Skip to content Skip to navigation

BCCI से सात करोड़ डॉलर का मुआवजा चाहता है पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड

News Wing

Karachi, 01 December: पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने आज बीसीसीआई के खिलाफ औपचारिक कानूनी कार्रवाई की शुरूआत की और द्विपक्षीय क्रिकेट श्रृंखला करार का सम्मान नहीं करने के लिये सात करोड़ मुआवजे का दावा किया.

यह भी पढ़ें: मुशर्रफ ने भारत के खिलाफ उगला जहर, कहा- मैं हाफिज सईद और लश्कर-ए-तैयबा का सबसे बड़ा समर्थक

भारतीय बोर्ड ने नहीं दिया जवाब

पीसीबी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के पास नोटिस भेजा जिसमें विश्व संस्था की विवाद निवारण समिति से आग्रह किया गया है कि वह भारत और पाकिस्तान के बीच समझौता पत्र पर हुए हस्ताक्षर के अनुरूप 2014 और 2015 की दो श्रृंखलाएं नहीं खेलने का मसला भारतीय क्रिकेट बोर्ड के सामने उठाये. पीसीबी के एक शीर्ष अधिकारी ने आज पीटीआई से कहा, ‘‘हम चाहते हैं कि आईसीसी समिति अब मुआवजे के हमारे दावे पर मध्यस्थता के लिये सभी तरह की कानूनी प्रक्रिया शुरू करे. ’’ पीसीबी ने इस साल मई में इस पर कार्रवाई शुरू की थी जब उसने बीसीसीआई को नोटिस भेजा था. भारतीय बोर्ड ने हालांकि इसका जवाब नहीं दिया था.

आईसीसी को पीसीबी के वकील ने भेजा नोटिस

अधिकारी ने कहा, ‘‘बीसीसीआई ने कोई जवाब नहीं दिया और इसलिए हमने अपने कानूनी सलाहकार से परामर्श करके आईसीसी समिति के पास दावा पेश किया. ’’ आईसीसी विवाद निवारण समिति के अध्यक्ष माइकल बेलोफ क्यूसी हैं तथा इसमें आचार आयोग के प्रतिनिधि माइक हेरोन क्यूसी और न्यायमूर्ति विनस्टन एंडरसन भी शामिल हैं. आईसीसी प्रवक्ता ने कहा, ‘‘आईसीसी को पीसीबी के वकील से नोटिस मिला है जिसे अगले सप्ताह विवाद निवारण समिति के पास भेजा जाएगा. ’’

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Lead
Share

Add new comment

loading...