Skip to content Skip to navigation

संयुक्त राष्ट्र सुधारों में स्थायी और अस्थायी सदस्यों के विस्तार को शामिल किया जाना चाहिए: भारत

News Wing

New York, 19 September: भारत ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के संयुक्त राष्ट्र में सुधार के प्रयासों को अपना समर्थन देते हुए आज कहा कि बदलते समय के साथ तालमेल बनाये रखने के लिए इस विश्व निकाय में स्थायी और अस्थायी सदस्यों के विस्तार को शामिल किया जाना चाहिए.

ट्रंप ने संयुक्त राष्ट्र सुधार पर कल विचार विमर्श के दौरान कहा कि उन्होंने हमेशा इस संस्था की व्यापक संभावना को देखा है लेकिन साथ ही यह भी कहा कि नौकरशाही संभावनाओं को वास्तविकता में बदलने से रोक रही है.

एक समय संयुक्त राष्ट्र के कड़े आलोचक रहे ट्रंप ने इस वैश्विक संस्था में सुधारों का आह्वान किया और इस विचार को भारत लम्बे समय से जाहिर करता रहा है.

तालमेल बैठाने के लिए सुधार की जरुरत

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि हमने कहा है कि विश्व संस्था में बदलते समय के साथ तालमेल बैठाने के लिए सुधार किये जाने चाहिए और इसमें स्थायी तथा अस्थायी सदस्यों का विस्तार भी शामिल है. उन्होंने कहा हमने लगातार यही रवैया बनाये रखा है. कुमार ट्रंप की अध्यक्षता में संयुक्त राष्ट्र सुधार पर हुई उच्चस्तरीय बैठक का जिक्र कर रहे थे. इस बैठक में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी शामिल हुईं.

सुधार के लिए लगभग 130 देशों का समर्थन

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव साराह सैंडर्स ने पत्रकारों को बताया कि ट्रंप ने संयुक्त राष्ट्र के लिए इस संस्था के महासचिव एंतोनियो गुतारेस के सुधार एजेंडे का समर्थन किया और एक बड़े सुधार के लिए लगभग 130 देशों के समर्थन से वह खुश नजर आये. गुतारेस ने अपने संबोधन में कहा कि हम अपनी शांति और सुरक्षा संरचना में सुधार कर रहे हैं, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि हम रोकथाम में मजबूत , मध्यस्थता में अधिक तेज और शांति कायम करने के अभियानों में अधिक प्रभावशाली हैं. उन्होंने कहा कि हम और अधिक क्षेत्र केन्द्रित बनने के लिए अपनी विकास प्रणाली में सुधार कर रहे हैं और न्यायोचित वैश्वीकरण में सहयोग के वास्ते सतत विकास के 2030 एजेंडे के माध्यम से देशों की समुचित मदद के लिए बेहतर समन्वित और जवाबदेह हो रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- सुषमा स्वराज ने अपने पांच देशों के समकक्षों के साथ की बैठक

इस दिन को महान बताते हुए संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी राजदूत निक्की हेली ने कहा कि यह प्रक्रिया की शुरुआत है. उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र में 193 सदस्य हैं. इसका मतलब है कि लगभग 70 सदस्य देशों ने संयुक्त राष्ट्र सुधार के लिए समर्थन के घोषणा पत्र पर अभी तक हस्ताक्षर नहीं किये हैं. इस सुधार एजेंडे पर पूर्ण सहमति से कम में हम संतुष्ट नहीं हैं. हेली ने कहा कि जब हम एक आवाज से बात करते हैं तो हम हमेशा मजबूत होते हैं और इस संस्था का भविष्य एक मील आगे चलने में है.

 

 

Share

Add new comment

UTTAR PRADESH

News WingGajipur, 21 October : उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में मोटरसाइकिल पर आए हमलावरों ने राष्ट्रीय स्...
News Wing Uttar Pradesh, 20 October: धनारी थानाक्षेत्र में पुलिस के साथ मुठभेड़ में एक इनामी बदमाश औ...
Website Designed Developed & Maintained by   © NEWSWING | Contact Us