khas khabar

NEWSWING EXCLUSIVE: नौ लाख कंबलों में सखी मंडलों ने बनाया सिर्फ 1.80 लाख कंबल, एक दिन में चार लाख से अधिक कंबल बनाने का बना डाला रिकॉर्ड, जानकारी के बाद भी चुप रहा झारक्राफ्ट

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 03/19/2018 - 18:55

Akshay Kumar Jha 
Ranchi:
ठंड में गरीबों को दिए जाने वाले कंबलों में भी घोटाला कर देना, यह काम कोई झारक्राफ्ट और झारखंड सरकार के अफसरों से सीख सकता है. सखी मंडल और बुनकर समिति को रोजगार का दिलासा दिला कर घोटाला कर देना. सरकार की तरफ से ऐसा करने वालों पर कार्रवाई नहीं करना. ‘बेदाग सरकार’ का ‘दंभ’ भरने वाले लोगों की मंशा पर सवाल उठाता है. सीएम ने 25 से ज्यादा बार इस बात की घोषणा की कि इस बार कंबल सखी मंडल और बुनकर समिति बनाएगा और राज्य का पैसा राज्य में ही रहेगा.

NEWSWING EXCLUSIVE: झारखंड की बेदाग सरकार में हुआ 18 करोड़ का कंबल घोटाला, न सखी मंडल ने कंबल बनाये, न ही महिलाओं को रोजगार मिला

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 03/19/2018 - 17:07

Akshay Kumar Jha
Ranchi:
झारखंड सरकार करोड़ों रुपये इस बात का प्रचार करने पर खर्च कर रही है कि झारखंड में पहली बार "बेदाग सरकार" है. मुख्यमंत्री यह कहते रहें है कि उनकी सरकार पर कोई दाग नहीं है. लेकिन यह सच नहीं है. सरकार में कई दाग लगे. ताजा दाग कंबल घोटाला का है. इसमें गरीबों को ठगा गया, सखी मंडल को अंधेरे में रखा गया और फर्जी तरीके से बताया गया कि महिलाओं को रोजगार दिया गया.

366 करोड़ से बनने वाला हाईकोर्ट भवन का टेंडर आरके कंस्ट्रक्शन को देने के लिए भवन निर्माण विभाग ने मुंबई की कंपनी के बारे में बोकारो के बैंक से मांगी जानकारी

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 02/26/2018 - 12:27

झारखंड हाईकोर्ट निर्माण टेंडर घोटाला- पार्ट 2

Ranchi: कंपनी कहीं की और बैंक गारंटी की जानकारी कहीं और से मांगे जाने के पीछे क्या वजह हो सकती है. किसी कंपनी का सारा काम स्टेट बैंक ऑफ इंडिया से होता है. लेकिन कंपनी की बैंक गारंटी यूनियन बैंक से मांगे जाने के पीछे क्या वजह हो सकती है. जी हां, ऐसा ही कुछ कुछ हुआ आरके सिंह कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड को झारखंड हाईकोर्ट बनाने के लिए टेंडर देने में. इससे पहले आपने पढ़ा कि कैसे दिग्गज-दिग्गज कंपनियों को झारखंड भवन निर्माण विभाग ने मामूली बातों पर और गलत तरीके से टेंडर प्रक्रिया से बाहर कर दिया.

 366 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाला हाईकोर्ट भवन का टेंडर आरके कंस्ट्रक्शन को देने के लिए दूसरी कंपनियों को गलत तर्क देकर अयोग्य बताया गया !

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 02/24/2018 - 13:08

Ranchi: झारखंड में बहुमत वाली बीजेपी की सरकार आते ही महज तीन महीने के अंदर झारखंड हाईकोर्ट बनाने के लिए टेंडर निकाला गया था. राज्य के भवन निर्माण विभाग ने फरवरी 2015 में टेंडर प्रकाशित किया. टेंडर खुलने की तारीख 25 मार्च 2015 तय की गयी. सारी प्रक्रियाओं को पूरा करने के बाद विभाग ने एक जून 2015 को  12 कंस्ट्रक्शन कंपनियों में से आरके सिंह कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड (राम कृपाल सिंह कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड) को 265 करोड़ की लागत से बनने वाले झारखंड हाईकोर्ट के भवन को बनाने का काम सौंपा. भवन बनने की मियाद 17 सिंतबर 2017 तय हुयी. 2018 फरवरी महीने तक काम पूरा नहीं हुआ है.

मोरहाबादी मैदान को अमेरिका की तर्ज पर टाइम्स स्क्वॅायर बनाने का हो रहा है विरोध, जानें क्या कह रहे हैं लोग..

