शारदा फाउंडेशन ने हिंदू नववर्ष के स्वागत में रातू रोड स्थित हनुमान मंदिर में जलाये दीप

Publisher NEWSWING DatePublished Sun, 03/18/2018 - 19:11

Ranchi : चैत्र शुक्ल प्रतिपदा को रविवार को हिंदू नववर्ष के रूप में धूमधाम मनाया जा रहा है. शारदा फाउंडेशन ने हिंदू नववर्ष के स्वागत में रातू रोड स्थित हनुमान मंदिर में दीप जलाये. भारतीय पंचांग में चैत्र शुक्ल प्रतिपदा को नए साल का आरंभ माना जाता है, जिसे हिंदू नववर्ष भी कहा जाता है. यह गणना विक्रम संवत के अनुसार होता है. शास्त्रों के मुताबिक भगवान ब्रह्मा ने चैत्र शुल्क प्रतिपदा को ही सृष्टि की रचना की थी और कलयुग का आरंभ भी इसी दिन हुआ था. इसलिए यह सृष्टि की रचना का उत्सव है. इस अवसर पर मुख्य रूप से राजीव रंजन , आशुतोष द्विवेदी, मनोज बनर्जी, अंजलि सिन्हा, मोहित, सूरज, प्रियांशु, कबीर,ऋषभ समेत अन्य उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें - गुमला : भाजपा प्रखंड अध्यक्ष विक्की साहू की हत्या, अपराधियों ने पहले मारी गोली, फिर भुजाली से काट डाला

इसे भी पढ़ें - पत्थलगड़ी अभियान का मास्टर माइंड विजय कुजूर अपने सहयोगी के साथ दिल्ली से गिरफ्तार

चैत माह में वृक्षों को मिलता है मधुरस

चैत्र ही एक ऐसा माह है, जिसमें वृक्ष तथा लताएं पल्लवित व पुष्पित होती हैं. इसी मास में उन्हें वास्तविक मधुरस पर्याप्त मात्रा में मिलता है. वैशाख मास, जिसे माधव कहा गया है, में मधुरस का परिणाम मात्र मिलता है. इसी कारण प्रथम श्रेय चैत्र को ही मिला और वर्षारंभ के लिए यही उचित समझा गया. जितने भी धर्म कार्य होते हैं, उनमें सूर्य के अलावा चंद्रमा का भी महत्वपूर्ण स्थान है. जीवन का जो मुख्य आधार अर्थात वनस्पतियां है, उन्हें सोम रस चंद्रमा ही प्रदान करता है, इसीलिए इसे औषधियों और वनस्पतियों का राजा कहा गया है. 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

City List of Jharkhand
loading...
Loading...