Skip to content Skip to navigation

Add new comment

क्यों प्रधानमंत्री के खिलाफ बोल रहे जदयू के यह नेता..., सुनिए इस वीडियो में

News Wing

Ranchi, 13 September: शरद यादव और अली अनवर के बाद एक और बड़े नेता का सुर पार्टी लाइन से अलग सुनाई दे रहा है. इनके मुताबिक हिंदुस्तान के वजीरे आजम जुल्मी लोगों के साथ हैं. वह देश की भाईचारगी और विदेशी परंपरा को धुमिल कर रहे हैं. यह नेता जदयू के पूर्व सांसद और बिहार की वर्तमान सरकार में एमएलसी हैं. नाम है गुलाम रसुल बलियावी. ये प्रधानमंत्री के खिलाफ क्यों बोल रहे हैं...,सुनिए इस वीडियो में.

 

बर्मा में मुस्लिमों का कत्ल हो रहा है, लेकिन भारत के प्रधानमंत्री मौन!

इदारे शरीया के राष्ट्रीय अध्यक्ष गुलाम रसुल बलियावी ने कहा कि बर्मा में मुस्लिमों का कत्ल हो रहा है, लेकिन भारत के प्रधानमंत्री मौन हैं. पूरी दुनिया रोहिग्या मुस्लिमों के कत्ल की निंदा कर रही. लेकिन हमारे वजीरे आजम जुल्मी लोगों के साथ खड़े हैं.

मजलुमों के समर्थन में खड़ा होना देश की आदत फिर आज क्यों चुप हैं लोग ?

उन्होंने न्यूज विंग से बातचीत करते हुए कहा कि मजलुमों के साथ खड़े रहने और उन्हें शरण देने की हमारे देश की परंपरा रही है. रोहिंग्या शरणार्थियों को भारत से निकाला जा रहा है. उन्होंने केंद्र सरकार पर इशारा करते हुए कहा कि मुठ्ठी भर लोग ही इस निर्मम हत्या पर खमोश हैं. इनसे देश परंपरा या डीएनए नहीं बदलने वाला है. मजुलमों के समर्थन में खड़ा होना देश की विदेश नीति और हिंदुस्तान की आदत रही है.

बर्मा के कार्यों की निंदा न करना गलत

बर्मा में जो कुछ हो रहा वे एकतऱफा हो रहा. इसकी निंदा न करना विदेश नीति को धुमिल करता है. बलियावी ने कहा यह भारत की पहचान के लिए कलंक है. इसकी निंदा और मदद के लिए भारत को आगे आना चाहिए.

 

Top Story
Share

EDUCATION / CAREER



सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने 47 पदों पर Air Wing Group A की भ...

Website Designed Developed & Maintained by   © NEWSWING | Contact Us