QR Code क्या है और ये कैसे काम करता है ?

Submitted by NEWSWING on Mon, 02/05/2018 - 13:42

Prem Anand

क्या आपको पता है QR Code क्या है और ये कैसे काम करता है ? मुझे लगता है की आप सभी ने कभी कभी QR codes को कहीं नहीं जरुर देखा होगा. जैसे कि आपके आधार कार्ड मे छोटे square shaped boxes जिसमें कि कुछ अजीब सा pattern बना होता है. आपके मन में भी ये जरुर आया होगा की आखिर ये है क्या और इसे क्यूं इस्तेमाल किया जाता है. इन्हें आप लोगों ने Advertisement, Billboards या किसी Products के ऊपर जरुर देखा होगा. लेकिन शायद ही किसी को इसे Scan करते हुए भी देखा होगा.

इस code के पीछे कुछ TEXT या URL embedded होता है जिसे की हम यदि अपने Smartphones से स्कैन करें तो हमें मालूम चलेगा अन्यथा ये छुपा रहता है. जैसे ही हम उस code को scan करते हैं तो वो हमें किसी एक website के URL में redirect कर देती है. इसी कारण ही उसे बनाया गया है. वैसे तो बहुत से Internet schemes ऐसे आये और गये . लेकिन कोई चीज़ जो सालों से चल रही है वो है यह QR code या Quick Response Code. तो आज हम इस ये जानेगे की आखिर ये QR Code क्या होता है और ये कैसे काम करता है. इसी के बारे में आज हम पूरी details में जानेंगे.

QR Code क्या है

QR Code का full form है “Quick Response code”. ये दिखने में Square Barcode के तरह ही हैं जिसे सबसे पहले Japan में develop किया गया था. ये दिखने में traditional UPC barcodes से बिलकुल है जो की horizontal lines की तरह हैं. लेकिन ये ज्यादा attractive हैं और इसमें ज्यादा information भी store किया जा सकता है. इसके साथ साथ इस बड़ी आसानी से capture किया जा सकता है. इसकी दूसरी परिभाषा दी जाये तो ये Machine Readable labels होते हैं जिसे computer  किसी text को समझने के मुकाबले बड़ी आसानी से समझ सकता है.

Also Read This:- बिना मिट्टी के पौधे उगाने की तकनीक (हाइड्रोपोनिक्स)

QR codes का इस्तेमाल हर जगह होता है ,जैसे की किसी Product को ट्रैक करने में या उसे identify करने में. यूं कहें तो ये typical barcode का upgraded version है. ये अपने आपको किस ऐसी technology में कैद नहीं रख लिया है की इसे केवल warehouse में product को track करने में ही इस्तमाल कर सकें. बल्कि इसका इस्तमाल काफी बढ़ गया है जैसे आजकल इसे हम Advertisement, billboard और business window में भी देख सकते हैं. यहाँ तक की इसका इस्तमाल कुछ websites भी कर रहे हैं.

किसने QR Code का आविष्कार किया?

Denso-Wave जो की एक subsidiary company है Toyota Group के उन्होंने ही सबसे पहले QR Code का आविष्कार किया सन 1994 में. Originally इसे डिजाईन किया गया था उस company के विभिन्न पार्ट्स को track करने के लिए, लेकिन समय के साथ साथ इसका इस्तमाल भी काफी बढ़ गया कारण इसे commercialize करना पड़ा.

ये इतना important क्यूं है

Also Read This:- बिजली नहीं, रौशनी पैदा करता है यह पौधा

आपको थोडा बहुत idea तो हो गया होगा के QR Code क्या है . अगर आपने पहले कभी QR Code के बारे में नहीं सुना तब शायद आप अपना सर पे ज्यादा दवाब दे रहे होंगे. जो लोग Internet से पहले से जुड चुके हैं उन्हें शायद इनके बारे में पहले से पता हो की ये Sqare Shaped Barcode क्या है. ये दिखने में भले ही थोडा odd लग रहा हो लेकिन ये इसके बारे में छोटे Business Owner और enterprenure को जरुर पता होना चाहिए. इसे हम क्यूआर कोड का extention भी कह सकते हैं जिसे mid 1970 से इस्तमाल में लाया जा रहा है. पहले इसे Supermarket के grocerries में इस्तमाल किया जाता था चीज़ों तो track करने के लिए. लेकिन हम इसका इस्तमाल सभी बड़े और छोटे company अपने sales और productivity को बढ़ाने के लिए करते हैं.

