Skip to content Skip to navigation

89 फीसदी लोग कार्यस्थल पर रोबोट के पक्ष में : एडोब

नई दिल्ली: एक नए रपट में यह सामने आया है कि 89 फीसदी लोग रोबोट को नौकरियां छीनने के बजाय कार्यस्थल पर सहायता में सकारात्मक भूमिका निभाने के पक्ष में हैं। ऐसा मानने वालों में भारतीय भी शामिल हैं। एडोब द्वारा शुक्रवार को जारी किए गए 'फ्यूचर ऑफ वर्क' अध्ययन के अनुसार, लोग कार्य के फायदे के लिए आदमी और मशीन के सहयोग के लिए तैयार हैं।

यह अध्ययन भारत सहित अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया में किया गया।

रपट में कहा गया है कि स्वचालित यंत्रों का इस्तेमाल साल दर साल दोगुना होता जाएगा।

स्वचालित यंत्रों से जुड़े सामाजिक बातचीत में मशीन के सीखने और कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) लोकप्रिय विषयों में है।

एडोब के पीपुल्स रिसोर्सेज के उपाध्यक्ष अब्दुल जलील ने एक बयान में कहा, "फ्यूचर ऑफ वर्क आशाजनक दिखाई देता है, रोबोटिक्स और स्वचालन से कर्मचारियों की भूमिका को ज्यादा रचनात्मक और उत्पादक बनाने में मदद मिलेगी। एडोब डिजिटल इनसाइट्स रपट डिजिटल परिवर्तन के लाभों को अपनाने और कार्यस्थल के महत्व को दोहराती है।"

Top Story
Share
loading...