Jharkhand Vidhansabha Election

#JharkhandElection: नामांकन पर्चा खरीदने के बाद सरयू राय ने रघुवर के विधानसभा क्षेत्र में चलाया जनसंपर्क अभियान

Abinash Mishra

Jharkhand Rai

Jamshedpur: झारखंड विधानसभा में पूर्वी जमशेदपुर जहां से झारखंड के सीएम रघुवर दास चुनाव जीत कर आते हैं, वो सबसे हॉट सीट बन गयी है.

बीजेपी की चौथी लिस्ट में सरयू राय का नाम नहीं होने के बाद सरयू राय ने राजनीति की बिछी बिसात पर ऐसी चाल चली है कि आनेवाले दिनों में रघुवर दास चारों खाने चित हो सकते हैं.

शनिवार को उन्होंने पूर्वी और पश्चिमी जमशेदपुर से नामांकन का पर्चा खरीदा. पर्चा खरीदने के बाद वो पूर्वी जमशेदपुर पहुंच गये.

Samford

माना जा रहा है कि अब निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे. शनिवार सुबह सरयू राय टेल्को स्थित भुवनेश्वरी मंदिर पहुंचे और मां भुवनेश्वरी से आशीर्वाद लिया.

इसे भी पढ़ें – सरयू राय ने जमशेदपुर प. के साथ-साथ रघुवर के विधानसभा क्षेत्र जमशेदपुर पू. का भी नामांकन पत्र खरीदा, बढ़ेगी CM की मुश्किलें

माता के मंदिर से निकल सरयू राय सीएम रघुवर दास के क्षेत्र में ही चुनाव प्रचार पर निकल पड़े हालांकि इसे प्रचार कम और जनसंपर्क अभियान ज्यादा कहा जा रहा है.

करीब 300 लोगों के साथ पांच किमी पैदल चले

सीएम रघुवर दास के चुनावी क्षेत्र में सरयू राय पूरे लाव-लश्कर के साथ पहुंचे. उनके साथ बीजेपी के कई कार्यकर्ता भी थे. भुवनेश्वरी मंदिर से निकलने के बाद पूरे लाव-लश्कर के साथ वो पैदल निकल पड़े.

टेल्को, सिदगोड़ा और भालुबासा जैसे इलाकों में सरयू राय समर्थकों के साथ जनसपर्क अभियान चलाया. सरयू राय के ऐसा करने से साफ हो गया है कि सरयू राय निश्चित तौर से पूर्वी जमशेदपुर से चुनाव लड़ेंगे.

इसे भी पढ़ें – #EconomicSlowdown बिजली की खपत में कमी आने से बंद हो गये देश के 133 थर्मल पावर स्टेशन!

जानें क्या कहा सरयू राय ने

पत्रकारों के सामने उन्होंने नहीं कबूला कि वो पूर्वी जमशेदपुर से रघुवर दास के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे. पत्रकारों के सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि भुवनेश्वरी मंदिर से उनका आध्यात्मिक लगाव शुरू से रहा है.

टिकट के बारे पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि वो तब-तक इंतजार करेंगे जब-तक पार्टी की तरफ से उन्हें कह नहीं दिया जाय कि उन्हें क्या करना है.

उन्होंने कहा कि उन्हें शीर्ष नेतृत्व पर पूरा भरोसा है. कहा कि उन्हें अब भी पार्टी के शीर्ष नेतृत्व पर भरोसा है. उनका कहना है की उनका टिकट होल्ड पर रखा गया है, काटा नहीं गया है. वो आखिरी समय तक इंतजार करेंगे. उनको अब भी टिकट मिलने का यकीन है और पार्टी जहां से कहेगी वहां से चुनाव लड़ेंगे.

इसे भी पढ़ें – महाराष्ट्र: शिवसेना का आरोप- सरकार गठन पर BJP का भरोसा विधायकों की खरीद-फरोख्त की ओर करता है इशारा 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: