जामताड़ा, देवघर और दुमका बना साइबर अपराधियों का गढ़, बिहार और पश्चिम बंगाल से फर्जी सिम लाकर कर रहे ठगी

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 02/07/2018 - 09:46

Dumka: साइबर अपराधियों पर नकेल कसने की तमाम कोशिशों के बीच भी साइबर अपराधी अपने नये-नये कारनामे करने से बाज नहीं आ रहे हैं. इसी क्रम में अब साइबर अपराधी पश्चिम बंगाल से भारी मात्रा में सिमकार्ड लाकर नये-नये तरीके से अपराधों को अंजाम दे रहे हैं.

इसे भी पढ़ें: नहीं मिल रहे 10, 50, 100 रुपये के स्टांप, 500 या हजार रुपये वाले स्टांप से चल रहा काम (देखें वीडियो)

पश्चिम बंगाल और बिहार जैसे राज्यों से नये-नये फर्जी सिम कार्ड ला रहे साइबर अपराधी

पुलिस उपमहानिरीक्षक अखिलेश कुमार झा ने मंगलवार को प्रेस वार्ता में बताया कि साइबर अपराधी पश्चिम बंगाल और बिहार जैसे राज्यों से नये-नये सिम कार्ड ला रहे हैं और इसके माध्यम से खासतौर पर देवघर, जामताड़ा, दुमका जैसी जगहों से ठगी का काम संचालित कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें: सीएस राजबाला वर्मा और एपी सिंह पर पूजा सिंघल को बचाने के आरोप के बाद पीएमओ ने कार्रवाई के लिए लिखी झारखंड सरकार को चिट्ठी

500 से 600 फर्जी बैंक अकाउंटस का भी पता चला

पुलिस उपमहानिरीक्षक ने यह भी कहा कि इन जगहों पर सैकड़ों की संख्या में फर्जी बैंक अकाउंटस का भी पता चला है, जिसके संबंध में जांच की जा रही है. ऐसे बैंक अकाउंटस की संख्या 500 से 600 के करीब बतायी जा रही है. कुछ ऐसे भी आकउंटस पाये गये हैं, जिसमें अलग-अलग नामों से खाताधारी अकाउंटस का संचालन कर रहे हैं. ऐसे भी मामले सामने आये हैं, जिसमें उधार में किसी दूसरे का अकाउंटस लिया गया है. साथ ही ऐसे अकाउंटस भी हैं, जो साइबर अपराधियों के चंगुल में हैं और उन्हीं के द्वारा उसका संचालन किया जा रहा है. इन सभी मामलों की जांच त्वरित गति से की जा रही है. मामले में दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी.

इसे भी पढ़ें: झारखंड में PDS का सचः परिवार के सदस्यों के नाम आधार से लिंक नहीं होने पर, आवंटित अनाज से वंचित किये जा रहे लाभुक

अबतक 217 के करीब पकड़े गये साइबर अपराधी

उपमहानिरीक्षक अखिलेश कुमार झा ने यह भी कहा की पुलिस की कार्रवाई की वजह से, इन इलाकों से फर्जी सिम कार्ड की बिक्री किये जाने पर रोक लगी है. लेकिन बिहार और पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों से धड़ल्ले से फर्जी सिम कार्ड यहां आ रहे हैं. जिसका फायदा साइबर अपराधी उठा रहे हैं. यही नहीं उन्होंने यह भी बताया कि इन तीनों जिलों में अबतक कई साइबर अपराधी ठगी के पैसे और सामनों के साथ पकड़े जा चुके हैं. अबतक पकड़ गये साइबर अपराधियों की संख्या 217 के करीब है.

साइबर अपराधों के संबंध में अब तक 250 से अधिक ऑनलाइन रिक्वेस्ट आये जिन पर हुई कार्रवाई

उपमहानिरीक्षक अखिलेश कुमार झा ने कहा कि इंटर स्टेट ऑनलाइन इन्वेस्टिगेशन को-ऑपरेशन से साइबर अपराध कम करने में काफी आसानी हुई है. विभिन्न राज्यों से संवाद स्थापित कर अनुसंधान को लेकर संपर्क किया जा रहा है. लोग भी जागरूक हुए हैं, जिससे ठगी के मामलों में तुरंत कार्रवाई संभव हुई है. साइबर अपराधों के संबंध में अब तक 250 से अधिक ऑनलाइन रिक्वेस्ट आये हैं जिन पर कार्रवाई हुई है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Special Category
City List of Jharkhand
loading...
Loading...

NEWSWING VIDEO PLAYLIST (YOUTUBE VIDEO CHANNEL)