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 02/19/2018 - 21:15

Ranchi :  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब अपने पहले विदेशी दौरे पर अमेरिका गये थे, तब लोगों के बीच न्यूयॉर्क का टाइम्स स्क्वायर चर्चा का विषय बना था. क्योंकि यही वो जगह थी, जहां पीएम मोदी का भाषण हुआ था. यही चर्चा इन दिनों रांची में हो रही है. लेकिन मोदी की नहीं, बल्कि रांची के मोरहाबादी मैदान को न्यूयॉर्क की तर्ज पर टाइम्स स्क्वॅायर बनाने की चर्चा हो रही है. दरअसल झारखंड सरकार मोरहाबादी मैदान को न्यूयॉर्क के टाइम्स स्क्वॅायर की तर्ज पर बना रही है. इसके अंतर्गत मैदान के चारों तरफ रंग-बिरंगी लाइटिंग और आठ डिसप्ले होंगे. साथ ही एक बड़ा स्टेज होगा.

झारखंड के 14 में 10 सांसदों की पत्नी है कमाऊ, अगली बार से बताना होगा कैसे कमाए लाखों रुपये

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 02/17/2018 - 19:49

Akshay kumar jha

Ranchi: 16 फरवरी को सुप्रीम कोर्ट ने एक ऐतिहासिक फैसला लिया है. सर्वोच्च न्यायालय ने शुक्रवार को कहा कि चुनाव लड़ रहे सभी उम्मीदवारों को खुद के अलावा पत्नी और बच्चों की आय के स्रोत को भी उजागर करना होगा. हलफनामें में पत्नी व बच्चों की आय का ब्योरा भी देना होगा. न्यायमूर्ति जे. चेलमेश्वर की अध्यक्षता में पीठ ने फैसले में कहा है कि उम्मीदवारों को चुनाव के लिए नामांकन भरने के दौरान पत्नी और बच्चों की आय सहित खुद की आय के स्रोत का खुलासा करना होगा. अदालत ने गैरसरकारी संस्था 'लोक प्रहरी' की याचिका पर सुनवाई करते हुए यह फैसला सुनाया. 

मोमेंटम झारखंड के एक सालः इसे बरसी कहेंगे या सालगिरह ! सरकारी दावाः हुआ करोड़ों निवेश, राजनीतिक पार्टियां और बिजनसमैन: हाथी उड़ने की बजाय जमीन पर गिरा

Publisher NEWSWING DatePublished Thu, 02/15/2018 - 20:40
Ranchi : एक साल पहले की बात है. आज के दिन रांची दुल्हन की तरह सजी थी. लाखों करोड़ों निवेश लाने के दावे के साथ रंग-बिरंगे पोस्टरों और बैनरों से रांची पटा हुआ था. हर दिवार ऐसी सजी थी जैसे रांची को मेंहदी रची हो. 16 फरवरी 2017 को इस सरकार का ही नहीं बल्कि झारखंड बनने से लेकर अबतक का सबसे बड़ा मेगा शो शुरू हुआ था, नाम था मोमेंटम झारखंड, ग्लोबल इंवेस्टर समिट. मोमेंटम झारखंड के आयोजन के बाद सरकार की तरफ से कहा गया कि राज्य को इस समिट से उम्मीद से दोगुना मिला है. कुल 210 एमओयू हुए. 3,10,277 करोड़ के निवेश का करार कंपनियों ने किया. 11,000 से ज्यादा रजिस्टर्ड डेलिगेट्स आए. जिसमें 600 डेलिगेट्स विदेशी थे.

हजारीबाग के बड़कागांव में हुए 3000 करोड़ के मुआवजा घोटाले की सीबीआई जांच शुरु

Publisher NEWSWING DatePublished Thu, 02/08/2018 - 15:00

 सीबीआई, रांची ने एनटीपीसी के अफसरों के खिलाफ पीई (preliminary enquiry) दर्ज कर शुरु कर दी है जांच
रिटायर आईएएस देवाशीष गुप्ता की रिपोर्ट पर रघुवर सरकार ने नहीं की थी कोई कार्रवाई.
Surjit singh

बकोरिया कांडः प्राथमिकी में 11 बजे हुई मुठभेड़, तब के लातेहार एसपी अजय लिंडा ने अपनी गवाही में कहा रात 2.30 बजे तक एसपी पलामू को नहीं था पता

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 02/06/2018 - 07:33
Ranchi: आठ जून 2015 की रात पलामू के सतबरवा थाना क्षेत्र के बकोरिया के जिस कथित मुठभेड़ में नक्सली अनुराग और 11  निर्दोष लोग मारे गए थे, उस मामले में लातेहार के तत्कालीन एसपी अजय लिंडा ने अपनी गवाही दर्ज करा दी है. अजय लिंडा ने अपने लिखित बयान में कहा है कि आठ जून की रात 2.30 बजे तक पलामू एसपी को इस बात की कोई सूचना नहीं थी कि वहां पर मुठभेड़ हुआ था. उल्लेखनीय है कि घटना को लेकर दर्ज प्राथमिकी में मुठभेड़ का वक्त रात 11.00 बजे का बताया गया है. प्राथमिकी में इस बात का भी जिक्र है कि मुठभेड़ की सूचना तुरंत पलामू के एसपी कन्हैया मयूर पटेल को दी गयी थी. 
loading...
Loading...