Skip to content Skip to navigation

दिल्ली में न्यूनतम मजदूरी में 37 फीसदी का इजाफा

नई दिल्ली: दिल्ली के उप-राज्यपाल अनिल बैजल ने दिल्ली में श्रमिकों की न्यूनतम मजदूरी में 37 फीसदी वृद्धि के आम आदमी पार्टी (आप) सरकार के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को ही मजदूरी में वृद्धि की घोषणा की।

केजरीवाल ने श्रम मंत्री गोपाल राय की मौजूदगी में घोषणा की कि नए प्रस्ताव के तहत अब अकुशल श्रमिकों के लिए मासिक न्यूनतम मजदूरी 9,724 रुपये से बढ़ाकर 13,350 रुपये, अर्धकुशल मजदूरों के लिए मासिक मजदूरी 10,764 रुपये से बढ़ाकर 14,698 रुपये और कुशल श्रमिकों के लिए मासिक मजदूरी 11,830 रुपये से बढ़ाकर 16,182 रुपये कर दी गई है।

केजरीवाल ने 25 फरवरी को न्यूनतम मजदूरी में वृद्धि पर अपनी सहमति दी थी, जिसके बाद प्रस्ताव उप-राज्यपाल को भेज दिया गया था।

उप-राज्यपाल द्वारा जल्द ही प्रस्ताव को मंजूरी दिए जाने पर आभार व्यक्त करते हुए केजरीवाल ने कहा कि इस संबंध में सोमवार को अधिसूचना जारी की जाएगी, जिसके बाद न्यूनतम मजदूरी में की गई वृद्धि लागू हो जाएगी।

उन्होंने कहा, "न्यूनतम मजदूरी में यह वृद्धि ऐतिहासिक है और आजादी के बाद किसी भी सरकार द्वारा की गई सबसे अधिक वृद्धि है।"

आप सरकार ने दूसरी बार न्यूनतम मजदूरी में वृद्धि का प्रस्ताव पेश किया था। इससे पहले आप सरकार ने न्यूनतम मजदूरी में 50 फीसदी वृद्धि वाला प्रस्ताव तत्कालीन उप-राज्यपाल नजीब जंग को भेजा था, जिसे उप-राज्यपाल ने प्रक्रिया के आधार पर वापस कर दिया था।

Share

News Wing

Scotland, 22 August: अपनी प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ी के रिटायर्ड हर्ट होने के कारण भार...

News Wing
Mumbai, 22 August: निर्देशक रोहित शेट्टी की आगामी कॉमेडी-एक्शन 'गोलमाल अगेन' की श...