रिपोर्ट : रोजाना 6.25 लाख बच्चे भारत में सिगरेट पीते हैं 

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 03/17/2018 - 21:44

New delhi :  तंबाकू सेवन की लत बच्चों में लगातार बढ़ रही है. भारत में सरकार की तंबाकू उत्पादों पर बंदिश लगाने की कोशिशों के बावजूद ऐसा हो रहा है. ग्लोबल टोबैको एटलस की रिपोर्ट के अनुसार रोजाना 6.25 लाख बच्चे भारत में सिगरेट पीते हैं. इन बच्चों की उम्र 10-14 साल के बीच है. बता दें कि हर साल देश में 9,32,600 लोगों की जान तंबाकू की वजह से होने वाले रोगों की वजह से चली जाती है.

इसे भी पढ़ें - एसडीओ ने अवैध रूप से चल रहे बिरसा ब्लड बैंक को सील किया, आठ गिरफ्तार

इसे भी पढ़ें - स्कूलों के आसपास की तम्बाकू दूकानें हटाने व दीवार लेखन कराने का प्रशासन ने दिया आदेश

इसे भी पढ़ें - डोरंडा कॉलेज, लोरेटो कान्वेंट, जेवीएम श्यामली समेत पांच स्कूलों के आसपास बिक रहे तंबाकू उत्पाद,  प्रिंसिपलों ने भरा जुर्माना 

हर सप्ताह 17,887 लोगों की मौत तंबाकू से होती है

हर सप्ताह 17,887 लोगों की मौत तंबाकू के सेवन से होती है. यह डाटा अमेरिकन कैंसर सोसाइटी ने एकत्रित किया है. 10-14 साल के बीच धूम्रपान का सेवन करने वाले बच्चों में 429,500 लड़के और 195,500 लड़कियां शामिल हैं. आंकड़ों के अनुसार साल 2016 में 82.12 बिलियन सिगरेट की खपत हुई थी. मजेदार बात यह है कि साल 2016 में सिगरेट की बिक्री से कम्पनियों की 346 बिलियन डॉलर की कमाई हुई थी. जो कि भारत देश की जीडीपी के 15 प्रतिशत के बराबर है.

इसे भी पढ़ें - तंबाकू उत्पादों के पैकेट पर चित्रात्मक चेतावनी संबंधी याचिका पर सुनवायी करेगा कोर्ट

शैक्षणिक संस्थानों को तम्बाकू मुक्त क्षेत्र घोषित करने का निर्देश

झारखंड की राजधानी रांची में पिछले दिनों शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव अमरेंद्र प्रताप सिंह ने एक पत्र जारी कर सभी जिलों के उपायुक्तों एवं शिक्षा पदाधिकारियों को निर्देश दिया था कि वे अपने जिलों के सभी शैक्षणिक संस्थानों को तम्बाकू मुक्त क्षेत्र घोषित करें. साथ ही शैक्षणिक संस्थानों के 100 गज के दायरे से तम्बाकू उत्पाद बेचने वाली दुकानों को अविलम्ब हटाया जाये. उन्होंने सभी शैक्षणिक संस्थानों को इस आशय के सूचना बोर्ड का दिवार लेखन कराने का भी निर्देश दिया था. उन्होंने सभी शिक्षा पदाधिकारियों को उक्त आदेश का शत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित करवाते हुए कृत कार्रवाई करने का प्रतिवेदन भेजने का निर्देश दिया है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

loading...
Loading...