हमारे जैसे consumer की बात करें तो QR Codes की मदद से हम बड़ी आसानी से अपने SmartPhones को इस्तेमाल कर कुछ action जल्दी से कर सकते हैं. NFC (Near Field Communication) की तरह इसमें कोई Fancy electronic नहीं लगी है या इसमें कोई special technology का इस्तमाल भी नहीं हो रहा है. ये तो बस एक grid हैं white और black का जिसे किसी paper में print किया गया होता है और इसे बड़ी आसानी से phone की कैमरा में कैद किया जा सकता है.

QR Code को scanner app की मदद से पहले capture किया जाता है, फिर वो app उस कोड को किसी valuable information में बदल देता है. जिसे की हम समझ सकते हैं. उदाहर के तोर पे अगर किस advertising board में आपने कोई क्यूआर कोड देखा और उसे आपने स्कैन कर लिए तब वो आपको किसी website में ले गया, इसका मतलब है की उस QR Code में किस website का URL embeded था. इसी तरह ही काम करता है QR Code.

QR Code और 1D UPC Barcode में क्या अंतर है

वैसे देखा जाये तो इनकी apperance में भी काफी फरक है. एक दिखने में खाली verical lines तो दूसरा किसी Squared box की तरह. अगर हम scanning की बात करें तो QR Code को किसी भी direction से स्कैन कर सकते हैं (vertically और horizontally). लेकिन Barcode को हम एक ही direction से स्कैन कर सकते है.

1D Barcode(UPC) में 30 numbers तक store हो सकता है लेकिन क्यूआर कोड में हम 7089 numbers तक store कर सकते हैं. इसी massive storage capacity के कारण ही इसमें videos और बड़े Files को बड़ी आसानी से store किया जा सकता है. जिसे बाद में Facebook और Twitter जैसे Social Networking Sites में इस्तमाल किया जाता है.

Smartphone से QR Code कैसे Scan करे

यदि आपके पास कोई SmartPhone है भले ही वो iPhone, Android या Blackberry तो आप भी इसका इस्तमाल करके कोई QR Code scan कर सकते हो. इसके लिए बस आपको कोई Barcode Scanner App download करना पड़ेगा जैसे Red laser, Barcode Scanner, QR Scanner जिनकी मदद से आप कोई भी QR Code बड़ी आसानी से decode कर सकते हैं. ये सारे App अक्सर Free होते हैं. बस आपको इसे install करके अपने फ़ोन के camera से उस code को scan करना होता है और वो automatically उस कोड को decode कर लेता है.

QR Code में क्या Store हो सकता है?

इसे बड़ी आसान सी भाषा में बोलें तो QR Code ‘image-based hypertext link’ जिसका इस्तमाल हम offline mode में भी कर सकते हैं. इसमें हम कोई भी URL को encode कर सकते हैं जिससे की अगर कोई QR Code को Scan करे तो वो website आराम से खुल सकता है. उदहारण के तोर पे अगर आप चाहते हैं की कोई आपके facebook page को like करे तब आप अपने facebook page का URL उस QR कोड में दे सकते है जिससे की कोई अगर उसे scan करना चाहे तो वो redirect होकर आपके Facebook पेज में ही जायेगा. वैसे की अगर आप कोई video को वायरल करना चाहते हैं तो उसकी URL को उस QR code में store कर दो. इसका इस्तमाल असीमित है. वैसे ही आप किसी के मोबाइल number के साथ भी कर सकते हैं.

