बाबूलाल के नेतृत्व में राज्यपाल से मिला विपक्ष का प्रतिनिधिमंडल, चीफ सेक्रेटरी और डीजीपी को बर्खास्त करने की मांग की

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 01/16/2018 - 20:06

Ranchi: बुधवार से राज्य विधानसभा का बजट सत्र शुरु होना है. सदन में सरकार को घेरने की विपक्ष ने पूरी तैयारी कर ली है. बजट स़त्र शुरु होने के पूर्व संध्या पर विपक्ष का एक प्रतिनिधि मंडल एकजुट होकर पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी के नेतृत्व में राज्यपाल से मिलने पहुंचा. प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल से मुख्य सचिव, डीजीपी और एडीजी स्पेशल ब्रांच को पदमुक्त करने की मांग की. राजभवन से निकलने के बाद झाविमो चीफ बाबूलाल मरांडी ने कहा कि सरकार जान बूझकर दोषियों को संरक्षण दे रही है. अधिकारी खुद को कानून से उपर समझ रहे हैं. राज्य के रक्षक ही भझक बन गए हैं, लोकतंत्र खतरे में है. सरकार जनहित के लिए काम नहीं कर रही है. प्रतिनिधिमंडल में कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम, सीपीआई नेता भुवनेश्वर मेहता, कांग्रेस नेता आभा सिन्हा, राजीव रंजन प्रसाद और झामुमो नेता योगेन्द्र महतो समेत कई नेता शामिल थे.

इसे भी पढ़ेंः भारतमाला प्रोजेक्‍ट के तहत बनेगा रांची-संबलपुर वाया खूंटी इकोनॉमिक कॉरिडोर

न्याय के लिए सदन से सड़क तक लड़ेंगेः कांग्रेस

आलमगीर आलम ने कहा कि सरकार के तीन बड़े अधिकारियों पर जांच के आदेश दिये हैं. किसी पर नोटिस हुआ है, तो किसी पर साक्ष्य छुपाने का आरोप है. ऐसे पदाधिकारियों को सरकार संरक्षण दे रही है. अगर ऐसे ही सरकार इन्हें संरक्षण देते रहेगी तो फिर यहां पर लोकतंत्र की हत्या हो रही है. कहा कि इन मुद्दों को लेकर सदन से सड़क तक न्याय के लिए लड़ाई लड़ेंगे. 

इसे भी पढ़ेंः रमेश सिंह मुंडा हत्याकांडः NIA ने बुंडू से किया दो लोगों को गिरफ्तार, कोर्ट ने भेजा 5 दिन के रिमांड पर

इस तरह से नहीं चलेगी सरकारः सीपीआई

सीपीआई नेता भुवनेश्वर मेहता ने कहा कि सवोच्च पद पर बैठे अधिकारी ही लोकतंत्र  का गला घोंटने  का काम कर रही हैं. इस तरह से सरकार नहीं चलेगी. इसको लेकर हमने राज्यपाल से मिलने आए हैं. उनसे कहा है कि सरकार  को चेताए. हमलोग सरकार की इस नीति के खिलाफ सदन से सड़क तक लड़ाई कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंः हाल-ए-रिम्स: दवा नहीं मिलने से हिमोफीलिया मरीज की मौत, गिड़गड़ाती रही मां, लेकिन प्रबंधन ने नहीं दिया फैक्टर 8

लोकतंत्र खतरे में हैः झामुमो

झामुमो नेता योगेन्द्र प्रसाद महतो ने कहा कि सदन को चलाना केवल विपक्ष की जिम्मेवारी नहीं है. सरकार हमारे सवालों का जवाब दे, जनता के सवालों का जवाब दे. सरकार जिस प्रकार काम कर रही है लोकतंत्र खतरे पर है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.