चार जजों के प्रेस कांफ्रेंस के दूसरे दिन चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा से मिलने पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी के प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्र

Submitted by NEWSWING on Sat, 01/13/2018 - 12:47

New Delhi : सुप्रीम कोर्ट के चार जजों की ओर शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस किया गया था. इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ थी की जजों के द्वारा प्रेस कॉन्फेंस किया गया था और आंतरिक विवाद को मीडिया के सामने लाने का फैसला लिया था. इस प्रस कॉन्फेंस में चारों जजों ने चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा को घेरे में लिया था. अब इस कॉन्फेंस के किये जाने के बाद सुलह की कोशिशें तेज होती हुयी नजर आ रही है. ऐसा इसलिये क्योंकि आज शनिवार सुबह पीएम नरेंद्र मोदी के प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्र की चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया दीपक मिश्रा से मुलाकात की खबरें हैं. क्योंकि  नृपेंद्र मिश्र को चीफ जस्टिस के आवास के बाहर देखा गया. हालांकि सूत्रों का यह भी कहना है कि नृपेंद्र मिश्र चीफ जस्टिस से मिलाकात के लिये गये तो जरूर थे लेकिन उनसे उनकी मुलाकात हो नहीं पायी. वहीं, अपने घर से निकलते हुए अटर्नी जनरल के.के. वेणुगोपाल ने कहा कि जल्द ही पूरे मामले की सही ढंग से निपट जाने की उम्मीद है. उनकी इस बात से यह भी संकेत मिलता है कि सरकार इस विवाद को निपटाने में सक्रिय भूमिका अदा कर रही है.

इसे भी पढ़ें-पहली बार CJI दीपक मिश्रा के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट के चार जजों ने किया प्रेस कॉन्फ्रेंस

आज शाम पांच बजे बार एसोसिएशन ने बुलायी मीटिंग

गौरतलब है कि जजों के द्वारा प्रेस कॉन्फेंस किये जाने के बाद अटर्नी जनरल और सीजेआई ने पूरे विवाद पर मीटिंग कर चर्चा की थी. इधर इस पूरे विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट की बार असोसिएशन ने भी शनिवार शाम पांच बजे मीटिंग बुलायी है. इस बैठक के बाद असोसिएशन की ओर से चार जजों के बयान के चलते पैदा हुए हालात के बारे में बात करने के लिए प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की जायेगी.

इसे भी पढ़ें- संक्षेप में जानें क्या लिखा है पत्र में चीफ जस्टिस को चार वरिष्ठ जजों ने

प्रेस कॉन्फेंस में जजों को ठोस बातें करनी चाहिये थी : प्रेजिडेंट (बार असोसिएशन)

इस पूरे मामले को लेकर बार असोसिएशन के प्रेजिडेंट विकास सिंह ने कहा कि यदि वह मीडिया से बात करने के लिये आये ही थे तो उन्हें कुछ ठोस बातें कहनी चाहिये थीं. सिर्फ लोगों के दिमाग में संदेह पैदा करना न्यायपालिका के हित में नहीं है. उन्होंने कहा कि जजों ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस की योजना सही से तैयार नहीं की थी. यहां तक कि उन्होंने प्रेस कॉन्फेंस के वक्त जस्टिस लोया के बारे में भी कोई बात नहीं की.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Main Top Slide
Top Story
loading...
Loading...