Skip to content Skip to navigation

Add new comment

संथाली साहित्‍यकार भोगला को साहित्‍य अकादमी पुरस्‍कार

दिल्‍ली: झारखंड के संथाली साहित्यकार भोगला सोरेन को उनकी कृति ‘राही रावा काना’ (डोली डोल रहा है.) के लिए 2010 का साहित्य अकादमी पुरस्कार दिया जाएगा. उनके अलावा हिंदी के प्रसिद्ध कथाकार उदय प्रकाश, उर्दू के जाने-माने शायर शीन काफ निजाम, पूर्व केंद्रीय मंत्रीएमपी वीरेंद्र कुमार सहित 21 लेखकों को भी इस पुरस्कार के लिए चुना गया है.

यह पुरस्कार अगले वर्ष 15 फरवरी को ‘साहित्योत्सव’ समारोह में दिया जाएगा. पुरस्कार में एक लाख रुपए की सम्मान निधि, ताम्रपत्र और प्रशस्तिपत्र दिया जाएगा.

भोगला की कृति राही रावा काना एक नाटक है, जिसे 2008 में प्रकाशित किया गया था. झारखंड स्थित पोटका प्रखंड खरबंध (हलुदबनी) गांव के निवासी भोगला सोरेन अभी बीएसएनएल में एसडीई हैं.

Share

UTTAR PRADESH

News WingGajipur, 21 October : उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में मोटरसाइकिल पर आए हमलावरों ने राष्ट्रीय स्...
News Wing Uttar Pradesh, 20 October: धनारी थानाक्षेत्र में पुलिस के साथ मुठभेड़ में एक इनामी बदमाश औ...
Website Designed Developed & Maintained by   © NEWSWING | Contact Us