QR Code के Business में क्या फायदे हैं

किसी भी conventional Barcode के मुकाबले ये बहुत ही ज्यादा फ़ायदे हैं. इसका सबसे महत्वपूर्ण फ़ायदा यह है की इसमें हम 100 गुना ज्यादा information store कर सकता हैं किसी Barcode के मुकाबले. क्यूआर कोड को हम किसी भी direction से scan कर सकते हैं जो की barcode में possible नहीं है. इसकी next advantage यह है की ये marketing point of view से काफी रोचक है जिससे की ये Costumers को बड़ी आसानी से engage कर सकता है. जिससे कंपनी को बहुत ही कम investment में अच्छी marketting हो जाती है.

एक QR Code reader को बड़ी आसानी से download कर इस्तमाल किया जा सकता है जो की एकदम मुफ्त है. वैसे ही कोई भी customer किसी business में बड़ी आसानी से सिर्फ अपने SmartPhone की मदद से enter कर सकता है. ऐसी बहुत सी Websites हैं जो की मुफ्त में QR Code generate करने का अवसर देती है. इसलिए company अपने जरुरत के अनुसार ही अपने option choose करती हैं.

QR Code के Applications

चलिए अब देखते हैं की हम कहाँ कहाँ QR Codes का इस्तमाल Business related scenarios में कर सकते हैं.

  • QR Code को हम अपने किसी specific website के URL में redirect कर सकते हैं.
  • इसका इस्तमाल हम messages को share करने में भी कर सकते हैं.
  • इसका इस्तमाल हम diccount code के तोर पे भी कर सकते हैं.
  • इसे हम business card के तोर पे इस्तमाल कर सकते हैं जिसमे की हमारी साडी जानकारी पहले से embedded होगी.
  • इसे हम हमरे नए location को Google Maps location के साथ link भी कर सकते हैं.
  • इससे हम कोइ YouTube video or channel को लिंक भी करवा सकते हैं जिससे की उसके viral होने के chances बढ़ जाते हैं. और इसमें हम अपने नए products को Promote भी कर सकते हैं.
  • इसे आप अपने नए App के लिंक को जोड़ भी सकते हैं ताकि लोग आपके App का इस्तमाल कर सके.
  • इसमें किस वस्तु की कीमत की जानकरी भी Attach कर सकते हैं ताकि कोई इसे स्कैन कर वो information प्राप्त कर सकता है.
  • इसे आप अपने Website के Contact Page में भी डाल सकते हैं जिससे की कोई इसे scan कर के आपकी website की पूरी जानकारी अपने phone में save कर सकता है.
  • अभी तक तो आप समझ ही चुके होंगे की QR Code की मदद से हम कई काम कर सकते हैं. बड़ी आसानी से बहुत सरे customers को engage कर सकते हैं.
  • इसे हम मोबाइल में log in करने के लिए भी इस्तमाल कर सकते हैं जिससे हमें बार बार password enter करने की भी जरुरत नहीं है. ये बहुत ही low Tech solution है जिसे की किसी भी device में इस्तमाल किया जा सकता है (बस camera होना चाहिए). ये इसके पूर्वज Barcode से लाखों गुना बेहतर हैं इस्तमाल के लिए.

Disadvantage of QR Code

इतने सब advantages होने के वाबजूद इसके कुछ disadvantage भी हैं जैसे की कुछ security problem की issue. इसे बड़ी आसानी से बदला जा सकता है या यूँ कहे तो इसमें dangerous चीज़ें डाली जा सकती है. उदहारण के तोर पे यदि कोई attacker चाहे तो कोई ऐसी QR Code पर अपने किसी malicious URL को डाल सकता है और उसे किसी ऐसी जगह fix कर देगा जहाँ की बहुत ही ज्यादा traffic आती जाती हों. इससे वो किसी के भी Mobile में घुस सकता है. जिससे उस user को काफी खतरा है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

loading...
Loading...

NEWSWING VIDEO PLAYLIST (YOUTUBE VIDEO CHANNEL)