जीत हार सब पार्टी जाने , मुझे आदेश मिला तो मैं उम्मीदवार बन गया : सोंथालिया

Publisher NEWSWING DatePublished Fri, 03/16/2018 - 18:34

Akshay Kumar Jha

Ranchi: राज्यसभा चुनाव को लेकर तरह-तरह  की बातों से चर्चाओं का बाजार गर्म है. एक तरफ बीजेपी पार्टी का कहना है कि उनके दोनों उम्मीदवारों की जीत निश्चित है, तो दूसरी तरफ विपक्षी पार्टी का कहना है कि बीजेपी हॉर्स नहीं बल्कि एलीफैंट ट्रेडिंग पर आमादा है. इस बीच कुछ विधायकों के नाम भी सामने आ रहे हैं, जिनके बारे में कहा जा रहा है कि वो क्रॉस वोटिंग कर सकते हैं. राज्यसभा की जो चुनावी स्क्रिप्ट है, जो जाहिर तौर पर कहा जा सकता है कि अगर बीजेपी को दोनों सीट चाहिये तो क्रॉस वोटिंग कराना ही होगा किसी भी सूरत पर. बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ताओं की माने तो विपक्ष के कई विधायक बीजेपी के संपर्क में हैं.

इसे भी पढ़ें - पाकुड़ मनरेगा घोटाला : जनसंवाद में शिकायत के बाद टूटी प्रशासन की कुंभकरण वाली नींद, एसडीएम जांच करने पोस्ट ऑफिस पहुंचे 

सोंथालिया जप रहे हैं पार्टी-पार्टी का राग

पहली बार राजनीति में हाथ आजमाने राज्यसभा के चुनावी जंग में उतरने वाले बीजेपी के दूसरे उम्मीदवार प्रदीप सोंथालिया पार्टी-पार्टी का राग जप रहे हैं. न्यूज विंग से खास बातचीत में उन्होंने कहा कि जीत या हार किसी बारे में उन्हें नहीं पता. वो नहीं जानते हैं कि उनकी जीत कैसे होगी. सारी जिम्मेदारी पार्टी की है. पार्टी ही रणनीति तय कर रही है. वो सिर्फ उम्मीदवारी का काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि वो पार्टी के एक कार्यकर्ता हैं, पार्टी ने उन्हें चुनाव में उम्मीदवार बनने को कहा तो उम्मीदवार बन गये.

इसे भी पढ़ें - सम्मान समारोह में फिसली पूर्व डीजीपी की जुबान, बोले: ‘निर्भया की मां की फिजिक देख पता चलता है, निर्भया कितनी सुंदर रही होगी’

निरसा विधायक को मैं नहीं जानता :  सोंथालिया

प्रदीप सोंथालिया का नाम भले ही राजनीति में लोग पहली बार सुन रहे हों. लेकिन धनबाद आस-पास रहने वाले इनके नाम से अच्छी तरह से वाकिफ हैं. वाटिका अपार्टमेंट (धैया, धनबाद), ओजोन प्लाजा (बैंक मोड़, धनबाद), ओजोन गैलेरिया (सरायढ़ेला, धनबाद) के अलावा कोयलांचल में जिस किसी के पास भी ट्रक है, वो सोंथालिया का नाम अच्छी तरह से जानता है, क्योंकि सोंथालिया परिवार से जुड़ा हुआ है श्री राम फाइनेंस. धनबाद जिले में छह विधानसभा क्षेत्र हैं. निरसा विधानसभा को छोड़ कर बाकी सभी विधानसभा क्षेत्र के विधायक एनडीए के हैं (टुंडी में आजसू के विधायक हैं). ऐसा माना जा रहा था कि निरसा विधायक अरूप चटर्जी जो मासस से विधायक हैं, उनका साथ सोंथालिया को मिल सकता है. लेकिन  न्यूज विंग को अरूप चटर्जी ने साफ किया है कि वो कांग्रेस उम्मीदवार धीरज साहू के साथ हैं. अरुप चटर्जी या दूसरे विधायकों के बारे में पूछने पर उन्होंने साफ लफ्जों में कहा कि वो किसी विधायक को नहीं जानते हैं.

इसे भी पढ़ें - नगर निकाय चुनाव : डीसी साहब ! आपके कैंपस में हो रहा है आदर्श आचार संहिता का उल्‍लंघन

क्रॉस वोटिंग नहीं बल्कि सरकार के विकास के एजेंडे पर मिलेगा वोट : प्रतुल

मामले पर प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा कि पार्टी क्रॉस वोटिंग पर बिलकुल विश्वास नहीं करती है. सरकार के विकास के एजेंडे पर पार्टी के विपक्ष के विधायक वोट करेंगे. पिछले चुनाव का अनुभव पार्टी के पास है. वहां भी बीजेपी की जीत विकास के एजेंडे पर ही हुई थी. इसी सोच के साथ बीजेपी ने राज्यसभा चुनाव में अपने दो उम्मीदवार उतारे हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Main Top Slide
City List of Jharkhand
loading...
Loading...