West Bengal

#MobLynching: गाय चोरी के संदेह में प. बंगाल में दो लोगों की पीट-पीट कर हत्या

Kolkata: सरकार की लाख सख्ती के बावजूद मॉब लिंचिंग की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं. ताजा घटना पश्चिम बंगाल के कूचबिहार जिले की है. यहां गाय चोरी के संदेह में दो लोगों की पीट-पीट कर हत्या कर दी गयी है.

घटना गुरुवार सुबह कोतवाली थाना अंतर्गत पुटीमारी के पास फुलेश्वरी इलाके की है. पुलिस ने बताया कि मृतकों की पहचान प्रकाश दास और बाबला मित्र के तौर पर हुई है.

ये दोनों ही माथाभांगा इलाके के रहनेवाले हैं. जानकारी के अनुसार ये दोनों गुरुवार सुबह पिकअप वैन से गाय लेकर जा रहे थे. फुलेश्वरी के पास उन्हें कुछ लोगों ने रोक दिया और पूछताछ करने लगे.

इसे भी पढ़ें – #Saryu Rai ने भ्रष्टाचार को उजागर किया, सबूत भी दिये, अमित शाह ने नहीं की कार्रवाई

पुलिस ने दोनों को भीड़ से छुड़ाया

इसके बाद वे लोग उन्हें गाय चोर बता कर मारने-पीटने लगे. सूचना मिलने के बाद टॉपर हॉट चौकी की पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों को हमलावरों को भीड़ से छुड़ाया.

दोनों घायलों को कूचबिहार जिला अस्पताल ले जाया गया जहां जांच के बाद चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया. वारदात की सूचना से मृतकों के परिवार में बहुत गम व्याप्त है.

उन्होंने पुलिस से हमलावरों को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है. जिला पुलिस अधीक्षक संतोष निंबलकर ने कहा कि इस घटना में पुलिस ने जांच शुरू कर दी है.

इसे भी पढ़ें – #JharkhandElection: खर्च की अधिकतम सीमा है 28 लाख, भाजपा उम्मीदवार सत्येंद्र तिवारी की गाड़ी से पकड़े गये 29 लाख, कार्रवाई हुई तो उम्मीदवारी होगी रद्द 

प्रारंभिक जांच में पता चला है कि दोनों को गाय चोर समझ कर मारा-पीटा गया है. इसी वजह से उनकी मौत हुई है. आरोपितों के विरुद्ध संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज कर कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी गयी है.

उल्लेखनीय है कि हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा के मानसून सत्र के दौरान राज्य सरकार ने सामूहिक हिंसा रोकथाम अधिनियम को पारित किया था जिसमें यह प्रावधान जोड़ा गया था कि मॉब लिंचिंग में शामिल लोगों के खिलाफ हत्या की कोशिश, साजिश रचने और हत्या की धाराओं के तहत मामला दर्ज कर कानूनी कार्रवाई होगी.

इसके तहत आरोपितों को आजीवन कारावास अथवा फांसी तक की सजा हो सकती है. कूचबिहार की घटना में पुलिस ने अज्ञात हमलावरों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. इलाके का सीसीटीवी फुटेज देख कर और स्थानीय लोगों से पूछताछ कर आरोपितों की तलाश तेज कर दी गयी है.

इसे भी पढ़ें – #ModelCodeOfConduct लगने के बाद नियुक्ति का विज्ञापन निकाला, अब वापस लेने के लिए विज्ञापन निकालने का आदेश

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: