Skip to content Skip to navigation

न्यूज विंग के जागरूक पाठक अपनी समस्या, अपने आस-पास हो रही अनियमितता की तस्वीर या कोई अन्य खबर फोटो के साथ वाहट्सएप नंबर - 8709221039 पर भेजे. हम उसे यहां प्रकाशित करेंगे.

गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में इस महीने हुई 290 बच्चों की मौत

News Wing Gorakhpur, 30 August: गोरखपुर स्थित बाबा राघवदास मेडिकल कालेज में इस महीने अब तक 290 बच्चों की मौत हो चुकी है. आधिकारिक सूत्रों के अनुसार पिछले रविवार और सोमवार को नवजात सघन चिकित्सा कक्ष(एनआईसीयू) में 26 और इंसेफेलाइटिस वार्ड में 11 समेत कुल 37 बच्चों की मृत्यु हुई है.

मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर पी. के. सिंह ने बताया कि इस वर्ष अब तक इंसेफेलाइटिस, एनआईसीयू तथा सामान्य चिल्ड्रेन वार्ड में कुल 1250 बच्चों की मौत हो चुकी है. इस माह 28 अगस्त तक एनआईसीयू में 213 और इंसेफेलाइटिस वार्ड में 77 समेत कुल 290 बच्चे मरे हैं.

इसे भी पढ़ें- बच्चों का क्या कसूर, रिम्स में 28 दिनों में हुई 133 बच्चों की मौत

उनका कहना है कि एनआईसीयू में ज्यादा गंभीर हालत वाले बच्चे, जिनमें समय से पहले जन्मे, कम वजन वाले, पीलिया, निमोनिया और संक्रामक बीमारियों से ग्रस्त बच्चे इलाज के लिए आते हैं, जबकि इंसेफलाइटिस से पीड़ित बच्चे भी ऐन वक्त पर इसी अस्पताल में गंभीर स्थिति में पहुंचते हैं.

उन्होंने कहा कि अगर बच्चे समय से इलाज के लिए आयें तो बड़ी संख्या में नवजात बच्चों की मौत रोकी जा सकती है.

अपर स्वास्थ्य निदेशक कार्यालय से प्राप्त आंकड़े बताते हैं इस वर्ष जनवरी में एनआईसीयू में 143 और इंसेफेलाइटिस वार्ड में नौ बच्चों की मृत्यु हुई. इसी प्रकार फरवरी में क्रमशः 117 तथा पांच, मार्च में 141 तथा 18, अप्रैल में 114 तथा नौ, मई में 127 तथा 12, जून में 125 तथा 12, जुलाई में 95 एवं 33 और अगस्त माह में 28 तारीख तक 213 तथा 77 बच्चों की मौत हुई है.

Top Story
Share
loading...