Skip to content Skip to navigation

शुक्रवार 17 फरवरी 2017

शुक्रवार 17 फरवरी 2017, तिथि-  षष्ठी   - सुबह  - 08: 58 तक,पक्ष- कृष्ण   ,मास- फाल्गुन ,विक्रम सँवत्- 2073,शक् सँवत 1938,हिजरी तारीख- 19 :,महिना - जमादिउल वल
वर्ष- 1438 ,बगँला / सँक्राति- तारीख- 5 मास - कुम्भ  / फाल्गुन    ,बँगाब्द - 1423
-----------------------------------------
सूर्योदय कालीन नक्षत्रादि
नक्षत्र - स्वाती   -दिन- 03:55तक   ,
योग -  वृद्धि     ,
----------------------------------------
. राहुकाल - प्रात: 10 :18  से 12 :00  तक ,
.----------------------------------------
दिशाशूल -
पूरब उत्तर अग्नि दिशा / कोण जाना है तो एनक देखकर या दूध पीकर  जाऐँ ,
____
पर्व -त्योहार- श्रीसुपार्श्वनाथ जी निर्वाण दिवस 
-----------------------------------------------
मेष- आनन्द सुख मिलेगा, मित्रो के साथ  रहने का अवसर ,स्फुति दिखाइ देगी,  खानपान  नीँद की पुर्णता मिलेगी, 
वृष - सावधानी बरते,  गरीबो को दान दे सेवा करे , नये काम आज के बाद करिए , धर्म पर श्रद्धा रखे , लेन देन  कम करे, 
मिथुन  - कठिन काम भी सरल होगा , हर्ष उल्लास के बीच रहेगेँ, सफेद वस्तु से
कर्क- सावधानी  वरते,  विष  एसीडीटी की  सँम्भावना ,पुरानी वस्तु के प्रति लगाव बढेगा ,
सिह -सुख सूविधा की वृद्धि  कूटनीति मे सफलता , शरीर पीडा बढ सकती है,
कन्या - खोई वस्तु मिलेगी, व्यक्तिगत समस्याओ का समाधान ,भविष्य की योजना सफल होगी, सर्दी बुखार  से सावधानी वरते ,
तुला -धन यश वैभव और आनन्द मिलेगा,पर गलतफमियाँ मे न पढे , अनुचित काम से दुर रहेँ,शत्रु भी सहयोग कर सकते है, 
वृश्चिक - मन अस्थिर रहेगा,  मित्रो से दुरियाँ बढ सकती है,  यात्रा मे कष्ट के योग है ,सँतान, मित्र और अलँकार  मिल सकते है.
धनु - चित मे चचँलता , परिजनो से विवाद , प्यार मे दुरियाँ, जल और महिलाओ से सावधान रहिए ,दुसरे की विपति गले पडेगी, 
मकर- उन्नति के अवसर , परिवार मे खुशहाली, सम्पर्क की बढोतरी, अधिक सुख का प्रयास मे सफलता मिलेगी, 
कूम्भ  - मानसिक असन्तोष और मन अस्थिर   होगा, आत्म सम्मान मे चोट  न लगे 
मीन- मन अस्थिर रहेगा, गलत काम से दुर रहेँ ,धन की चिन्ता वनी रहेगी.

loading...