तीन महीने से सैलरी में हो रही देरी, क्या हड़ताल पर जाएंगे एयर इंडिया के कर्मचारी ?

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 06/09/2018 - 10:38

Mumbai: समय पर सैलरी नहीं मिलने से परेशान एयर इंडिया के कर्मचारियों ने हड़ताल पर जाने की धमकी दी है. कंपनी की रीजनल पायलट यूनिट ने धमकी दी है कि अगर सैलरी में इसी तरह से देरी होती रही तो वह मैनेजमेंट के साथ सहयोग बंद कर देगी. बता दें कि तीन महीनों से एयरलाइन ने कंपनी के 11 हजार कर्मचारियों की सैलरी देने में देरी की है. सेंट्रल एग्जिक्यूटि कमिटी ऑफ इंडियन कमर्शियल पायलट्स असोसिएशन (आईसीपीए) को लिखे लेटर में रीजनल एग्जिक्यूटिव कमिटी (आरईसी) ने कहा कि जब तक समय पर सैलर मिलनी नहीं शुरू हो जाती है, तब तक उसकी तरफ से असहयोग जारी रहेगा. 

 इसे भी पढ़ेंःकाले धन पर हमलावर मेादी सरकार, दूसरे चरण में 2.25 लाख शेल कंपनियों पर लगेगा ताला

उल्लेखनीय है कि यूनियन ने यह धमकी ऐसे वक्त में दी है जब एयर इंडिया वर्किंग कैपिटल के लिए 1 हजार करोड रुपये के शॉर्ट टर्म लोन जुटाने की कोशिश कर रही है. सरकारी विमान कंपनी को हाल में विनिवेश कार्यक्रम के तहत एक भी बोली नहीं मिली थी. इधर, आईसीपीए की लेटर में लिखा है कि दिल्ली में आरईसी की 6 जून को मीटिंग हुई थी. इसमें फैसला किया गया कि समय पर सैलरी नहीं मिलना मानसिक प्रताड़ना की तरह है. जिसफ्लाइट की सेफ्टी खतरे में पड़ती है.  पत्र में ये लिखा गया है कि सैलरी में देरी से कर्मचारी की रोजमर्रा की जिंदगी पर बुरा असर पड़ रहा है. ऐसे में जब तक सैलरी पेमेंट को रेगुलर नहीं किया जाता, तब तक आरईसी ने मैनेजमेंट के साथ सहयोग बंद करने का फैसला किया है. 

15 जून तक मिलेगी मई की सैलेरी

बता दें कि नकदी समस्या से जूझ रही एयर इंडिया के कर्मचारियों को मई महीने के वेतन के लिये 15 जून तक इंतजार करना होगा. एयर इंडिया ने आधिकारिक सूचना में कहा कि मई महीने का वेतन देने में देरी हुई है और भुगतान 15 जून तक किये जाने की संभावना है. यह लगातार तीसरा महीना है जब एयरलाइन ने वेतन भुगतान में देरी की है. इससे पहले मार्च और अप्रैल महीने का वेतन भी समय पर नहीं दिया गया था. एयर इंडिया के कर्मचारियों को आम तौर पर हर महीने की 30 और 31 तारीख को वेतन मिल जाता है. 
इसे भी पढ़ेंःकरों में कटौती से पेट्रोल और डीजल के दाम कम होना संभव  : एसोचैम

उल्लेखनीय है कि एयर इंडिया ने पांच जून को सरकार की गारंटी के साथ 1,000 करोड़ रुपये के अल्पकालीन कर्ज के लिये पेशकश आमंत्रित किया है. यह कर्ज तत्काल कार्यशील पूंजी जरूरतों को पूरा करने के लिये लिया जा रहा है. बोली दस्तावेज के अनुसार कर्ज जून में एक या अधिक किस्तों में लिया जाएगा. एयरलाइन ने बैंकों से 13 जून तक वित्तीय बोली जमा करने को कहा है.  वही, एयर इंडिया ने स्थिति से निपटने के लिये सरकार से 2,000 करोड़ रुपये के अतिरिक्त वित्त पोषण की मांग की है. कंपनी के एक अधिकारी ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि एयरलाइन को अगले महीने यह राशि मिलने की उम्मीद है. 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

top story (position)
na
7ocean

 

international public school

 

TOP STORY

“महिला सिपाही पिंकी का यौन शोषण करने वाले आरोपी को एसपी जया रॉय ने बचाया, बर्खास्त करें”

यूपीः भीषण सड़क हादसे में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत

सरकार जमीन अधिग्रहण करेगी और व्यापक जनहित नाम पर जमीन का उपयोग पूंजीपति करेगें : रश्मि कात्यायन

16 अधिकारियों का तबादला, अनिश गुप्ता बने रांची के एसएसपी, कुलदीप द्विवेदी गए चाईबासा

नोटबंदी के दौरान अमित शाह के बैंक ने देश भर के तमाम जिला सहकारी बैंक के मुकाबले सबसे ज्यादा प्रतिबंधित नोट एकत्र किए: आरटीआई जवाब

एसपी जया राय ने रंजीत मंडल से कहा था – तुम्हें बच्चे की कसम, बदल दो बयान, कह दो महिला सिपाही पिंकी है चोर

बीजेपी पर बरसे यशवंतः कश्मीर मुद्दे से सांप्रदायिकता फैलायेगी भाजपा, वोटों का होगा धुव्रीकरण

अमरनाथ यात्रा पर फिदायीन हमले का खतरा, NSG कमांडो होंगे तैनात

डीबीटी की सोशल ऑडिट रिपोर्ट जारी, नगड़ी में 38 में से 36 ग्राम सभाओं ने डीबीटी को नकारा

इंजीनियर साहब! बताइये शिवलिंग तोड़ रहा कांके डैम साइड की पक्की सड़क या आपके ‘पाप’ से फट रही है धरती

देशद्रोह के आरोप में जेल में बंद रामो बिरुवा की मौत