JharkhandRanchi

#JanSamwad में चार लाख से ज्यादा शिकायतें हुईं, 92 प्रतिशत का समाधान हुआ : सीएम

Ranchi : मुख्यमंत्री जनसंवाद की सफलता का जिक्र करते हुए सीएम रघुवर दास ने इसे एक बड़ी उपलब्धि बताया है. मुख्यमंत्री गुरुवार को सूचना भवन में आयोजित सीधी बात कार्यक्रम में लोगों को संबोधित कर रहे थे.

Jharkhand Rai

सीधी बात कार्यक्रम में इस कार्यकाल में अंतिम बार शामिल होने पर खुशी जताते हुए सीएम ने कहा कि सीएम बनने के बाद उन्होंने राज्य की जनता को विकास और सुशासन का भरोसा दिया था, उसी भरोसे को पूरा करने के लिए उऩ्होंने 1 मई 2015 को जनसंवाद शुरू किया था जिसके सुखद परिणाम सरकार को मिले हैं.

उन्होंने कहा कि पिछले 5 साल में जनसंवाद के माध्यम से 17 लाख 73 हजार लोगों के साथ संवाद हुआ. 4.15 लाख जन शिकायत दर्ज हुई,  जिसमें 92 प्रतिशत मामलों का समाधान किया गया है. इसके लिए सीएम दास ने सभी विभाग को बधाई दिया है.

इसे भी पढ़ें : #JPSC: 18 साल में ली 6 परीक्षाएं, 4 विवादित, अब दावा 6 महीने में होंगी एक साथ 3 परीक्षाएं

Samford

राज्य के विकास की गति में सहायक होगा सुशासन

सीएम ने दावा किया कि नये साल में नयी सरकार,  नये उमंग और नव ऊर्जा के साथ लोगों की शिकायतों को दूर करने का प्रयास करेगी. सुशासन द्वारा राज्य में विकास की गति को बढ़ाने में यह सहायक होगा.

इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव सुखदेव सिंह,  मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ सुनील कुमार वर्णवाल,  अपर सचिव अविनाश कुमार, कृषि सचिव पूजा सिंघल,  उद्योग सचिव के रवि कुमार,  सचिव पंचायती राज प्रवीण टोप्पो समेत विभिन्न विभागों के आलाधिकारी, पदाधिकारी और शिकायतकर्ता उपस्थित थे.

अब 24 घन्टे में बदलता है ट्रांसफार्मर

सीएम ने बताया कि सीधी बात कार्यक्रम प्रारंभ होने के बाद से ही ट्रांसफार्मर खराब होने या ट्रांसफार्मर नहीं होने की शिकायत की भरमार थी. लेकिन सरकार ने बेहतर कार्यप्रणाली से ट्रांसफार्मर की शिकायत को हमेशा के लिए दूर कर दिया.

अब कहीं भी इस तरह की समस्या नहीं है. 24 घन्टे के अंदर ट्रांसफार्मर बदलने का निर्देश दिया गया है. उऩ्होंने दावा किया कि जनसंवाद के माध्यम से हम 100 प्रतिशत समस्याओं के समाधान के लक्ष्य को प्राप्त कर लेते.

लेकिन इनमें कुछ पारिवारिक जमीन से संबंधित मामले रहे, जिसका समाधान परिवारिक स्तर पर हो सकता था. इसमें सरकार अपना हस्तक्षेप नहीं कर सकती थी.

कुछ मामले न्यायालय में प्रक्रियाधीन थे. अनुकंपा से संबंधित मामलों को सरकार ने पूरा किया. कई आश्रितों को सरकार ने नौकरी प्रदान की.

इसे भी पढ़ें : #BJP: क्या भीतरघात से बच पायेंगे भाजपा में शामिल हुए विपक्ष के पांचों विधायक, मामला बड़ा नजदीकी है!

विगत साढ़े 4 साल में जनसंवाद में क्या रहा खास

  • ई-गवर्नेंस का अच्छा उदाहरण फोन, ईमेल और इंटरनेट के माध्यम से दर्ज हुई शिकायत
  • जनसंवाद को सीएम डैशबोर्ड के साथ अटैच किया गया
  • 17 लाख 73 हजार लोगों से संवाद हुआ. 7 लाख लोगों ने फोन के माध्यम से शिकायत दर्ज करायी.
  • 45 सेकंड में एक व्यक्ति से संवाद हुआ. यह जनसंवाद के साढे 4 साल का औसत है
  • 57 माह चले सीधी बात कार्यक्रम में 52 बार मुख्यमंत्री ने सीधा संवाद किया.

इसे भी पढ़ें : #Jharkhand बनने के बाद 58 नेताओं ने दल बदले, 50% गये #BJP में और 17% #JMM में

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: