Skip to content Skip to navigation

मेकर्स से ही मेक इन झारखण्ड सफल होगा- केंद्रीय मंत्री रूडी

- उच्चशिक्षा कौशल विकास और स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में निवेश की संभावनाओं पर सेमिनार -
रांची: केन्द्रीय कौशल विकास मंत्री राजीव प्रताप रूडी ने कहा कि मेकर्स से ही मेक इन झारखण्ड सफल हो सकता है। वक्त की मांग है कुशल मानव संसाधन। जीवन को सुंदर सिर्फ शिक्षा नहीं बनाती है, बल्कि कौशल विकास से मानव जीवन संवरता है। आजादी के बाद से देश में शिक्षा की ओर ध्यान दिया गया, कौशल विकास की दिशा में किसी तरह का कार्य नहीं हुआ। केन्द्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार का गठन हुआ और पहली बार देश के युवाओं को कुशल मानव संसाधन के रूप में तैयार करने के उद्देश्य से कौशल विकास मंत्रालय की स्थापना की गई। श्री रूडी शुक्रवार को खेलगांव मे उच्च शिक्षा, कौशल विकास और स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में निवेश की संभावनाओं पर आयोजित सेमिनार में बोल रहे थे।
श्री रूडी ने कहा कि झारखण्ड में मौजूद मानव संसाधन और यहां मौजूद खनिज संपदा आज पूरे विश्व को आकर्षित कर रही है। पूरे देश में उद्योग स्थापना हेतु अन्य राज्यों के साथ साथ झारखण्ड केन्द्र सरकार की नजर में सबसे आगे है। यहां का कुशल मानव संसाधन निर्माण उद्योग में कार्य करने के लिए अन्य राज्य की ओर रूख कर रहा है। इस संसाधन का उपयोग राज्य में स्थापित होने वाले उद्योग में होनी चाहिए केन्द्र सरकार विश्वस्तर के कौशल प्रशिक्षण केन्द्र की स्थापना की दिशा में कार्य कर रही है।
इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री रामचन्द्र चन्द्रवंशी ने कहा कि झारखण्ड अनंत संभावनाओं का प्रदेश है। निवेश के लिए शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में कई संभावनाएं मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में निवेश हेतु नीति में बदलाव किया गया है।
शिक्षा मंत्री नीरा यादव ने कहा कि राज्य सरकार पारदर्शिता से कार्य कर रही है। वैश्विक सम्मेलन के बाद झारखण्ड नई राह की ओर अग्रसर होगा। उन्होंने कहा कि राज्य में शिक्षा के कई संस्थान हैं, लेकिन ऐसे और भी उच्चस्तरीय संस्थानों की जरूरत है। मौके पर कई अधिकारियों ने भी अपने विचार रखे।

Share

EDUCATION / CAREER



सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने 47 पदों पर Air Wing Group A की भ...

Website Designed Developed & Maintained by   © NEWSWING | Contact Us