मच्छर की शिकायत करने पर इंडिगो क्रू मेंबर्स ने जबरन यात्री को प्लेन से उतारा, सुरेश प्रभु ने दिये जांच के आदेश

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 04/10/2018 - 16:25

 Lucknow :  इंडिगो के एक यात्री को विमान में मच्छर की शिकायत करना महंगा पड़ा गया. यात्री डॉ सौरभ राय को जबरन नीचे उतार दिया गया. डॉ सौरभ ने इसकी वीडियो बना कर सोशल मीडिया पर पोस्ट किया.  वे जाने-माने डॉक्टर हैं.  इस मामले में केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने खुद संज्ञान लेते हुए जांच बैठा दी है. इस निर्णय की जानकारी सुरेश प्रभु ने ट्विटर पर दी है. घटना के अनुसार इंडिगो की उड़ान संख्या 6541  सेामवार सुबह छह बजे लखनऊ से बेंगलुरू के लिए उड़ान भरने के लिए तैयार थी.  इसी बीच डॉ  सौरभ राय ने मच्छरों का प्रकोप होने की शिकायत की. वे अकेले नहीं थे, उनके साथ कुछ अन्य यात्रियों ने भी  मच्छरों की शिकायत की. लेकिन  विमान के क्रू सदस्यों ने तत्काल मच्छररोधी छिड़काव करने में असमर्थता जाहिर की  तो यात्री भड़क गये.

इसे भी पढ़ें: हेमंत का हमला : कहा- रघुवर दास सीएम नहीं, दिल्ली के लठैत और माफियाओं के संरक्षक हैं

मच्छर लखनऊ ही नहीं, हिंदुस्तान भर में हैं

डॉ सौरभ के अनुसार फ्लाइट में मच्छर काटने की शिकायत करने पर उन्हें कॉलर पकड़कर बाहर निकाल दिया. साथ ही एयर होस्टेस ने उन्हें धमकी देते हुए कहा कि मच्छर लखनऊ ही नहीं, हिंदुस्तान भर में हैं. अच्छा होगा देश छोड़कर चले जाओ. पीड़ित यात्री ने इसकी शिकायत एयरपोर्ट प्रशासन के साथ पुलिस से की है. अन्य यात्री भी यही शिकायत कर रहे थे, लेकिन विमानन कंपनी के क्रू सदस्यों ने डॉ सौरभ को निशाने पर ले लिया, क्योंकि उन्होंने विरोध की शुरुआत की. डॉ सौरभ ने कहा कि इसके बाद उन्हें  जबरन विमान से नीचे उतार दिया गया.  क्रू सदस्यों ने उन्हें देख लेने की भी धमकी दी गयी. 

इसे भी पढ़ें:  आरक्षण के खिलाफ भारत बंद, आरा में रोकी ट्रेन-एमपी के कई शहरों में धारा 144 लागू

डॉ सौरभ को दूसरे विमान से जाना पड़ा

इसके बाद वे दूसरी विमानन कंपनी का टिकट लेकर बेंगलरू गये. उधर इंडिगो ने इस मामले में सफाई दी है. उसके अनुसार डॉ सौरभ उसी समय मच्छररोधी छिड़काव करने की जिद कर रहे थे. यात्रियों से भरे विमान में मच्छर रोधी छिड़काव नहीं किया जा सकता, यह नियम के विरुद्ध है. उन्होंने डॉ सौरभ पर यह भी आरोप लगाया कि वे अन्य यात्रियों को भड़का रहे थे. साथ ही विमान को न उड़ने देने और हाईजैक जैसे खतरनाक शब्दों का प्रयोग कर रहे थेऐसे में मजबूरन उन्हें उतरने को कहा गया.  गौरतलब है कि सोशल मीडिया पर भी रोजाना यात्री लखनऊ एयरपोर्ट पर मच्छरों का प्रकोप होने की शिकायत कर रहे हैं.  विमान कंपनियों की ओर से भी एयरपोर्ट अथॉरिटी से सुबह-शाम मच्छर रोधी छिड़काव करने का अनुरोध किया गया है.  ट्विटर पर रोजाना औसतन पांच-छह यात्रियों के मच्छर संबंधी परेशानी वाले ट्वीट आ रहे हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Top Story
loading...
Loading...