Skip to content Skip to navigation

नीतीश की 'गांधी स्मृति यात्रा' अप्रैल में

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ब्रिटिश शासन के खिलाफ महात्मा गांधी के सत्याग्रह को अप्रैल में 100 साल पूरे होने के अवसर पर 'गांधी स्मृति यात्रा' शुरू करेंगे। इसकी शुरुआत चंपारण जिले में होगी, जहां से गांधी ने सत्याग्रह शुरू किया था। अधिकारियों ने शनिवार को कहा कि इस दौरान कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा।

नीतीश 15 अप्रैल को चंपारण से इस यात्रा की शुरुआत करेंगे। इसी दिन 1917 में महात्मा गांधी मुजफ्फरपुर से ट्रेन के जरिये मोतिहारी पहुंचे थे, जो अब चंपारण का जिला मुख्यालय है।

सत्याग्रह की 100वीं वर्षगांठ पर वृहद स्तर पर आधिकारिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा, जिनकी शुरुआत प्रस्ताावित 'गांधी स्मृति यात्रा' के शुरू होने से पांच दिन पहले ही हो जाएगी।

सालभर चलने वाले इस समारोह की शुरुआत पटना में नवनिर्मित इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में महात्मा गांधी के जीवन पर एक अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार के साथ होगी।

महात्मा गांधी ने ब्रिटिश शासकों द्वारा जबरन नील की खेती कराए जाने के विरोध में सत्याग्रह की शुरुआत की थी।

इस शताब्दी समारोह के लिए समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी पर्यटन, कला, संस्कृति और युवा मामलों के विभागों के साथ-साथ शिक्षा विभाग भी संभाल रहा है।

अधिकारियों ने कहा कि चंपारण सत्याग्रह पर कई व्याख्यानों का आयोजन किया जाएगा, जिसमें विशेषज्ञों और दुनियाभर के प्रसिद्ध लोग हिस्सा लेंगे।

Lead
Share

More Stories from the Section

INTERNATIONAL

News Wing
Taupo, 23 September: न्यूजीलैंड की जनता आज राष्ट्रीय चुनाव के मतदान में हिस्सा ले...

UTTAR PRADESH

News Wing Shahjahanpur, 22 September: समाजसेवी ने बलात्कार के दोषी बाबा राम रहीम की राजदार हनीप्रीत...
Website Designed Developed & Maintained by   © NEWSWING | Contact Us