Skip to content Skip to navigation

रांचीः भवन निर्माण के लिए नगर निगम को अनॉलाइन मिले 591 आवेदन,189 रिजेक्ट, 127 प्रक्रिया में जबकि 267 आवदेन हुए पास

NEWSWING

Ranchi, 12 September : रांची नगर निगम के द्वारा भवन निर्माण के लिए नक्शे का कार्य ऑफलाइन की तुलना में धीमा चल रहा है. मई 2016 से अबतक नगर निगम को नक्शे के लिए ऑनलाइन 591 आवेदन प्राप्त हुए. इसमें 267 को स्वीकृत किया गया, जबकि 127 आवेदन प्रक्रिया में है. वहीं निगम ने 198 फार्म को रिजेक्ट कर दिया है. इस तरह निगम के द्वारा नक्शे पास करने का प्रतिशत 45.18 ही है.

91 प्रतिशत रेसिडेंसियल फार्म हुए प्राप्त

रांची नगर निगम को एक वर्ष के अंतराल में कांस्ट्रक्शन कार्य के लिए 591 आवेदन में 91.8 प्रतिशत रेसिडेंसियल आवेदन आये. जबकि कॉर्मशियल से जुड़े 6.2 प्रतिशत नक्शे आये.

टाउन प्लानर के पास 55 आवेदन पड़े हैं पेंडिंग

निर्माण हेतु नक्शा पास होने के लिए रांची नगर निगम में कुल 127 आवेदन लंबित हैं. इसमें सबसे अधिक 55 आवेदन टाउन प्लानर के पास पेंडिंग हैं. 26 उप नगर आयुक्त और 22 फाइल कॉउंटर कर्लक के पास हैं.

जनवरी में सिर्फ एक जबकि अगस्त में सबसे अधिक 61 नक्शे हुए पास

एक साल में रांची नगर निगम के द्वारा मकान हेतु नक्शे पास करने की प्रक्रिया धीमी है. इस दौरान प्राप्त आवेदन का आधा काम भी नहीं हो पाया है. जनवरी में महज एक ही मकान का नक्शा पास हुआ. जबकि सबसे अधिक 61 नक्शे अगस्त में स्वीकृत किए गए. फरवरी 50, मार्च 15, अप्रैल 14, मई 20, जून 47, जुलाई 34, अगस्त 61 और सितंबर में अबतक 10 मकानों के नक्शे पास हो पाये हैं.

क्या है नक्शा पास होने की प्रक्रिया

आवेदक को सबसे पहले निगम के लाइसेंसी आर्किटेक इंजीनियर से मिलकर उन्हें मकान संबंधित सभी कागजात की फोटोकॉपी सौंपनी पड़ती है. इसके बाद इंजीनियर इसके लिए नगर निगम की साइट पर ऑनलाइन आवेदन करता है, जो लिगल सेल होते हुए जेइइ के पास पहुंचता है. यहां से सभी तरह का क्लियरेंस होने के बाद फाइल टाउन प्लानर  के पास जाती, जहां रेसिडेंशियल नक्शे के लिए अंतिम स्वीकृती मिलती है. जबकि कॉर्मशियल कंस्ट्रक्शन के लिए टाउन प्लानर फाइल को नगर आयुक्त के पास भेजता है.

क्यों हो रहा आवेदन रिजेक्ट

निगम अधिकारी का कहना है कि ऑनलाइन प्रक्रिया शुरु हो जाने से सबकुछ कंप्युटरकृत हो चुका है. आवेदन के दौरान किसी भी तरह की त्रुटि रहने पर आवेदन ऑटोमेटिक रिजेक्ट हो जाता है. उन्होंने बताया कि बहुत सारे आवेदन नक्शा पास करवाने संबंधित नहीं जमा करने पर ऐसा हो रहा है. अबतक 198 फार्म रिजेक्ट किये जा चुके हैं, जो फिर से इंजीनियर के पास भेजे जायेंगे. 

 

Slide
Share

Add new comment

Website Designed Developed & Maintained by   © NEWSWING | Contact Us