Skip to content Skip to navigation

Add new comment

अमित शाह के दौरे पर करोड़ों खर्च क्यों हो रहे हैं : आरपीएन सिंह

NEWSWING

Ranchi, 13 September :
 रघुवर सरकार के 1000 दिन पर कांग्रेस ने भाजपा और सरकार पर जोरदार हमला किया है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और झारखंड प्रभारी आरपीएन सिंह ने कहा है कि रघुवर सरकार के 1000 दिन झूठे वादे और जनता का त्रस्त करने वाला रहा. विकास के नाम पर झूठे सपने दिखाये गये. रोजगार देने के नाम पर बेरोजगारों को ठगा गया. उन्होंने कहा कि सरकार को बताना चाहिए कि बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह के आगमन को लेकर करोड़ों खर्च क्यों किया जा रहा है. वहीं, इलाज और मेडिकल फैसिलिटी के अभाव में जमशेदपुर और रांची के सबसे बड़े अस्पतालों में नौनिहाल दम तोड़ रहे हैं. आरपीएन सिंह ने कहा कि कम से कम इस पाप का श्रेय राज्य की रघुवर सरकार को नहीं लेना चाहिए. आरपीएन सिंह ने कहा कि एक तरफ जमशेदपुर और रांची के सरकारी अस्पतालों में बच्चों की मौत हो रही है वहीं दूसरी तरफ अमित शाह के आगमन को लेकर करोड़ों खर्च किये जा रहे है. 

1000 के नोट की तरह सरकार की उपलब्धियां

राजा साहब के नाम से चर्चित पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार के हजार दिन की उपलब्धियां 1000 के उस नोट की तरह है जो डीमोनेटाइजेशन के वक्त चलन से गायब हो गये हैं. अमित शाह के आगमन पर करोड़ों खर्च किया जा रहे हैं. अगर उसी पैसे को हॉस्पिटल और जनता की अन्य सुविधाओं पर खर्च किये जाते तो राज्य का भला होता. उन्होंने यह भी कहा कि सरकार के 1000 दिन पूरा होने की खुशी में प्रचार-प्रसार पर भी करोड़ों खर्च कर जनता के पैसे से झूठी ब्रांडिंग की जा रही है. सरकार द्वारा बेचे जाने वाली शराब को पीकर 19 लोग मारे गये. शराब की आमदनी में 30 से 40 फीसदी की कमी कैसे हो गयी. उन्होंने यह भी कहा कि शराब के ठेके में बीजेपी के नेता लगे हुए है. 

साजिश के तहत बंद किया गया चंद्रपुरा-धनबाद रेलवे लाईन

मनमोहन सरकार में गृह राज्य मंत्री रहे आरपीएन सिंह ने कहा कि चंद्रपुरा-धनबाद रेलवे लाईन को साजिश के तहत बंद करने का खुलासा किया है. उन्होंने आरोप लगाया है कि कोयला ढुलाई पहले रेल के माध्यम से होता था और उसका राजस्व सरकार को मिलता था. अभी कोयला ढुलाई का काम उड़िसा के व्यापारियों को दे दिया गया है.  इन्हीं निजी कंपनियों की मदद के भरोसे बीजेपी आने वाला चुनाव लड़ेगी. रेल लाईन बंद होने से वहां डेढ़ करोड़ लोग प्रभावित हो गये है. 250 लोगों ने पीएम को पत्र लिखकर इच्छा मृत्यु की मांग की है. उन्होंने कहा कि वे प्रभावित इलाके गये थे. सरकार उस इलाके में जमीन के भीतर आग लगने की बात कहकर रेलवे लाईन को बंद कर दिया है, लेकिन उन इलाकों में ऐसी कोई बात नहीं है. रेल की पटरियों पर घास उगा हुआ है. पूरा इलाका हरा भरा है. ऐसे में साजिश के तहत ही रेल लाईन को बंद कर दिया गया है. कांग्रेस प्रभारी ने कहा कि रेल मंत्री को इस लाईन को चलाने के लिए पत्र लिखेंगें. उन्होंने यह भी कहा कि कतरास के एक कॉलेज को भी खतरा बताकर बंद कर दिया गया है. वहां पढ़ने वाले 8000 बच्चों का भविष्य चौपट हो रहा है. लेकिन इसके लिए कोई वैकल्पिक व्यवस्था तक नहीं की गयी है. 

कहां गया 24 घंटे बिजली देने का वादा 

रघुवर दास ने राज्य को 24 घंटा बिजली देने का वादा किया था. लेकिन प्रदेश में बिजली का हाल बदहाल है. आज तक कोई भी पावर प्लांट नहीं लग पाया है. उन्होंने सवाल उठाया कि कहां गया लाखों करोड़ों का एमओयू. झारखंड प्रभारी ने कहा कि झारखंड के कोयले से पूरा देश रौशन होता है वहीं यहां ठीक ढंग से लोगों को बिजली भी नसीब नहीं होती है. 

नरेंद्र मोदी और नितीन गडकरी लोगों को भरमा रहे हैं

आरपीएन सिंह ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने अपने झारखंड दौरे में कहा था कि मूलवासी की जमीन के साथ छेड़छाड़ नहीं होने दिया जायेगा. लेकिन इस राज्य में कैसे सीएनटी और एसपीटी एक्ट में संशोधन कर जमीन लेने का कानून बना था. केंद्रीय सड़क और परिवहन मंत्री नितीन गडकरी ने भी रांची आगमन पर घोषणा की थी कि जमीन मिल गया तो एक लाख करोड़ सरकार की तिजोरी में आयेगा. श्री सिंह ने सवाल उठाया कि सड़क और ट्रांसपोर्ट से एक लाख करोड़ कैसे और कहां से आयेगा. बीजेपी के नेता झारखंड के लोगों को ठगने का काम कर रहे हैं. 

लॉ एंड आर्डर की बुरी हालात 

आरपीएन सिंह ने कहा कि प्रदेश में लॉ एंड आर्डर की हालत बद से बदतर है. महिलायें पूरी तरह से असुरक्षित है. लेकिन कोई देखने और सुनने वाला नहीं है. 

15 सितंबर को धरने पर बैठेगी कांग्रेस

बीजेपी के अच्छे दिन की खोज में कांग्रेस पार्टी निकलने वाली है. प्रदेश में बच्चों की मौत, जहरीली शराब से मौत के अलावा अच्छे दिन लाने का झूठा ख्वाब, विकास के नाम पर जनता को धोखा देने के सवाल पर पार्टी मोरहाबादी स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष एक दिवसीय धरने पर बैठेगी. इस धरने में पार्टी के सभी बड़े नेताओं के अलावा कार्यकर्ता भाग लेंगे. पार्टी ने 22 सितंबर को बीजेपी सरकार के 1000 दिन पूरे होने के दिन तथ्यों के साथ झूठे वादे और ईमानदारी वाली सरकार की बात का खुलासा करेगी.

 

Top Story
Share

EDUCATION / CAREER



सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने 47 पदों पर Air Wing Group A की भ...

Website Designed Developed & Maintained by   © NEWSWING | Contact Us