही विद्या अध्यन के क्रम मे ही सोलहवे साल मे बाबा विश्वनाथ की कृपा से कचोडी गली वाराणसी मे रामायण पर प्रवचन कहने का सौभाग्य मिला , स्वँय विज्ञान के विद्यार्थी रहते हुऐ भी गृहस्थ अवधुत भैरवानन्द कापालिक चक्र तीर्थ उज्जैन ,बंगाल के तारासाधक आचार्य कल्याणी प्र चट्टोराज से तंत्र दीक्षा, श्री नारायण दत्त श्रीमाली जी जोधपुर , पँ शारदा प्र द्विवेदी मानस मर्मज्ञ (काशी -मिर्जापुर ) का साहचर्य बाल्यकाल से ही मिला , तो ज्योतिष-राशिफल, व्रत- त्योहार आदि से सम्बंधित हजारो लेख राष्ट्रीय अखबार एवँ मिडिया चैनल मे 2000 ई से प्रकाशित और प्रसारित हो रहा है ,पण्डित जी के द्वारा झारखंड, बिहार ,उत्तरप्रदेश, छतीसगढ,मे सँगीत मय श्री मद्द देवीभागवत ,भागवत, देव मन्दिर प्रतिष्ठा के कार्यक्रम हो रहे है ,माँ कामाख्या मन्दिर गोहाटी ,विन्ध्याचल, रज्जरपा छिन्नमस्ता मन्दिर मे कई तंत्र अनुष्ठान सम्पन्न हो चुके है ,कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मंच को सम्बोधित कर चुके है।

मुंबई: मैक्सिम पत्रिका द्वारा किए गए सर्वेक्षण में दीपिका पादुकोण मैक्सिम हॉट 100 में पहले पायदान...

New Delhi: While many wait for the monsoon season to arrive, mucky roads and gloomy weather have...

अनीस बज्मी की मुबारकन अपनी रिलीज के करीब पहुंच रही हैं, और उत्साह को मंथन करने के लिए मुबारकन का...

डर्बी (इंग्लैंड): क्या आप जानते हैं कि महिलाओं के विश्व कप टूर्नामेंट का आयोजन पुरुषों के विश्व क...

loading...

Comment Box